सार्वजनिक नीति और सुशासन को बताया लोककल्याण के लिए जरूरी भिलाई। विजन इंडिया फाउंडेशन द्वारा आयोजित पॉलिसी बूटकैम्प 2019 में युवा नेतृत्व कर्ताओं के साथ More »

भिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय जुनवानी में दस दिवसीय योग प्रशिक्षण का कार्यक्रम, योग प्रशिक्षक अरूण अग्रवाल (बिहार योग विद्यालय से प्रशिक्षित एवं वर्तमान में कबीर More »

दुर्ग। शासकीय डॉ. वा. वा. पाटणकर कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय दुर्ग में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में ग्रीन आॅडिट में प्राप्त सुझावों More »

भिलाई। गर्भधारण से लेकर एक शिशु को जन्म देने का सर्वाधिकार उसकी मां के पास सुरक्षित होता है। स्वयंसिद्धा समूह ने एक मां के संघर्ष More »

भिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में गणेश चतुर्थी एवं विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस अवसर पर स्नेह संपदा, भिलाई More »

 

Daily Archives: June 12, 2019

सही लोगों के बीच रहें, खुद को शाबासी दें तो मिलेगी मंजिल : हरीश साईरमन

भिलाई। मशहूर मोटिवेशनल स्पीकर हरीश साइरमन ने कहा है कि जीवन में रचनात्मकता के साथ निरंतर आगे बढ़ने का केवल एक ही रास्ता है। सही लोगों के बीच रहें, छोटी-छोटी उपलब्धियों पर स्वयं को शाबासी दें और अपनी क्षमताओं को कम करके न आंकें। हरीश साईरमन यहां श्री शंकराचार्य मेडिकल कालेज में टेक्विप-3 योजना के तहत मोटिवेशनल एम्पावरमेंट एवं स्ट्रेस मैनेजमेंट पर आयोजित कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे।   हरीश ने कहा कि हम सभी एक जैसी ऊर्जा के साथ जन्म लेते हैं। नेगेटिविटी या पाजीटिविटी जैसे गुण हम बड़े होने के क्रम में प्राप्त करते हैं। जिसे हम प्राप्त करते हैं, जब चाहे उसे छोड़ भी सकते हैं।भिलाई। मशहूर मोटिवेशनल स्पीकर हरीश साइरमन ने कहा है कि जीवन में रचनात्मकता के साथ निरंतर आगे बढ़ने का केवल एक ही रास्ता है। सही लोगों के बीच रहें, छोटी-छोटी उपलब्धियों पर स्वयं को शाबासी दें और अपनी क्षमताओं को कम करके न आंकें। हरीश साईरमन यहां श्री शंकराचार्य मेडिकल कालेज में टेक्विप-3 योजना के तहत मोटिवेशनल एम्पावरमेंट एवं स्ट्रेस मैनेजमेंट पर आयोजित कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे।   हरीश ने कहा कि हम सभी एक जैसी ऊर्जा के साथ जन्म लेते हैं। नेगेटिविटी या पाजीटिविटी जैसे गुण हम बड़े होने के क्रम में प्राप्त करते हैं। जिसे हम प्राप्त करते हैं, जब चाहे उसे छोड़ भी सकते हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare