भिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में गणेश चतुर्थी एवं विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस अवसर पर स्नेह संपदा, भिलाई More »

भिलाई। सिविक सेन्टर की चौपाटी में लगी विशाल भारतीय सिल्क एक्सपो प्रदशर्नी का शनिवार शाम यंगिस्तान के चेयरमैन मनीष पाण्डेय ने विधिवत उद्घाटन किया। उनके More »

न्यूकैसल। कॉमनवेल्थ फेंसिंग चैम्पियनशिप, न्युकैसल, इंग्लैंड में भारत ने 03 स्वर्ण, 02 रजत एवं 08 कांस्य पदक सहित कुल 13 पदक हासिल किया। पदक तालिका More »

भिलाई। साहित्य सम्राट मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर उनकी कृतियों की चर्चा करना और इसमें युवा पीढ़ी को शामिल करना प्रशंसनीय है। उनकी रचनाधर्मिता से More »

भिलाई। स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम के तहत श्रीशंकराचार्य महाविद्यालय ने ग्राम खपरी में एक वैचारिक आंदोलन खड़ा कर दिया है। महाविद्यालय के रोटरैक्ट क्लब, More »

 

Daily Archives: August 2, 2018

सायकल पर अकेले देशाटन पर निकली सुनीता ने भारत को बताया सेफ

Sunita Chockenभिलाई। सायकल पर अकेले लेह से कन्याकुमारी की यात्रा करने के बाद सोमनाथ से पशुपतिनाथ की यात्रा पर निकली सुनीता सिंह चौकन ने भारत को लड़कियों के लिए पूरी तरह सेफ बताया है। सुनीता ने उक्त बातें अपने सम्मान में रोटरी क्लब आॅफ भिलाई ग्रेटर द्वारा आयोजित समारोह में व्यक्त कीं। सुनीता ने बताया कि 2011 में एवरेस्ट फतह करने के बाद हरियाणा सरकार ने उन्हें बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान का ब्रैंड अम्बेसेडर बनाया। इसके साथ ही आने वाली पीढ़ी के लिए पर्यावरण को बचाना चाहती हैं। इन्हीं दोनों विषयों पर जागरूकता लाने के लिए वे सायकल पर भारत की यात्रा कर रही हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

कालेज में मित्र होते हैं शिक्षक, बस कंधे पर हाथ नहीं रख सकते : श्रीलेखा

MJ College Inductionभिलाई। एमजे कालेज की डायरेक्टर श्रीमती श्रीलेखा विरुलकर ने कहा कि महाविद्यालय का व्याख्याता या प्राध्यापक आपके मित्र जैसा होता है। पर कुछ मर्यादाएं भी होती हैं जैसे आप उनके कंधे पर हाथ नहीं रख सकते, अशिष्ट भाषा का उपयोग नहीं कर सकते। श्रीमती विरुलकर महाविद्यालय के नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं के इंडक्शन सह ओरिएन्टेशन समारोह को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय छात्र-जीवन का एक महत्वपूर्ण पड़ाव है। यहां आप अपने भावी करियर के बहुत निकट होते हैं। व्याख्याता एवं प्राध्यापक न केवल आपको विषय का अध्ययन कराते हैं बल्कि करियर चुनने और उसकी दिशा में आगे बढ़ने का रास्ता भी दिखाते हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

संतोष रूंगटा कैम्पस में ओरियेण्टेशन व इंडक्शन प्रोग्राम

Santosh Rungta Groupभिलाई। संतोष रूंगटा समूह के कोहका में संचालित रूंगटा कॉलेज आॅफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नालॉजी (आरसीइटी) तथा रूंगटा इंजीनियरिंग कॉलेज (आरइसी) के नव-प्रवेशी स्टूडेंट्स के लिये ओरियेण्टेशन तथा इंडक्शन प्रोग्राम का संयुक्त आयोजन आरसीईटी के आॅडीटोरियम में किया गया। मुख्य अतिथि की आसंदी से बोलते हुए समूह के चेयरमेन संतोष रूंगटा ने युवाओं से अपने लक्ष्य को निर्धारित कर इसकी प्राप्ति हेतु ईमानदारी से प्रयास करने की सलाह दी।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में हरेली संझा का आयोजन

SSMV Hareliभिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय जुनवानी भिलाई में डीएलएड के प्रशिक्षणार्थियों के द्वारा हरेली संझा का आयोजन दिनांक 01/08/2018 को किया गया। इस आयोजन का उद्देश्य प्रशिक्षणाथिर्यों को हरेली त्यौहार की महत्ता बताना था। इस कार्यक्रम में प्रशिक्षणार्थियों द्वारा सभी शिक्षा विभाग के प्राध्यापकों का स्मृति चिन्ह के साथ सम्मान किया गया तथा डी.एल.एड. की छात्रा पायल और लीना के द्वारा आकर्षक नृत्य की प्रस्तुति दी गयी।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

सीसीईटी में नव-प्रवेशी विद्यार्थियों का स्वागत

CCET Bhilaiभिलाई। सेन्ट थामस मिशन द्वारा वर्ष 1998 से संचालित क्रिश्चियन कालेज आॅफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी में प्रथम वर्ष में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों के लिए स्वागत कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सेन्ट थामस मिशन के उपाध्यक्ष फादर गी. वर्गीस रम्बॉन, कार्यकारी उपाध्यक्ष फादर जोस के. वर्गीस, प्राचाार्या डॉ. दिपाली सोरेन एवं प्रथम वर्ष प्रभारी एवं भौतिकी विभाग के प्राध्यापक डा अनिल चौबे, सभी विभागों के अध्यक्ष के साथ-साथ सभी शिक्षकगण, नवीन विद्यार्थी पालकोें के साथ उपस्थित थे।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

श्री शंकराचार्य टेक्निकल कैंपस में ओरिएंटेशन कम इंडक्शन प्रोग्राम

SSTCभिलाई। श्री शंकराचार्य टेक्निकल कैंपस, भिलाई में बीटेक एवं बी-फार्मा फर्स्ट ईयर के छात्र-छात्राओं के लिए आयोजित ओरिएंटेशन कम इंडक्शन प्रोग्राम संचालित हो रहा हैं। कार्यक्रमों में बड़ी संख्या में छात्र-छात्रायें बढ़-चढ़ कर भाग ले रहे हैं और अपनी प्रतिभा एवं सृजन कौशल का प्रदर्शन कर रहे हैं। संस्था प्रमुख आई.पी.मिश्रा ने कहा, आज भारत सबसे युवा देश हैं और सबकी निगाहें हम पर हैं, युवा ही देश की शक्ति हैं। अपने कैरियर के साथ साथ राष्ट्रहित का भी ख्याल रखना होगा।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

प्रेमचंद के संदेश को जीवन में आत्मसात करें – डॉ.राजपूत

Durg Science Collegeदुर्ग। शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालर्य में प्रेमचंद जयंती का आयोजन किया गया। इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य एवं संरक्षक डॉ. एस. के. राजपूत ने अपने उद्बोधन में कहा कि विद्यार्थियों को व्याख्यान माला का लाभ उठाना चाहिए। प्रेमचंद हिन्दी साहित्य के पुरोधा हैं। उनके समग्र लेखन में भारत के ग्रामीण जीवन का यथार्थ व्यक्त हुआ है। उनके पात्र हमारे आस-पास के जीते जागते लोग हैं। प्रेमचंद की कहानियों को विद्यार्थी पढ़ें तथा उसमें जो संदेश हैं उसे अपने जीवन में आत्मसात करें।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

प्रेमचंद की रचनाएँ जनजीवन का चित्रण है : डॉ. सुशील चन्द्र तिवारी

Girls College Durgदुर्ग। शासकीय डॉ. वा.वा. पाटणकर कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय, दुर्ग में प्रेमचंद की कहानी- ईदगाह, कफन और गोदान की जुबानी कार्यक्रम का आयोजन कर मुंशी प्रेमचंद को याद किया गया। एम.ए. की छात्रा परवीन बानो ने प्रेमचंद की कहानी, ईदगाह, कु. काजल ने गोदान के स्त्री पात्रों धनिया और मालती का शब्द-चित्र प्रस्तुत किया। बी.ए. प्रथम वर्ष की छात्राएँ वैभवी चौबे एवं आकांक्षा ठाकुर ने घीसू और माधव का चरित्र निभाकर प्रेमचंद की प्रसिद्ध कहानी कफन का वाचन किया।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare