उड़ान ने महिलाओं को दिया धान और मसालों से राखी बनाने का प्रशिक्षण

Udaan gives training on Rakhi makingभिलाई। उड़ान एक मंजिल द्वारा आयोजित कांट्रेक्टर कॉलोनी में अध्यक्ष अंजू साहू के नेतृत्व में महिलाओं को धान, चावल और मसाले से बनी राखियां सिखाई गई।यह राखी बनाना हेमा साहू के द्वारा सिखाया गया जिसमें सोसल डिस्टेंस का पालन करते हुए बीस महिलाओं को ये प्रशिक्षण दिया गया। कोरोना काल में लोगों की आर्थिक स्थिति को देखते हुए घर में रखे सामानों सेभी हम भाईयों को राखी बनाकर पहना सकते हैं।अंजू साहू ने बताया छत्तीसगढ़ को धान का कटोरा कहा जाता है तो क्यो ना हम धान से बने राखी बनाकर कर भाईयों को पहनाये।ये अगर टूट भी जाये तो चिड़ियों के लिए आहार बन सकता है और मसाले भी काम आ सकते हैं। धान खराब भी नहीं होता क्योंकि इसे ऐसिड डाल कर धोया जाता है। उड़ान एक मंजिल की बहनें आडर आने पर ये राखियां बनाती है। इससे महिलाओं को घर बैठे रोजगार भी मिल रहा है और लोगों में उत्साह देखने को भी मिल रहा है क्योंकि ये दुकान से कम दाम में उपलब्ध हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *