धमतरी। बांस से तो हम सभी परिचित हैं। बांस से बनी सजावटी वस्तुओं के बारे में भी हम सभी जानते हैं पर बांस से जेवर More »

भिलाई। ‘न तो श्रीकृष्ण रणछोड़ थे न ही नारद जी चुगलखोर। दोनों की प्रत्येक क्रिया के पीछे गहरी सोच हुआ करती थी। श्रीकृष्ण ने कालयवन More »

भिलाई। सेन्ट्रल एवेन्यू पर धूम मचाने वाली ‘तफरीह’ एक बार फिर प्रारंभ होने जा रही है। महापौर एवं विधायक देवेन्द्र यादव की यह महत्वाकांक्षी योजना More »

भिलाई। इंदु आईटी स्कूल में प्री-प्राइमरी विंग के नर्सरी से केजी-2 तक के नन्हे-मुन्ने बच्चों द्वारा श्रीकृष्ण जन्माष्टमी बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। More »

भिलाई। केपीएस के प्रज्ञोत्सव-2019 में आज शास्त्रीय नृत्यांगनाओं ने पौराणिक कथाओं को बेहद खूबसूरती के साथ मंच पर उतारा। भरतनाट्यम एवं कूचिपुड़ी कलाकारों ने महाभारत, More »

 

Daily Archives: November 10, 2019

सपनों को साकार करने में वास्तुविद निभाते हैं अहम भूमिका-अम्बरीश सिंह

भिलाई। आज के आधुनिक परिवेश में लोगों में आकिर्टेक्ट (वास्तुविदों) के बारे में जानकारी के अभाव के कारण पड़ने वाले प्रभाव पर परिचर्चा का आयोजन इंडिया कॉफी हाऊस सेक्टर 10 में शहर के वरिष्ठ आर्किटेक्ट अम्बरीश कुमार सिंह व योगेश चांडक के निर्देशन में किया गया। अम्बरीश कुमार सिंह ने कहा कि लोगों में आर्किटेक्ट को लेकर जो विभिन्न भ्रांतियाँ हैं उसे दूर किया जाना चाहिए। लोगों के सपने को साकार करने में वास्तुविदों की अहम भूमिका रहती है।भिलाई। आज के आधुनिक परिवेश में लोगों में आकिर्टेक्ट (वास्तुविद) के बारे में जानकारी के अभाव के कारण पड़ने वाले प्रभाव पर परिचर्चा का आयोजन इंडिया कॉफी हाऊस सेक्टर 10 में शहर के वरिष्ठ आर्किटेक्ट अम्बरीश कुमार सिंह व योगेश चांडक के निर्देशन में किया गया। अम्बरीश कुमार सिंह ने कहा कि लोगों में आर्किटेक्ट को लेकर जो विभिन्न भ्रांतियाँ हैं उसे दूर किया जाना चाहिए। लोगों के सपने को साकार करने में वास्तुविदों की अहम भूमिका रहती है।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

पद्मावती ने किया जौहर तो किसे लेकर लौटे खिलजी, रूंगटा नाट्यशाला की प्रस्तुति

भिलाई। संतोष रूंगटा समूह द्वारा कोहका कुरुद कैम्पस में संचालित महाविद्यालयों की नाट्यशाला ग्रुप ने रानी पद्मावती के जौहर के बाद खिलजी के फ्रस्ट्रेशन को कुछ ऐसा रंग दिया कि दर्शक हंसते हंसते लोटपोट हो गए। खाली हाथ लौटना खिलजी का स्वभाव नहीं था तो आखिर उसने ऐसा क्या किया कि प्रेक्षागृह ठहाकों से गूंज उठा। साथ ही फिल्म पद्मावत के मशहूर गीत खली-बली हो गया है दिल का कुछ ऐसा रंग जमाया कि लोग वाह! वाह!! कर उठे।भिलाई। संतोष रूंगटा समूह द्वारा कोहका कुरुद कैम्पस में संचालित महाविद्यालयों की नाट्यशाला ग्रुप ने रानी पद्मावती के जौहर के बाद खिलजी के फ्रस्ट्रेशन को कुछ ऐसा रंग दिया कि दर्शक हंसते हंसते लोटपोट हो गए। खाली हाथ लौटना खिलजी का स्वभाव नहीं था तो आखिर उसने ऐसा क्या किया कि प्रेक्षागृह ठहाकों से गूंज उठा। साथ ही फिल्म पद्मावत के मशहूर गीत खली-बली हो गया है दिल का कुछ ऐसा रंग जमाया कि लोग वाह! वाह!! कर उठे।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

व्हालीबॉल में कन्या महाविद्यालय की हैट्रिक, वैशाली बनी उपविजेता

दुर्ग। सेक्टर स्तरीय महिला व्हालीबॉल प्रतियोगिता में लगातार तीसरी बार जीत दर्ज कर शासकीय डॉ वावा पाटणकर कन्या महाविद्यालय ने हैट्रिक करते हुए ट्राफी अपने नाम किया। उपविजेता की ट्राफी शासकीय महाविद्यालय वैशालीनगर के नाम रहा। बीआईटी ग्राउण्ड्स में खेले गए इस मैच में बीआईटी की क्रीड़ा प्रभारी निर्मल सिंह मुख्य अतिथि थे। इस प्रतियोगिता में दस महाविद्यालयों की टीमों ने भाग लिया था।दुर्ग। सेक्टर स्तरीय महिला व्हालीबॉल प्रतियोगिता में लगातार तीसरी बार जीत दर्ज कर शासकीय डॉ वावा पाटणकर कन्या महाविद्यालय ने हैट्रिक करते हुए ट्राफी अपने नाम किया। उपविजेता की ट्राफी शासकीय महाविद्यालय वैशालीनगर के नाम रहा। बीआईटी ग्राउण्ड्स में खेले गए इस मैच में बीआईटी की क्रीड़ा प्रभारी निर्मल सिंह मुख्य अतिथि थे। इस प्रतियोगिता में दस महाविद्यालयों की टीमों ने भाग लिया था।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

सेक्टर स्तरीय महिला व्हालीबॉल, खुर्सीपार महाविद्यालय को बढ़त

दुर्ग। शास. डॉ. वा.वा. पाटणकर कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय दुर्ग के तत्वाधान में सेक्टर स्तरीय महिला व्हालीबॉल प्रतियोगिता का आयोजन बीआईटी के मैदान में आयोजित किया जा रहा है। प्रतियोगिता का उद्घाटन महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. सुशील चन्द्र तिवारी ने किया, कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय क्रीड़ासमिति के संयोजक डॉ. के.एल. राठी तथा उच्च शिक्षा विभाग के पयर्वेक्षक डॉ. प्रमोद यादव की उपस्थिति में हुआ। इसमें दस महाविद्यालयों की टीमें भाग ले रही हैं।दुर्ग। शास. डॉ. वा.वा. पाटणकर कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय दुर्ग के तत्वाधान में सेक्टर स्तरीय महिला व्हालीबॉल प्रतियोगिता का आयोजन बीआईटी के मैदान में आयोजित किया जा रहा है। प्रतियोगिता का उद्घाटन महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. सुशील चन्द्र तिवारी ने किया, कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय क्रीड़ासमिति के संयोजक डॉ. के.एल. राठी तथा उच्च शिक्षा विभाग के पयर्वेक्षक डॉ. प्रमोद यादव की उपस्थिति में हुआ। इसमें दस महाविद्यालयों की टीमें भाग ले रही हैं।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस का आयोजन

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपांनद सरस्वती महाविद्यालय द्वारा 11 अक्तूबर को अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्देश्य बेटा-बेटी एक समान की भावना को उभारना था। दिवस विशेष पर महाविद्यालय के प्राध्यापकों ने छात्र समुदाय से इस विषय पर चर्चा की तथा बदलते वैश्विक परिप्रेक्ष्य में इसके प्रभाव का भी अध्ययन किया।भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपांनद सरस्वती महाविद्यालय द्वारा 11 अक्तूबर को अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्देश्य बेटा-बेटी एक समान की भावना को उभारना था। दिवस विशेष पर महाविद्यालय के प्राध्यापकों ने छात्र समुदाय से इस विषय पर चर्चा की तथा बदलते वैश्विक परिप्रेक्ष्य में इसके प्रभाव का भी अध्ययन किया। प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला ने कहा कि वर्तमान समय में बेटा और बेटी में किसी भी प्रकार की कोई असमानता नहीं है। आज बेटे भी वही कार्य कर रहे हैं जो बेटियां कर रही हैं। यह परिवर्तन निश्चित ही देश को आगे ले जाएगा।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

साइंस कालेज के सर्वश्रेष्ठ एनएसएस स्वयंसेवकों का हुआ सम्मान

दुर्ग। शासकीय वीवायटी पीजी कालेज की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के सात दिवसीय विशेष शिविर के प्रतिभागी स्वयंसेवकों को विभिन्न गतिविधियों में पुरस्कृत किया गया। सभी प्रतिभागियों को प्राचार्य डॉ. आरएन सिंह द्वारा प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। दलनायक जीवेष देशमुख तथा दलनायिका विष्णु आडिल को सर्वश्रेष्ठ स्वयंसेवक का पुरस्कार प्रदान किया गया। छात्रों के हिमालय पर्वत एवं अरावली पर्वत समूह तथा छात्राओं के गोदावरी एवं यमुना समूह को क्रमश: प्रथम एवं द्वितीय पुरस्कार प्रदान किया गया।दुर्ग। शासकीय वीवायटी पीजी कालेज की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के सात दिवसीय विशेष शिविर के प्रतिभागी स्वयंसेवकों को विभिन्न गतिविधियों में पुरस्कृत किया गया। सभी प्रतिभागियों को प्राचार्य डॉ. आरएन सिंह द्वारा प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। दलनायक जीवेष देशमुख तथा दलनायिका विष्णु आडिल को सर्वश्रेष्ठ स्वयंसेवक का पुरस्कार प्रदान किया गया। छात्रों के हिमालय पर्वत एवं अरावली पर्वत समूह तथा छात्राओं के गोदावरी एवं यमुना समूह को क्रमश: प्रथम एवं द्वितीय पुरस्कार प्रदान किया गया।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare