Share भिलाई। संतोष रूंगटा ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स कैम्पस में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर विभिन्न आयोजन किये गये। छात्राओं तथा महिला फैकल्टीज ने इस अवसर पर More »

Shareभिलाई। अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर अखिल विश्व गायत्री परिवार के महिला प्रकोष्ठ दीया वुमन विंग छत्तीसगढ़ द्वारा नारी सशक्तिकरण दिवस के रूप में More »

Shareभिलाई। केबिनेट मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय ने आज सोनी लिव पर प्रस्तुत सुपर डांसर चैप्टर-2 की फाइनलिस्ट शगुन सिंह परी के लिए वोट मांगा। श्री More »

Shareरायपुर। करियर और परिवार के बीच बेहतर सामंजस्य बैठाने के लिए बेटियों को भी अपना नजरिया बदलना होगा। टाइम मैनेजमेंट, पाजीटिव सोच और तनाव कम More »

Shareदुर्ग| रविशंकर स्टेडियम में रविवार को 10 हजार से अधिक महिलाओं ने एकसाथ सुआ नृत्य किया। यह पहला मौका है जब छत्तीसगढ़ के इस पारंपरिक More »

 

Daily Archives: April 26, 2017

शंकराचार्य कालेज में मना विश्व धरती दिवस

भिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय भिलाई के वाणिज्य विभाग द्वारा विश्व धरती दिवस के अवसर पर ज्ञान वर्धक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्राचार्या डॉ रक्षा सिंह ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में कहा कि ये पृथ्वी हमारी नहीं हम पृथ्वी के हैं। पृथ्वी पर ही जीवन है। पृथ्वी को बड़े जतन से साफ सुथरा एवं हरियाली युक्त रखना होगा, अन्यथा प्रकृति रूष्ट होकर कहर बरसायेगी, जिसे मनुष्य नहीं झेल पायेगा।भिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय भिलाई के वाणिज्य विभाग द्वारा विश्व धरती दिवस के अवसर पर ज्ञान वर्धक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्राचार्या डॉ रक्षा सिंह ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में कहा कि ये पृथ्वी हमारी नहीं हम पृथ्वी के हैं। पृथ्वी पर ही जीवन है। पृथ्वी को बड़े जतन से साफ सुथरा एवं हरियाली युक्त रखना होगा, अन्यथा प्रकृति रूष्ट होकर कहर बरसायेगी, जिसे मनुष्य नहीं झेल पायेगा। अतिरिक्त निदेशक डॉं जे. दुर्गा प्रसाद राव ने कहा कि इस ब्रम्हाण्ड में सबसे सुन्दर ग्रह पृथ्वी है जो जन्म दायनी एवं जीवन दायनी है। इसलिए हमारा भी फर्ज बनता है कि हम इसकी सुन्दरता एवं गुणों को बरकार रखें। कार्यक्रम के अंत में स्नातकोत्तर विद्यार्थियों ने धरती को स्वच्छ एवं सुन्दर बनाने हेतु सदा प्रयासरत रहने का प्रण किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. अनिता पाण्डेय ने किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के समस्त विभाग के प्राध्यापकगण एवं कर्मचारीगण एवं अनेक छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

शराब छोड़ ड्रग्स की ओर बढ़े युवा

दुर्ग। शराब की बढ़ती कीमत और पूर्ण शराब बंदी के शिगूफे के बीच युवा अब ड्रग्स की ओर बढऩे लगे हैं। शहर के मेडिकल स्टोर्स से ये भारी मात्रा में ऐसी दवाइयां खरीद रहे हैं जिनका बिना डाक्टरी पर्चे के बिकना मना है। पुलिस ने इस मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए पतासाजी शुरू कर दी है। एक मेडिकल स्टोर के खिलाफ मंगलवार को कार्रवाई की गई है।दुर्ग। शराब की बढ़ती कीमत और पूर्ण शराब बंदी के शिगूफे के बीच युवा अब ड्रग्स की ओर बढऩे लगे हैं। शहर के मेडिकल स्टोर्स से ये भारी मात्रा में ऐसी दवाइयां खरीद रहे हैं जिनका बिना डाक्टरी पर्चे के बिकना मना है। पुलिस ने इस मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए पतासाजी शुरू कर दी है। एक मेडिकल स्टोर के खिलाफ मंगलवार को कार्रवाई की गई है। मेडीकल स्टोर के संचालकों द्वारा बिना डाक्टरी पर्ची के नशेडिय़ों को मनोत्तेजक दवाईयां बेचने की शिकायत लगातार प्राप्त हो रही थी। शिकायतों को गंभीरता से लेते हुये संयुक्त टीम गठित कर आरोपी की धड़पकड़ हेतु निर्देशित किया गया। टीम द्वारा मेडीकल स्टोर के संचालकों एवं नशे के आदी व्यक्तियों पर सतत् निगाह रखी जा रही है।

स्वरूपानंद कालेज में पुस्तक वाचन दिवस

भिलाई। स्वरूपानंद कालेज में पुस्तक वाचन दिवस मनाया गया। आज इलेक्ट्रानिक सोषल मीडिया के आ जाने से युवा वर्ग, वॉटसएप्प, फेसबुक, टिवट्र आदि से जुड़े हुये है उन्हे कोई पुस्तक पढऩी हो या कुछ आलेख देखना हो, विद्यार्थी तुरन्त नेट का सहारा लेते है। इसलिए पुस्तकालय में जाने वाले विद्यार्थियों की संख्या कम होती जा रही है।भिलाई। स्वरूपानंद कालेज में पुस्तक वाचन दिवस मनाया गया। आज इलेक्ट्रानिक सोषल मीडिया के आ जाने से युवा वर्ग, वॉटसएप्प, फेसबुक, टिवट्र आदि से जुड़े हुये है उन्हे कोई पुस्तक पढऩी हो या कुछ आलेख देखना हो, विद्यार्थी तुरन्त नेट का सहारा लेते है। इसलिए पुस्तकालय में जाने वाले विद्यार्थियों की संख्या कम होती जा रही है। विद्यार्थी पुस्तकालय में आयें और पुस्तकों को पढ़ें इस उद्देश्य से महाविद्यालय में पुस्तक वाचन दिवस का आयोजन किया गया। ग्रंथपाल श्रीमती वनिता महाले ने बताया कि विषय को छोड़कर हिन्दी एवं अंगे्रजी साहित्य, अभिप्रेरक, सामान्य ज्ञान एवं समसामयिक घटनाओं से संबंधित पुस्तको को डिसप्ले किया गया है, जिससे विद्यार्थी जो साल भर विषय की पुस्तके पढ़ते है, उससे हटकर कुछ दूसरी पुस्तके पढ़े और लाइब्रेरी में ज्यादा समय व्यतीत करने के लिए प्रेरित हो।

वाटर हार्वेस्टिंग के लिए बीएसपी ने बढ़ाया हाथ

भिलाई। वाटर हार्वेस्टिंग के लिए बीएसपी ने हाथ बढ़ाया है। जल-संरक्षण के इस राष्ट्रीय अभियान में भागीदारी निभाने इस्पात नगरी एवं आसपास के रहवासियों को समय-समय पर रेन-वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की नि:शुल्क तकनीकी जानकारी प्रदान की जाती है। उल्लेखनीय है कि जल की सहज उपलब्धता कायम रखना आज एक गम्भीर विषय है। वर्षा-जल के समुचित संरक्षण की कमी एवं भू-जल के अंधाधुंध दोहन ने जल-समस्या खड़ी कर दी है।भिलाई। वाटर हार्वेस्टिंग के लिए बीएसपी ने हाथ बढ़ाया है। जल-संरक्षण के इस राष्ट्रीय अभियान में भागीदारी निभाने इस्पात नगरी एवं आसपास के रहवासियों को समय-समय पर रेन-वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की नि:शुल्क तकनीकी जानकारी प्रदान की जाती है। उल्लेखनीय है कि जल की सहज उपलब्धता कायम रखना आज एक गम्भीर विषय है। वर्षा-जल के समुचित संरक्षण की कमी एवं भू-जल के अंधाधुंध दोहन ने जल-समस्या खड़ी कर दी है। बढ़ती आबादी एवं उच्च जीवन-शैली ने प्रति व्यक्ति जल की औसत माँग को बढ़ा दिया है जबकि पर्यावरणीय बदलाव के कारण वर्षा में अनियमितता तथा तापमान में वृद्धि निरन्तर बढ़ती जा रही है। इस समस्या के अधिक गम्भीर होने के पूर्व ही जल-संरक्षण के पर्याप्त उपाय शीघ्र कर लेना अत्यंत जरूरी है।