डॉ संतोष राय इंस्टीट्यूट का फ्यूचर लीडर सेमिनार, इसलिए जरूरी है लेक्चर स्वयं अटेंड करना

भिलाई। कॉमर्स की अग्रणी संस्था डॉ संतोष राय इंस्टीट्यूट द्वारा कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए फ्यूचर लीडर सेमिनार का आयोजन किया गया। मैनेजमेंट गेम्स के द्वारा विद्यार्थियों को यह बताया गया कि लेक्चर स्वयं अटेंड करना क्यों जरूरी है। साथ ही लाइफ में पॉजिटिविटी का सही मर्म भी समझाया गया। दो दिवसीय इस आवासीय सेमिनार का आयोजन होटल अमित पार्क इंटरनेशनल में किया गया।भिलाई। कॉमर्स की अग्रणी संस्था डॉ संतोष राय इंस्टीट्यूट द्वारा कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए फ्यूचर लीडर सेमिनार का आयोजन किया गया। मैनेजमेंट गेम्स के द्वारा विद्यार्थियों को यह बताया गया कि लेक्चर स्वयं अटेंड करना क्यों जरूरी है। साथ ही लाइफ में पॉजिटिविटी का सही मर्म भी समझाया गया। दो दिवसीय इस आवासीय सेमिनार का आयोजन होटल अमित पार्क इंटरनेशनल में किया गया।भिलाई। कॉमर्स की अग्रणी संस्था डॉ संतोष राय इंस्टीट्यूट द्वारा कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए फ्यूचर लीडर सेमिनार का आयोजन किया गया। मैनेजमेंट गेम्स के द्वारा विद्यार्थियों को यह बताया गया कि लेक्चर स्वयं अटेंड करना क्यों जरूरी है। साथ ही लाइफ में पॉजिटिविटी का सही मर्म भी समझाया गया। दो दिवसीय इस आवासीय सेमिनार का आयोजन होटल अमित पार्क इंटरनेशनल में किया गया।गिनीज रिकार्ड होल्डर डॉ संतोष राय ने इस अवसर पर कहा कि अधिकांश स्टूडेंट्स को ऐसा लगता है कि लेक्चर स्वयं अटेंड नहीं किया तो क्या, किसी से पूछ कर लिख लेंगे। पर स्वयं सुनने और किसी और से उसके बारे में सुनने में बहुत फर्क होता है। उन्होंने एक मैनेजमेंट गेम के द्वारा इसे साबित भी किया। उन्होंने एक स्टूडेंट को एक उदाहरण दिया और उसे आगे बढ़ाने के लिए कहा। स्टूडेंट टू स्टूडेंट वह बात आगे बढ़ती गई। अंतिम व्यक्ति तक पहुंचते पहुंचते वह इतनी विकृत हो चुकी थी कि उसे समझना भी संभव नहीं था। डॉ संतोष राय ने बताया कि ऐसा प्रत्येक क्षेत्र में होता है। घटना के प्रत्यक्षदर्शी से लेकर उस खबर को आगे बढ़ाने वाले उसमें इतना कुछ जोड़ घटा देते हैं कि वह अफवाह बनते-बनते रह जाती है।
Future-Leader-Seminar Future-Leader-Workshop-2 भिलाई। कॉमर्स की अग्रणी संस्था डॉ संतोष राय इंस्टीट्यूट द्वारा कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए फ्यूचर लीडर सेमिनार का आयोजन किया गया। मैनेजमेंट गेम्स के द्वारा विद्यार्थियों को यह बताया गया कि लेक्चर स्वयं अटेंड करना क्यों जरूरी है। साथ ही लाइफ में पॉजिटिविटी का सही मर्म भी समझाया गया। दो दिवसीय इस आवासीय सेमिनार का आयोजन होटल अमित पार्क इंटरनेशनल में किया गया।मोटिवेशनल स्पीकर राजेश अग्रवाल ने पॉजिटिविटी को अलग-अलग परिप्रेक्ष्य में देखने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि हाल ही में उनकी माता का स्वर्गवास हो गया। वे स्वयं काफी समय तक सदमे में रहे। कोई सेमिनार नहीं किया। यह निगेटिविटी नहीं है। हम इंसान हैं और हमारी भावनाएं महत्वपूर्ण होती हैं। जीवन में सभी बातों का महत्व है। आवश्यकता इस बात की है कि हम उन्हें यथेष्ठ सम्मान देने के साथ-साथ अपने कर्तव्यों को भी महत्व दें।
सेमिनार में एमसीए मिट्ठू मैडम, सीए प्रवीण बाफना, सीए केतन ठक्कर, सीए दिव्या रत्नानी, पीयूश जोषी, अभिषेक राय, प्रियंका शर्मा, नेहा वर्मा आदि सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>