ऑनलाइन क्लासों पर शिक्षा मंत्रालय की “प्रज्ञाता” गाइडलाइंस, जानें क्या कहा

Online class guidelines by MHRDनई दिल्ली। 14 जुलाई को मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने “प्रज्ञाता” के नाम से एक गाइडलाइंस जारी की है। इसमें बताया गया है कि एक दिन में क्लास कितने देर की हो और कितना सेशन हो। कोविड-19 के बाद के हालात में ऑफलाइन क्लासों का आयोजन मुश्किल है। ऐसे में स्कूलों ने ऑनलाइन क्लासेज शुरू की है। ऑनलाइन क्लासों में छात्रों का स्क्रीन टाइम बढ़ गया है। इसको लेकर अभिभावकों ने चिंता जताई जिसके बाद मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से गाइडलाइंस जारी की गई है।इस गाइडलाइंस का नाम ‘प्रज्ञाता’ है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने इसके माध्यम से अनुशंसा की है कि प्री प्राइमरी के छात्रों के लिए ऑनलाइन क्लास 30 मिनट से ज्यादा समय की नहीं होनी चाहिए। पहली से आठवीं तक के लिए 45-45 मिनट के दो ऑनलाइन सेशन और 9वीं से 12वीं तक के लिए 30-45 मिनट्स के चार सेशन की सिफारिश की गई है।

मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने कहा, ‘कोविड-19 महामारी की वजह से स्कूल बंद हो गए हैं और स्कूलों में पढ़ रहे देश के करीब 24 करोड़ बच्चे प्रभावित हुए हैं। स्कूलों को ज्यादा समय तक बंद रहने से छात्रों की पढ़ाई का नुकसान होगा। महामारी के असर को कम करने के लिए स्कूलों को न सिर्फ अब तक अपनाए गए पढ़ाने और सिखाने के मॉडल को बदलना होगा बल्कि उनको एक उपयुक्त सिस्टम भी अपनाना होगा।’
उन्होंने कहा, ‘गाइडलाइंस को छात्रों के दृष्टिकोण से तैयार किया गया है। इसमें उन छात्रों के लिए ऑनलाइन, मिले-जुले और डिजिटल एजुकेशन पर जोर दिया गया है जो लॉकडाउन की वजह से घर पर हैं। डिजिटल शिक्षा से संबंधित इन गाइडलाइंस से शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाने के उद्देश्य से ऑनलाइन शिक्षा को आगे बढ़ाने के लिए रोडमैप या पॉइंटर्स मुहैया कराए गए हैं।’
आपको बता दें कि कोरोनावायरस संक्रमण पर काबू पाने के लिए देश भर में लॉकडाउन का ऐलान 24 मार्च को किया गया था। इसके अगले दिन से लॉकडाउन प्रभावी हो गया था। लॉकडाउन की वजह से देश भर में यूनिवर्सिटी और स्कूल बंद हैं। छात्रों की पढ़ाई प्रभावित न हो, इस बात को ध्यान में रखकर स्कूलों ने ऑनलाइन क्लास की शुरुआत की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *