बच्ची की अंतड़ियों तक पहुंच गया था कांच, स्पर्श में बची जान

Sparsh Hospitalभिलाई। राजनांदगाव की एक छह वर्षीय बच्ची की जान बचाने में स्पर्श मल्टीस्पेशालिटी हॉस्पिटल को सफलता मिली है। बच्ची कांच पर गिर पड़ी थी। कांच उसके पेट को चीरता हुआ अंतड़ियों तक पहुंच गया था। राजनांदगांव मेडिकल कालेज से उसे हायर सेन्टर के लिए रिफर कर दिया गया था। स्पर्श मल्टीस्पेशालिटी हॉस्पिटल में उसकी सर्जरी कर दी गई। घटना ग्राम पिनकापार की है। छह वर्षीय लवली साहू एक सामाजिक कार्यक्रम में शामिल थी। खेलते खेलते वह गिर पड़ी। वहां कांच पड़ा था। कांच उसके पेट में धंस गया। खून बहता देखकर उसे आनन फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया गया। यहां मरहम पट्टी कर उसे बड़े अस्पताल जाने की सलाह दी गई।
कोरोना लॉकडाउन के कारण अधिकांश अस्पतालों में सर्जरी नहीं हो पा रही थी। राजनांदगांव मेडिकल कालेज में जाने पर उन्होंने मरीज को मेकाहारा रायपुर रिफर कर दिया। फिर उन्होंने अपने स्रोतों से जानकारी ली और बच्ची को स्पर्श मल्टीस्पेशालिटी हॉस्पिटल ले आए।
डॉ राहुल सिंह ने बताया कि बच्ची का काफी खून बह चुका था। उसे तेज बुखार भी था। सर्जरी तत्काल करना जरूरी था। बच्ची को स्टेबलाइज किया गया और फिर सर्जरी के लिए लिया गया। कांच से न केवल पेट की दीवार जख्मी हुई थी बल्कि अंतड़ियां भी घायल हो गई थीं। अंतड़ी का एक हिस्सा बाहर निकल आया था। सर्जरी कर इसे ठीक कर दिया गया।
बच्ची अब स्वस्थ है। उनके माता पिता ने इस मुश्किल घड़ी में मरीज की जान बचाने वाले स्पर्श के चिकित्सकों के प्रति आभार व्यक्त किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *