भिलाई। इंदु आईटी स्कूल में प्री-प्राइमरी विंग के नर्सरी से केजी-2 तक के नन्हे-मुन्ने बच्चों द्वारा श्रीकृष्ण जन्माष्टमी बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। More »

भिलाई। केपीएस के प्रज्ञोत्सव-2019 में आज शास्त्रीय नृत्यांगनाओं ने पौराणिक कथाओं को बेहद खूबसूरती के साथ मंच पर उतारा। भरतनाट्यम एवं कूचिपुड़ी कलाकारों ने महाभारत, More »

भिलाई। कृष्णा पब्लिक स्कूल कुटेलाभाटा ने 73वां स्वतंत्रता दिवस खुले, स्वच्छंद आकाश में ध्वजारोहण करते हर्षोल्लास के साथ मनाया। इस समारोह में स्कूल की बैण्ड More »

भिलाई। संजय रूंगटा ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूशंस द्वारा संचालित रूंगटा पब्लिक स्कूल में 15 अगस्त को स्कूल प्रांगण में कक्षा नसर्री से पहली तक के बच्चों द्वारा More »

भिलाई। डीएवी इस्पात पब्लिक स्कूल सेक्टर -2 में रक्षाबंधन मनाया गया। इस त्यौहार को अग्रिम रूप से कक्षा नसर्री, एलकेजी तथा यूकेजी के छात्रों ने More »

 

Daily Archives: November 8, 2019

विश्वनाथ यादव तामस्कर स्वशासी महाविद्यालय में सीवी रमन को किया याद

दुर्ग। विश्वनाथ यादव तामस्कर स्वशासी पीजी कालेज दुर्ग में महान वैज्ञानिक सीवी रमन का जन्मदिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। भौतिक शास्त्र विभाग द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम का शुभारंभ प्राध्यापकों द्वारा सर सीवी रमन के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन के साथ हुआ। विभागाध्यक्ष डॉ. पूर्णा बोस, डॉ. जगजीत कौर सलूजा एवं डॉ. अनिता शुक्ला ने नोबेल विजेता सर सीवी रमन के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला।दुर्ग। विश्वनाथ यादव तामस्कर स्वशासी पीजी कालेज दुर्ग में महान वैज्ञानिक सीवी रमन का जन्मदिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। भौतिक शास्त्र विभाग द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम का शुभारंभ प्राध्यापकों द्वारा सर सीवी रमन के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन के साथ हुआ। विभागाध्यक्ष डॉ. पूर्णा बोस, डॉ. जगजीत कौर सलूजा एवं डॉ. अनिता शुक्ला ने नोबेल विजेता सर सीवी रमन के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

संतोष रूंगटा समूह के माइनिंग विद्यार्थियों ने खदानों में लिया प्रशिक्षण

भिलाई। संतोष रूंगटा समूह द्वारा कोहका कुरुद में संचालित अभियांत्रिकी महाविद्यालय के माइनिंग विद्यार्थियों ने कोल इंडिया की सबसिडरी एसईसीएल की खदानों में जाकर प्रशिक्षण प्राप्त किया। विद्यार्थियों ने विभिन्न स्थानों का दौरा कर माइनिंग इंजीनियरी से जुड़ी जानकारियां हासिल कीं। विद्यार्थियों के लिए यह एक बेहद रोमांचकारी अनुभव था। इस शैक्षणिक प्रशिक्षण कार्यक्रम के बाद छात्रों में माइनिंग के प्रति रूझान बढ़ा है और वे आगे चलकर इसे करियर के रूप में अपनाने की सोच रहे हैं।भिलाई। संतोष रूंगटा समूह द्वारा कोहका कुरुद में संचालित अभियांत्रिकी महाविद्यालय के माइनिंग विद्यार्थियों ने कोल इंडिया की सबसिडरी एसईसीएल की खदानों में जाकर प्रशिक्षण प्राप्त किया। विद्यार्थियों ने विभिन्न स्थानों का दौरा कर माइनिंग इंजीनियरी से जुड़ी जानकारियां हासिल कीं। विद्यार्थियों के लिए यह एक बेहद रोमांचकारी अनुभव था। इस शैक्षणिक प्रशिक्षण कार्यक्रम के बाद छात्रों में माइनिंग के प्रति रूझान बढ़ा है और वे आगे चलकर इसे करियर के रूप में अपनाने की सोच रहे हैं।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

पीजी कॉलेज ऑफ़ नर्सिंग की डॉ. श्रीलता ने वर्ल्ड कॉन्फ्रेंस में दी भागीदारी

भिलाई। भिलाई एजुकेशन ट्रस्ट द्वारा संचालित पीजी कॉलेज ऑफ़ नर्सिंग की वाइस-प्रिंसिपल प्रो. डॉ. श्रीलता पिल्लै ने 50वीं यूनियन वर्ल्ड कॉन्फ्रेंस ऑन लंग हेल्थ में शिरकत की। इस कॉन्फ्रेंस हेतु राष्ट्रीय स्तर पर भारत से केवल 5 सदस्यों को चुना गया था। कॉन्फ्रेंस में 130 देशों के कुल 3000 प्रतिभागियों ने भाग लिया। कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन उप-राष्ट्रपति वैंकया नायडू ने किया। डॉ श्रीलता इससे पूर्व इंटरनेशनल टी.बी. प्रोजेक्ट के डायरेक्टर तथा इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ़ नर्सेस के साथ हुई साउथ-ईस्ट एशिया रीजनल मीटिंग्स में भी भारतीय प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा रही हैं।भिलाई। भिलाई एजुकेशन ट्रस्ट द्वारा संचालित पीजी कॉलेज ऑफ़ नर्सिंग की वाइस-प्रिंसिपल प्रो. डॉ. श्रीलता पिल्लै ने 50वीं यूनियन वर्ल्ड कॉन्फ्रेंस ऑन लंग हेल्थ में शिरकत की। इस कॉन्फ्रेंस हेतु राष्ट्रीय स्तर पर भारत से केवल 5 सदस्यों को चुना गया था। कॉन्फ्रेंस में 130 देशों के कुल 3000 प्रतिभागियों ने भाग लिया। कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन उप-राष्ट्रपति वैंकया नायडू ने किया। डॉ श्रीलता इससे पूर्व इंटरनेशनल टी.बी. प्रोजेक्ट के डायरेक्टर तथा इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ़ नर्सेस के साथ हुई साउथ-ईस्ट एशिया रीजनल मीटिंग्स में भी भारतीय प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा रही हैं।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

अविश एडुकॉम में फोटोग्राफी प्रतियोगिता-प्रदर्शनी, मोबाइल से किया कमाल

दुर्ग। अविश एडुकॉम में फोटोग्राफी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें प्रशिक्षु छाया-चित्रकारों ने कमाल कर दिया। मोबाइल फोटोग्राफी की इस स्पर्धा का विषय दीपावली की सजावट था। विद्यार्थियों ने दीपक की लौ से लेकर पूजा स्थल की सजावट को कुछ इस तरह कैद किया कि सभी ने दांतों तले उंगलियां दबा लीं। किसी चित्र के केन्द्र में खुद दीपक था तो किसी में दीये की मद्धम रोशनी में चमकता कलश।दुर्ग। अविश एडुकॉम में फोटोग्राफी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें प्रशिक्षु छाया-चित्रकारों ने कमाल कर दिया। मोबाइल फोटोग्राफी की इस स्पर्धा का विषय दीपावली की सजावट था। विद्यार्थियों ने दीपक की लौ से लेकर पूजा स्थल की सजावट को कुछ इस तरह कैद किया कि सभी ने दांतों तले उंगलियां दबा लीं। किसी चित्र के केन्द्र में खुद दीपक था तो किसी में दीये की मद्धम रोशनी में चमकता कलश।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

जीडीआरसीएसटी के बीएड प्रशिक्षुओं ने समझी ‘विशेष बच्चों’ की शिक्षा जरूरतें

भिलाई। संतोष रूंगटा ग्रुप द्वारा संचालित रूंगटा कालेज आॅफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी के बीएड प्रशिक्षुओं ने ‘विशेष बच्चों’ की शिक्षा जरूरतों को समझने के लिए प्रयास विकलांग संस्थान सुपेला का भ्रमण किया। वे सामान्य से अलग इन बच्चों की विशिष्ट क्षमताओं से अवगत हुए तथा उनके टीचिंग लर्निंग प्रोसेस का बारीकी से अध्ययन भी किया। कॉलेज की प्रो. वाणी कापसे व प्रो. टुमन पटेल के मार्गदर्शन में इस दौरान संस्थान में चल रही कक्षाओं तक पहुंचे, जहां शिक्षा ग्रहण कर रहे श्रवण बाधित बच्चों से बीएड के विद्यार्थियों ने परिचय लेते हुए विशेष बच्चों के शिक्षण गतिविधियों को जाना। वहीं शिक्षण योजना व तकनीकियों का अध्ययन किया।भिलाई। संतोष रूंगटा ग्रुप द्वारा संचालित जीडी रुंगटा कालेज ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी के बीएड प्रशिक्षुओं ने ‘विशेष बच्चों’ की शिक्षा जरूरतों को समझने के लिए प्रयास विकलांग संस्थान सुपेला का भ्रमण किया। वे सामान्य से अलग इन बच्चों की विशिष्ट क्षमताओं से अवगत हुए तथा उनके टीचिंग लर्निंग प्रोसेस का बारीकी से अध्ययन भी किया। कॉलेज की प्रो. वाणी कापसे व प्रो. टुमन पटेल के मार्गदर्शन में इस दौरान संस्थान में चल रही कक्षाओं तक पहुंचे, जहां शिक्षा ग्रहण कर रहे श्रवण बाधित बच्चों से बीएड के विद्यार्थियों ने परिचय लेते हुए विशेष बच्चों के शिक्षण गतिविधियों को जाना। वहीं शिक्षण योजना व तकनीकियों का अध्ययन किया।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare