भिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में गणेश चतुर्थी एवं विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस अवसर पर स्नेह संपदा, भिलाई More »

भिलाई। सिविक सेन्टर की चौपाटी में लगी विशाल भारतीय सिल्क एक्सपो प्रदशर्नी का शनिवार शाम यंगिस्तान के चेयरमैन मनीष पाण्डेय ने विधिवत उद्घाटन किया। उनके More »

न्यूकैसल। कॉमनवेल्थ फेंसिंग चैम्पियनशिप, न्युकैसल, इंग्लैंड में भारत ने 03 स्वर्ण, 02 रजत एवं 08 कांस्य पदक सहित कुल 13 पदक हासिल किया। पदक तालिका More »

भिलाई। साहित्य सम्राट मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर उनकी कृतियों की चर्चा करना और इसमें युवा पीढ़ी को शामिल करना प्रशंसनीय है। उनकी रचनाधर्मिता से More »

भिलाई। स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम के तहत श्रीशंकराचार्य महाविद्यालय ने ग्राम खपरी में एक वैचारिक आंदोलन खड़ा कर दिया है। महाविद्यालय के रोटरैक्ट क्लब, More »

 

Daily Archives: March 12, 2018

देश विदेश की आर्ट गैलरियों में सजी हैं इंदिरा पुरकायस्थ घोष की शिल्पकारी

रायपुर। मेरे जीवन की प्रेरणा मेरी मां है। बचपन में मां जब घर की सजावट, भाई की पढ़ाई के लिए पेंटिंग तैयार किया करती थी तो उस समय उसे देखकर मैं सोचती थी, मुझसे ऐसी पेंटिंग कभी नहीं बन पाएगी। लेकिन मां हमेशा कहती थी, जब करेगी तभी सीखेगी। धीरे-धीरे पेंटिंग बनाना शुरू किया, फिर पेंटिंग के प्रति मेरी रूचि को देखते हुए पिता ने बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में फाइन आर्ट की पढ़ाई करने के लिए भेज दिया। आज आलम यह है कि देश-विदेश की आटर्गैलरियों में मेरी बनाई मूर्ति शिल्प सजती हैं। यह बातें महाकौशल कला वीथिका में आयोजित मूर्तिशिल्प प्रदर्शन के दौरान इंदिरा पुरकायस्थ घोष ने कही।रायपुर। मेरे जीवन की प्रेरणा मेरी मां है। बचपन में मां जब घर की सजावट, भाई की पढ़ाई के लिए पेंटिंग तैयार किया करती थी तो उस समय उसे देखकर मैं सोचती थी, मुझसे ऐसी पेंटिंग कभी नहीं बन पाएगी। लेकिन मां हमेशा कहती थी, जब करेगी तभी सीखेगी। धीरे-धीरे पेंटिंग बनाना शुरू किया, फिर पेंटिंग के प्रति मेरी रूचि को देखते हुए पिता ने बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में फाइन आर्ट की पढ़ाई करने के लिए भेज दिया। आज आलम यह है कि देश-विदेश की आटर्गैलरियों में मेरी बनाई मूर्ति शिल्प सजती हैं। यह बातें महाकौशल कला वीथिका में आयोजित मूर्तिशिल्प प्रदर्शन के दौरान इंदिरा पुरकायस्थ घोष ने कही।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

छत्तीसगढ़ से सरोज पांडेय राज्‍यसभा के लिए भाजपा प्रत्‍याशी

  छत्तीसगढ़ से सरोज पांडेय राज्‍यसभा के लिए भाजपा प्रत्‍याशी रायपुर। छत्तीसगढ़ से सरोज पांडेय का नाम राज्यसभा के लिए तय कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने कहा कि संगठन ने छत्तीसगढ से राज्यसभा उम्‍मीदवार के रुप में सरोज पांडेय का नाम तय कर दिया है। देर शाम पार्टी की केंद्रीय चुनाव स‍मिति ने इस नाम पर मुहर लगा दी। सरोज पांडेय और छत्तीसगढ़ बीजेपी अध्यक्ष धरमलाल कौशिक राज्यसभा सीट के लिए प्रबल दावेदार माने जा रहे थे। सरोज पांडे वतर्मान में भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में पांडे को दुर्ग लोकसभा से कांग्रेस उम्मीदवार ताम्रध्वज साहू ने हराया था। इससे पहले सरोज पांडे एक बार लोकसभा सदस्य और एक बार विधायक भी रह चुकी हैं। सरोज के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड है। वे एक साथ महापौर विधायक और सांसद भी रही हैं।रायपुर। छत्तीसगढ़ से सरोज पांडेय का नाम राज्यसभा के लिए तय कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने कहा कि संगठन ने छत्तीसगढ से राज्यसभा उम्‍मीदवार के रुप में सरोज पांडेय का नाम तय कर दिया है। देर शाम पार्टी की केंद्रीय चुनाव स‍मिति ने इस नाम पर मुहर लगा दी। सरोज पांडेय और छत्तीसगढ़ बीजेपी अध्यक्ष धरमलाल कौशिक राज्यसभा सीट के लिए प्रबल दावेदार माने जा रहे थे। सरोज पांडे वतर्मान में भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में पांडे को दुर्ग लोकसभा से कांग्रेस उम्मीदवार ताम्रध्वज साहू ने हराया था। इससे पहले सरोज पांडे एक बार लोकसभा सदस्य और एक बार विधायक भी रह चुकी हैं। सरोज के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड है। वे एक साथ महापौर विधायक और सांसद भी रही हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

MNC की नौकरी छोड़ अपर्णा अब छुड़ाएगी दुश्मनों के छक्के

गाजीपुर। मलसा क्षेत्र के ढढ़नी भानमल राय गांव की बेटी अपर्णा राय बहुराष्ट्रीय कंपनी की बड़ी नौकरी छोड़कर अब देश की सरहद पर दुश्मनों के छक्के छुड़ाएगी। अपर्णा ने चेन्नई स्थित सैन्य अकादमी में 10 मार्च को पासिंग आउट परेड में हिस्सा लेकर लेफ्टिनेंट का प्रशिक्षण पूरा कर लिया। बिटिया की इस कामयाबी पर माता-पिता फूले नहीं समा रहे हैं। पढ़ाई के दौरान ही अपर्णा अपनी मेधा का लोहा सबको मनवाती रही हैं।गाजीपुर। मलसा क्षेत्र के ढढ़नी भानमल राय गांव की बेटी अपर्णा राय बहुराष्ट्रीय कंपनी की बड़ी नौकरी छोड़कर अब देश की सरहद पर दुश्मनों के छक्के छुड़ाएगी। अपर्णा ने चेन्नई स्थित सैन्य अकादमी में 10 मार्च को पासिंग आउट परेड में हिस्सा लेकर लेफ्टिनेंट का प्रशिक्षण पूरा कर लिया। बिटिया की इस कामयाबी पर माता-पिता फूले नहीं समा रहे हैं। पढ़ाई के दौरान ही अपर्णा अपनी मेधा का लोहा सबको मनवाती रही हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare