भिलाई। कृष्णा पब्लिक स्कूल कुटेलाभाटा ने 73वां स्वतंत्रता दिवस खुले, स्वच्छंद आकाश में ध्वजारोहण करते हर्षोल्लास के साथ मनाया। इस समारोह में स्कूल की बैण्ड More »

भिलाई। संजय रूंगटा ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूशंस द्वारा संचालित रूंगटा पब्लिक स्कूल में 15 अगस्त को स्कूल प्रांगण में कक्षा नसर्री से पहली तक के बच्चों द्वारा More »

भिलाई। डीएवी इस्पात पब्लिक स्कूल सेक्टर -2 में रक्षाबंधन मनाया गया। इस त्यौहार को अग्रिम रूप से कक्षा नसर्री, एलकेजी तथा यूकेजी के छात्रों ने More »

भिलाई। देश, संस्कृति एवं मानवता से जुड़ने के अपने नवोन्मेषी पहल के लिए पहचान बना चुके केपीएस कुटेलाभाटा के सीनियर स्टूडेन्ट्स ने भिन्नक्षम बच्चों के More »

भिलाई। रॉबिन हुड आर्मी के भिलाई अध्याय से जुड़े स्वयंसेवकों (राबिन्स) ने 11 अगस्त को पूरे जोश के साथ जेवरा-सिरसा एवं दुर्ग पद्मनाभपुर के 300 More »

 

Daily Archives: June 13, 2019

छत्तीसगढ़ के सरकारी अस्पतालों में लगे डेढ़ लाख आईयूडी, सौ फीसदी सुरक्षित

श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में जेएचपीआईईजीओ की उन्नयन कार्यशाला

भिलाई। छत्तीसगढ़ के सरकारी अस्पतालों में 2014 से 2018 के बीच लगभग डेढ़ लाख प्रसूताओं को आईयूडी लगाया गया है। यह जानकारी जेएचपीआईईजीओ के राज्य कार्यक्रम प्रबंधक डॉ सुरेन्द्र शर्मा एवं संभागीय कार्यक्रम अधिकारी डॉ साहित परमार ने दी। वे जेएचपीआईईजीओ द्वारा राज्य शासन के सहयोग से श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में आयोजित दो दिवसीय उन्नयन कार्यशाला को संबोधित करने यहां आए थे।भिलाई। छत्तीसगढ़ के सरकारी अस्पतालों में 2014 से 2018 के बीच लगभग डेढ़ लाख प्रसूताओं को आईयूडी लगाया गया है। यह जानकारी जेएचपीआईईजीओ के राज्य कार्यक्रम प्रबंधक डॉ सुरेन्द्र शर्मा एवं संभागीय कार्यक्रम अधिकारी डॉ साहित परमार ने दी। वे जेएचपीआईईजीओ द्वारा राज्य शासन के सहयोग से श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में आयोजित दो दिवसीय उन्नयन कार्यशाला को संबोधित करने यहां आए थे।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

यूथ होस्टल : बीएसपी के बुजुर्ग कार्मिकों ने की हिमालय की साहसिक यात्रा

प्रत्येक 12वें साल गिरती है बिजली और टुकड़े-टुकड़े हो जाता है शिवलिंगBSP Senior Workers Trek the Himalayas

भिलाई। बीएसपी के बुजुर्ग कार्मिकों की एक टीम ने हिमालय को चुनौती दे डाली। इनमें कुछ सेवानिवृत्त कार्मिक भी शामिल थे। यह टीम यूथ होस्टल एसोसिएशन आफ इंडिया की अगुवाई में गए 50 सदस्यीय दल का हिस्सा थी। गलते इस्पात के बीच अपना कर्मजीवन गुजारने वाले इन कार्मिकों ने तंबुओं में रहकर बर्फीला सफर तय किया। छत्तीसगढ़ी गीतों पर जमकर नृत्य किया। बर्फीली वादियों में राउत नाचा कर सबका मन मोह लिया।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare