शारदा सामर्थ्य ट्रस्ट ने किया रक्षा टीम का सम्मान

शारदा सामर्थ्य ट्रस्ट ने किया रक्षा टीम का सम्मान भिलाई। मां शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल ट्रस्ट ने रक्षा टीम की प्रमुख एडिशनल एसपी सुरेशा चौबे, नवी मोनिका पाण्डेय के साथ ही उनकी पूरी टीम का गत दिवस होटल अमित पार्क इंटरनेशनल में सम्मान किया। इस अवसर पर महापौर देवेन्द्र यादव, दिल्ली से आए मोटिवेशनल स्पीकर राजेश अग्रवाल, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर-कोच राजेश चौहान भी मौजूद थे।भिलाई। मां शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल ट्रस्ट ने रक्षा टीम की प्रमुख एडिशनल एसपी सुरेशा चौबे, नवी मोनिका पाण्डेय के साथ ही उनकी पूरी टीम का गत दिवस होटल अमित पार्क इंटरनेशनल में सम्मान किया। इस अवसर पर महापौर देवेन्द्र यादव, दिल्ली से आए मोटिवेशनल स्पीकर राजेश अग्रवाल, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर-कोच राजेश चौहान भी मौजूद थे। माँ शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल ट्रस्ट के मुखिया डॉ संतोष राय ने इस अवसर पर कहा कि रक्षा टीम सप्ताह के सातों दिन 24 घंटे काम कर रही है। इस टीम ने लोगों का भरोसा जीता है और लोग व्हाट्सअप मैसेज और फोन कर टीम की मदद मांगने लगे हैं। छेडखानी की घटनाओं में कमी आई है। रक्षा टीम लगातार स्कूल कालेजों में जाकर बच्चों को आत्मरक्षा के लिए बरती जाने वाली सावधानियों से अवगत करा रही है, उन्हें विपरीत परिस्थितियों से जूझना सिखा रही है। इसका समग्र समाज पर दूरगामी प्रभाव पड़ेगा।शारदा सामर्थ्य ट्रस्ट ने किया रक्षा टीम का सम्मान भिलाई। मां शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल ट्रस्ट ने रक्षा टीम की प्रमुख एडिशनल एसपी सुरेशा चौबे, नवी मोनिका पाण्डेय के साथ ही उनकी पूरी टीम का गत दिवस होटल अमित पार्क इंटरनेशनल में सम्मान किया। इस अवसर पर महापौर देवेन्द्र यादव, दिल्ली से आए मोटिवेशनल स्पीकर राजेश अग्रवाल, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर-कोच राजेश चौहान भी मौजूद थे। शारदा सामर्थ्य ट्रस्ट ने किया रक्षा टीम का सम्मान भिलाई। मां शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल ट्रस्ट ने रक्षा टीम की प्रमुख एडिशनल एसपी सुरेशा चौबे, नवी मोनिका पाण्डेय के साथ ही उनकी पूरी टीम का गत दिवस होटल अमित पार्क इंटरनेशनल में सम्मान किया। इस अवसर पर महापौर देवेन्द्र यादव, दिल्ली से आए मोटिवेशनल स्पीकर राजेश अग्रवाल, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर-कोच राजेश चौहान भी मौजूद थे।ट्रस्ट के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि 14-15 महीनों के सफर में ट्रस्ट से 60 सदस्य जुड़ चुके हैं। संरक्षकों एवं सदस्यों से प्राप्त अंशदान को खर्च नहीं किया जाता है। हम व्यक्तिगत या सामूहिक तौर पर नई जिम्मेदारियां लेते हैं जिसमें दानदाता सहयोग करते हैं। ट्रस्ट बच्चों की शिक्षा को अनवरत एवं गुणवत्तापूर्ण करने के लिए काम कर रहा है। उनकी शिक्षा का खर्च उठा रहा है। इस अवसर पर चार स्कूली बच्चों शिवानी, पायल, निकिता एवं रवि को एक साल की फीस का चेक दिया गया। इसके साथ ही 88.4 फीसदी अंकों के साथ 12वीं उत्तीर्ण करने वाले काजल की आगामी तीन वर्षों की शिक्षा का पूरा खर्च उठाने का संकल्प किया गया। डॉ संतोष राय इंस्टीट्यूट में उसके मुफ्त प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है तथा उसे सीएमए के लिए तैयार किया जाएगा।
महापौर देवेन्द्र यादव ने कहा कि मां शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल ट्रस्ट अच्छा काम कर रहा है। डॉ संतोष राय की अगुवाई में शुरु हुए इस अभियान ने लोगों का विश्वास जीता है। शिक्षा में गुणवत्ता लाने के लिए ट्रस्ट द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि अब तक वे ट्रस्ट में अपना कोई योगदान नहीं दे पाए हैं किन्तु वे विश्वास दिलाते हैं कि आगे जो भी काम होगा, उसमें वे अपना योगदान अवश्य देंगे।
कार्यक्रम की मुख्य अतिथि एडिशनल एसपी सुरेशा चौबे ने कहा कि दिल्ली के निभर्या कांड के बाद लड़कियों की सुरक्षा को लेकर बेहद संजीदा माहौल बना और नए कानून भी बने। रक्षा टीम इन्हें कानूनों की जानकारी लोगों तक पहुंचाकर उन्हें सुरक्षा का अहसास करा रही है। टीम 24 घंटे अलर्ट पर रहती है और जहां कहीं से भी कॉल आए तुरन्त वहां पहुंचने की कोशिश की जाती है। टीम के सदस्य सादी वर्दी में संवेदनशील स्थानों की निगरानी करते हैं और अपराधियों को पकड़ कर सबक सिखाया जाता है।
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर राजेश चौहान ने रक्षा टीम को अपने कार्य एवं कायर्शैली से संबंंधित वीडियो तैयार करने और उसे दूरस्थ अंचलों के स्कूलों तक पहुंचाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि रक्षा टीम की यह कोशिश छोटी दिखती है पर इसके भविष्य पर बड़े प्रभाव देखने को मिलेंगे। उन्होंने मां शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल ट्रस्ट को रक्षा टीम का समर्थन करने के लिए साधुवाद दिया।
जिन लोगों का सम्मान किया गया उनमें एडिशनल एसपी सुरेशा चौबे, डीएसपी गीता पवार, टीआई नवी मोनिका पाण्डेय, इफत आरा खैरानी, बीना खैरावट, विमला पठारे, भारती मरकाम, ज्योति सिंह, शारदा बंजारे, उषा ठाकुर, अमरदास गांगेय, विष्णु धुरवे, कुलेश्वर प्रसाद चंद्राकर, तौसीफ अकरम, पीयूष, जयश्री साहू, बेबी रेखा, अंजनी खुरसे, भगवती साहू, फारूख अकरम, विक्रांत यदु, अविनाश, यमिता साहू, स्मिता ताण्डी, मीनाक्षी चंदेल, पुष्पा, रूपाली थोराट, बिन्दु बंजारे, पवन सिंह ठाकुर, केशव प्रसाद, द्वारिका प्रसाद, दूधराम निषाद शामिल थे।
कार्यक्रम को प्रसिद्ध मोटिवेशनल स्पीकर राजेश अग्रवाल ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि शुक्रवाल को वे डीआरडीओ में रक्षा वैज्ञानिकों के बीच थे और उन अस्त्र शस्त्रों का प्रयोग करने वालों के बीच हैं। मां शारदा चैरिटेबल ट्रस्ट से जुड़कर वे गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। विभिन्न उदाहरणों से उन्होंने उपस्थित लोगों को सफल जीवन की राह दिखाई। मार्टिन लूथर किंग को उद्धृत करते हुए उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने कार्य को सबसे अच्छी तरह से अंजाम देना चाहिए और उसमें निरंतर सुधार करना चाहिए। जीवन ऐसा हो कि जब आप जाएं तो संपत्ति नहीं बल्कि अपनी कहानी छोड़कर जाएं। लोग आपको याद करें और आपके जीवन से प्रेरणा ले सकें। उन्होंने अनेक उदाहरणों से अपनी बात साबित करने की कोशिश की।

WhatsAppGoogle GmailTwitterFacebook

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>