भिलाई। गर्भधारण से लेकर एक शिशु को जन्म देने का सर्वाधिकार उसकी मां के पास सुरक्षित होता है। स्वयंसिद्धा समूह ने एक मां के संघर्ष More »

भिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में गणेश चतुर्थी एवं विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस अवसर पर स्नेह संपदा, भिलाई More »

भिलाई। सिविक सेन्टर की चौपाटी में लगी विशाल भारतीय सिल्क एक्सपो प्रदशर्नी का शनिवार शाम यंगिस्तान के चेयरमैन मनीष पाण्डेय ने विधिवत उद्घाटन किया। उनके More »

न्यूकैसल। कॉमनवेल्थ फेंसिंग चैम्पियनशिप, न्युकैसल, इंग्लैंड में भारत ने 03 स्वर्ण, 02 रजत एवं 08 कांस्य पदक सहित कुल 13 पदक हासिल किया। पदक तालिका More »

भिलाई। साहित्य सम्राट मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर उनकी कृतियों की चर्चा करना और इसमें युवा पीढ़ी को शामिल करना प्रशंसनीय है। उनकी रचनाधर्मिता से More »

 

Daily Archives: March 2, 2019

खोज की प्रवृत्ति से ही सफल होंगे स्टार्टअप : संजय रूंगटा

Rungta Group of Collegesभिलाई। संजय रूंगटा ग्रुप आॅफ इस्टीट्युशंस भिलाई में टेक्निकल प्रोजेक्ट प्रदर्शनी आविष्कार का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि ग्रुप चेयरमेन संजय रूंगटा ने इस अवसर पर विद्यार्थियों का आह्वान करते हुए कहा कि आविष्कार मानव जीवन की प्रगति का आधार है। इस उत्साह को वे आगे भी बनाये रखे। कम मेहनत से ज्यादा सफलता मिले, यह प्रयास रखना चाहिए। इंजिनियरिंग के छात्र इसे एक चुनौती के रूप मे ले ताकि आगे भविष्य में वे स्टार्टअप के साथ अपने कैरियर को मजबूत बना सके।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

नालायक पाकिस्तान से भारत ही नहीं अमेरिका भी परेशान, बार-बार कटाई नाक

India Air Force MIG-21सामरिक महत्व के कारण नालायक पाकिस्तान को भाव देना अमेरिका को हमेशा महंगा पड़ता आया है। पाकिस्तान ने केवल अमेरिकी तकनीक को बार-बार शर्मसार किया है बल्कि अपनी कायरता से पूरी दुनिया में अपनी छी-छी, थू-थू करवाई है। हालिया घटना इसी का जीता जागता उदाहरण है। विभाजन के बाद से ही पाकिस्तान भारत को नुकसान पहुंचाने की नाकाम कोशिशें करता आया है। भारत उसकी गलतियों को अब तक नजरअंदाज करता रहा है। पाक अधिकृत कश्मीर में बैठकर चलाए जा रहे आतंकी नेटवर्क को भारत ने अब तक बर्दाश्त ही किया था। भारी नुकसान उठाकर भी भारत अपने इस नालायक बेटे को हमेशा माफ करता आया था।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

एसएसटीसी ‘संविद-19′ के दूसरे दिन दिखी प्रतिभा की विविधता

SSTC Samvid-19भिलाई। श्री शंकराचार्य तकनीकी कैम्पस ‘संविद-19′ के दूसरे दिन भी छात्रों ने बड़े उत्साह के साथ अपनी प्रतिभा की विविधता का प्रदर्शन किया। खेलकूद, तकनीकी क्षमता के साथ ही कला एवं सांस्कृतिक प्रतिभाओं का भी खूब प्रदर्शन किया गया। खेलों में शतरंज, कैरम, बैडमिंटन, टेबल टेनिस, स्नूकर, गली क्रिकेट, बॉडी बिल्डिंग, बेंच प्रेस, आर्म रेसलिंग, फुटलूज, टगआॅफवार व अन्य खेलकूदों के कई राउंड हुए जिसके बाद फाइनलिस्ट्स की घोषणा की गई। तकनीकी कार्यक्रम के अन्तर्गत रोबोटिक्स, रोबोवार, रोबॉवीम, रोबोरस, रोबोसुमो, कोडिंग, ब्रिजआईटी, लैनगेमिंग, सर्किट डिजाइनिंग, टेक्निकल मॉडल, टेक्निकल क्रिज, क्रीओ, माई इनोवेशन, वर्डमोर्ट, ब्लाइंडकोडिंग, बॉटल रॉकेट, एप्टीट्यूड टेस्ट एवं अन्य दूसरे टेक्निकल कार्यक्रमों में प्रतिभागियों ने अद्भुत प्रतिभा का परिचय दिया।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare