भिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में गणेश चतुर्थी एवं विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस अवसर पर स्नेह संपदा, भिलाई More »

भिलाई। सिविक सेन्टर की चौपाटी में लगी विशाल भारतीय सिल्क एक्सपो प्रदशर्नी का शनिवार शाम यंगिस्तान के चेयरमैन मनीष पाण्डेय ने विधिवत उद्घाटन किया। उनके More »

न्यूकैसल। कॉमनवेल्थ फेंसिंग चैम्पियनशिप, न्युकैसल, इंग्लैंड में भारत ने 03 स्वर्ण, 02 रजत एवं 08 कांस्य पदक सहित कुल 13 पदक हासिल किया। पदक तालिका More »

भिलाई। साहित्य सम्राट मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर उनकी कृतियों की चर्चा करना और इसमें युवा पीढ़ी को शामिल करना प्रशंसनीय है। उनकी रचनाधर्मिता से More »

भिलाई। स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम के तहत श्रीशंकराचार्य महाविद्यालय ने ग्राम खपरी में एक वैचारिक आंदोलन खड़ा कर दिया है। महाविद्यालय के रोटरैक्ट क्लब, More »

 

Daily Archives: April 4, 2017

चेनानी नाशरी टनल में लगा सेल का इस्पात

सेल ने भारत के सबसे बड़े सड़क-सुरंग की इस प्रतिष्ठित परियोजना के लिए इसके ठेकेदार मेसर्स आईएल और एफएस तथा चेनानी-नशरी के लिए इसके सहायक ठेकेदारों को 5000 टन से अधिक टाइम ग्रेड टीएमटी रिबार्स की आपूर्ति की है।भिलाई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित, भारत की सबसे लंबी सड़क-सुरंग को देश को समर्पित किया है। इस सुरंग से जम्मू और श्रीनगर के बीच की यात्रा पहले से 2 घंटे कम समय में पूरी की जा सकेगी। ऐसा इस सुरंग के दो अंतिम बिन्दु क्रमश: चेनानी और नशरी के बीच की वास्तविक 41 किलोमीटर दूरी के सुरंग के रास्ते घटकर 10.9 किलोमीटर रह जाने से संभव हुआ है।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

रेत में मछली छिपाने से मिली निजात

सरकार ने कैतीन बाई को दिया आईस बॉक्स
दुर्ग। दुर्ग जनपद के ग्राम बासिन निवासी मछुआरा परिवार की कैतीन बाई की एक बड़ी चिंता लोक सुराज अभियान ने दूर कर दी है। गांव-गांव में मछली बेचकर गुजर-बसर करने वाली कैतीन बची हुई मछली को अब सुरक्षित तरीके से रख पाएगी। उसे आईस बॉक्स मिल गया है। दुर्ग। दुर्ग जनपद के ग्राम बासिन निवासी मछुआरा परिवार की कैतीन बाई की एक बड़ी चिंता लोक सुराज अभियान ने दूर कर दी है। गांव-गांव में मछली बेचकर गुजर-बसर करने वाली कैतीन बची हुई मछली को अब सुरक्षित तरीके से रख पाएगी। उसे आईस बॉक्स मिल गया है। लगभग चार हजार रुपए का लाल रंग का आइस बॉक्स लेकर खुशी से घर जाती हुई कैतीन कहती है कि यह छोटी सी चीज जरूर लगती है, लेकिन मेरे लिए ये बड़े काम की है। बची हुई मछली को अब सुरक्षित रखने के लिए मुझे अब उसे रेत में नहीं छिपाना होगा।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

नया राशन कार्ड पाकर भीगी मंगलीन की आंखें

दुर्ग। बासीन की गरीब बुजुर्ग महिला श्रीमती मंगलीन बाई मार्केण्डेय नया राशन कार्ड बनाने को लेकर कई बार आवेदन देते रही है। लेकिन हर बार उनके हाथ निराशा लगती रही है। इस बार उन्होंने लोक सुराज अभियान के प्रथम चरण में अपने गांव में आयोजित आवेदन संकलन शिविर में 27 फरवरी को आवेदन दिया था। अधिकारियों द्वारा जांच करने पर पात्र पाया गया और उन्हें आज प्राथमिकता परिवार वाले नीले रंग का राशन कार्ड प्रदाय किया गया है। दुर्ग। बासीन की गरीब बुजुर्ग महिला श्रीमती मंगलीन बाई मार्केण्डेय नया राशन कार्ड बनाने को लेकर कई बार आवेदन देते रही है। लेकिन हर बार उनके हाथ निराशा लगती रही है। इस बार उन्होंने लोक सुराज अभियान के प्रथम चरण में अपने गांव में आयोजित आवेदन संकलन शिविर में 27 फरवरी को आवेदन दिया था। अधिकारियों द्वारा जांच करने पर पात्र पाया गया और उन्हें आज प्राथमिकता परिवार वाले नीले रंग का राशन कार्ड प्रदाय किया गया है।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

समाधान शिविर में 4048 आवेदनों का निपटारा

दुर्ग। प्रदेश के साथ ही जिले में लोक सुराज अभियान का तृतीय चरण लक्ष्य समाधान को लेकर समाधान शिविर का आगाज हुआ। विकासखण्ड दुर्ग के ग्राम पंचायत बासीन में पहला समाधान शिविर में विभिन्न शिकायतों एवं मांगों से संबंधित प्राप्त 4 हजार 396 आवेदन में से 4 हजार 48 आवेदनों का समाधान किया गया। समाधान के पश्चात् शेष रहे 358 आवेदनों के समाधान के लिए समय-सीमा तय की गई है। नागरिकों के आवेदनों का समाधान होने से ना केवल उन्हें अपने विभिन्न समस्याओं से निजात मिला है।दुर्ग। प्रदेश के साथ ही जिले में लोक सुराज अभियान का तृतीय चरण लक्ष्य समाधान को लेकर समाधान शिविर का आगाज हुआ। विकासखण्ड दुर्ग के ग्राम पंचायत बासीन में पहला समाधान शिविर में विभिन्न शिकायतों एवं मांगों से संबंधित प्राप्त 4 हजार 396 आवेदन में से 4 हजार 48 आवेदनों का समाधान किया गया। समाधान के पश्चात् शेष रहे 358 आवेदनों के समाधान के लिए समय-सीमा तय की गई है। नागरिकों के आवेदनों का समाधान होने से ना केवल उन्हें अपने विभिन्न समस्याओं से निजात मिला है।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare