Daily Archives: February 14, 2020

रूंगटा कानिर्वाल-2020 में असीस ने बिखेरी पंजाब की सुगंध, झूमे दर्शक

Asees Kaur rocks the stage in Rungta Carnivalभिलाई। हौसलों में उड़ान तो थी ही, अब तो पंख भी लग गए। कुछ ऐसा ही दिखा रूंगटा कार्निवाल-2020 में। स्टूडेंट्स की प्रतिभा को उनकी बंद जुबान के सामने नहीं परखा जा सकता, लेकिन रूंगटा कार्निवाल ने संजय रूंगटा कैम्पस के विद्यार्थियों को ऐसा मंच प्रदान कर दिया, जिससे पता चला कि कैम्पस के विद्यार्थी कितने हुनरमंद हैं। उक्त विचार संजय रूंगटा ग्रुप ऑफ  इंस्टीट्यूशंस के चेयरमैन संजय रूंगटा ने मुख्य अतिथि की आसंदी से व्यक्त किये।  सेलिब्रिटी नाईट का आगाज बॉलीवुड सिंगर असीस कौर के सुमधुर गीतों से हुआ।

पुलवामा हमले में शहीद जवानों को स्वरूपानंद महाविद्यालय ने दी श्रद्धांजलि

SSSSMV pays tribute to Pulwama Martyrsभिलाई। स्वामी श्री स्वरुपानंद सरस्वती महाविद्यालय में हेल्दी प्रैक्टिस सेल द्वारा 14 फरवरी 2019 पुलवामा हमले में शहीद जवानों को विद्याथिर्यों द्वारा रंगोली बनाकर श्रद्धांजली दी गयी। महाविद्यालय के प्राध्यापकों द्वारा 2 मिनट का मौन धारण कर उनकी शहादत को याद किया गया। यह आयोजन विद्यार्थियों के मन में देशभक्ति की भावना जागृत करने तथा अपने देश की सुरक्षा के प्रति सजग और तत्पर रहने के उद्देश्य से किया गया।

शंकराचार्य महाविद्यालय के वाणिज्य विभाग द्वारा पावर ऑफ अकाउंटिंग पर संगोष्ठी

Guest lecture on power of accounting in Shri Shankaracharya Mahavidyalayaभिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय के वाणिज्य विभाग द्वारा ‘पावर ऑफ अकाउंटिंग एंड टैक्सेशन इन क्रिएशन ऑफ मॉडर्न इंडिया’ विषय पर एक दिवसीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता आईसीएएड्यू स्किल प्रा. लिमि. के डायरेक्टर सीएन श्रीनिवास थे। उन्होंने अकाउंटिंग एवं टैक्सेशन प्रोसेस में आईसीटी के प्रयोग पर रोचक एवं ज्ञानवर्धक व्याख्यान दिया। उन्होंने बताया कि वतर्मान युग में उद्यमी इतना आईसीटी बेस्ड कार्य कर रहा है कि माल के उत्पादन से लेकर विक्रय तक की समस्त जानकारी उपलब्ध रहती है।

देवसंस्कृति कालेज में पीजीडीसीए का शत प्रतिशत परिणाम

Dev Sanskriti College 100 pc result in PGDCAखपरी (दुर्ग)। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित पीजीडीसीए प्रथम सेमेस्टर का परीक्षा परिणाम जारी किया गया। देव संस्कृति कालेज ऑफ़ एजुकेशन एंड टेक्नोलॉजी का परीक्षा परिणाम शत प्रतिशत रहा। महाविद्यालय प्रावीण्य सूची में योगिता पटेल, स्मिता साव, मुक्ता, लीकेश कुमार साहू, टीला, सुनीता साहू, बसंत ने स्थान बनाया। सभी विद्यार्थियों ने 60 फीसदी से अधिक अंक प्राप्त किये।

एमजे कालेज के वार्षिक क्रीड़ोत्सव में तीरंदाजी, वालीबाल, कबड्डी, खो-खो में जंग

Volley-Ball-MJ-College भिलाई। एमजे कालेज का 19वां वार्षिक क्रीड़ोत्सव शुक्रवार को सम्पन्न हो गया। इस अंतर महाविद्यालयीन प्रतियोगिता में व्यक्तिगत एवं टीम गेम्स खेले गए। तीरंदाजी में वाणिज्य, खो-खो बालिका में नर्सिंग, वालीबाल बालक में फार्मेसी तथा कबड्डी बालक में फार्मेसी कालेज की टीम विजेता रही। बालिका कबड्डी टीम इवेन्ट का खिताब नर्सिंग महाविद्यालय ने जीत लिया। महाविद्यालय की निदेशक श्रीलेखा विरुलकर के दिशानिर्देश में आयोजित दो दिवसीय क्रीड़ा उत्सव का आज दूसरा दिन था।

एमजे कालेज के वार्षिक क्रीड़ोत्सव में तीरंदाजी, घुड़सवारी सहित अनेक स्पर्धाएं

Horse Riding at MJ Collegeभिलाई। एमजे कालेज का वार्षिक क्रीड़ोत्सव इस वर्ष अनेक रंगों को अपने में समेटे हुए है। एक तरफ जहां घुड़सवारी एवं तीरंदाजी जैसे ईवेन्ट्स को इसमें शामिल किया गया वहीं छात्राओं के लिए हेयर स्टाइल, नेल आर्ट, मेहंदी, नारियल सजाओ आदि प्रतियोगिताएं भी इसमें शामिल की गईं। इसके साथ ही नियमित खेलों में खो-खो, कबड्डी, वालीबाल, रंगोली जैसी प्रतिस्पर्धाएं भी हो रही हैं।

चित्रगुप्त मंदिर में सुन्दरकाण्ड के पाठ के साथ ही भजन संध्या का आयोजन

Sunderkand at Shri Chitragupta Mandir Samitiभिलाई। श्री चित्रगुप्त मंदिर समिति द्वारा संचालित श्री चित्रगुप्त मंदिर सेक्टर-6 में सुन्दरकाण्ड पाठ का अनुष्ठान किया गया। माया श्रीवास्तव द्वारा संचालित हरिओम भजन मंडली ने संगीतमय पाठ किया। इस अवसर पर मंदिर समिति की महिलाओं ने भी भजन प्रस्तुत किए। भक्तिमय वातावरण का लाभ मंदिर परिसर के साथ ही आसपास के लोगों ने भी लिया। इस अभूतपूर्व आयोजन के लिए वरिष्ठजनों ने मंदिर समिति की कार्यकारिणी को बधाई दी है।

चटख रंगों से सजा है नन्दिनी का रचना संसार, अभिव्यक्त होती है सरलता

नेहरू आर्ट गैलरी भिलाई में एकल प्रदर्शनी का शुभारंभ, युवा कलाकारों के साथ ही पहुंचे कला मर्मज्ञ भी

Nandini Verma displayes her paintings in Nehru Art Galleryभिलाई। आधुनिक जीवन शैली के नीचे कहीं दब गई है हमारी मौलिकता। खो गए हैं वो पल, जिनके लिए मन तड़पता है। सखियों का साथ बैठना, हंसना-खिलखिलाना, अभिसारिका के हाथों के कोमल स्पर्श को महसूस करना, संतान से जीवन्त सम्पर्क, नन्दिनी के चित्रों में वह सबकुछ है जो सुखद जीवन के अपरिहार्य अंग हैं। नन्दिनी की तूलिका इन प्रसंगों को चटख रंगों से जीवंत कर देती है। जीवन प्रवाह ‘फ्लो ऑफ़ लाइफ’ का उनका समृद्ध संग्रह बरबस ही आपको एक अलग दुनिया में ले जाता है। उनके अमूर्त एवं साकार चित्रों में जनजीवन को भी अभिव्यक्ति मिलती है। उनकी कृतियों की प्रदर्शनी नेहरू आर्ट गैलरी में गुरुवार को प्रारंभ हुई।