भिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में गणेश चतुर्थी एवं विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस अवसर पर स्नेह संपदा, भिलाई More »

भिलाई। सिविक सेन्टर की चौपाटी में लगी विशाल भारतीय सिल्क एक्सपो प्रदशर्नी का शनिवार शाम यंगिस्तान के चेयरमैन मनीष पाण्डेय ने विधिवत उद्घाटन किया। उनके More »

न्यूकैसल। कॉमनवेल्थ फेंसिंग चैम्पियनशिप, न्युकैसल, इंग्लैंड में भारत ने 03 स्वर्ण, 02 रजत एवं 08 कांस्य पदक सहित कुल 13 पदक हासिल किया। पदक तालिका More »

भिलाई। साहित्य सम्राट मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर उनकी कृतियों की चर्चा करना और इसमें युवा पीढ़ी को शामिल करना प्रशंसनीय है। उनकी रचनाधर्मिता से More »

भिलाई। स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम के तहत श्रीशंकराचार्य महाविद्यालय ने ग्राम खपरी में एक वैचारिक आंदोलन खड़ा कर दिया है। महाविद्यालय के रोटरैक्ट क्लब, More »

 

Daily Archives: August 13, 2018

सूत्रधार के मंच पर दिखा भावनाओं का अंतर्द्वंद्व, भावुक कर गर्इं प्रस्तुतियां

Sutradhar Natyaभिलाई। शहर के ऐतिहासिक नेहरू हाउस ऑफ कल्चर में सूत्रधार ने तीन नाटकों का मंचन किया। ‘सरजू बाग की मोनालिसा’, ‘धूप का एक टुकड़ा’ एवं ‘बातें’ का कथ्य और अदायगी, दोनों ही लोगों को भावुक कर गईं। वरिष्ठ रंगकर्मी संजीव मुखर्जी, निर्देशक संगीता बर्मन एवं युवा निर्देशक सिग्मा उपाध्याय ने यह आयोजन नाट्य कार्यशाला के समापन के अवसर पर किया था। सरजू बाग की मोनालिसा अदम गोंडवी की रचना पर आधारित है जिसमें एक किशोरी के बलात्कार और पिछड़े प्रदेशों में सवर्णों की दबंगई से जुड़ा था। संजीव मुखर्जी ने इसे बेहद संजीदगी के साथ प्रस्तुत किया। दर्शकों के रोंगटे खड़े हो गए। यह एक एकल प्रस्तुति थी।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare