श्रीशंकराचार्य कालेज – संडे कैम्पस देशभक्ति गीत स्पर्धा में 453 प्रविष्टियां, ये रहे नतीजे

Patriotic Song SSMVभिलाई। स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में श्री शंकराचार्य महाविद्यालय जुनवानी भिलाई एवं ई-पत्रिका संडे कैम्पस द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित देशभक्ति गीत प्रतियोगिता को अच्छा प्रतिसाद मिला है। इस वर्चुअल प्रतियोगिता में देशभर से 453 प्रविष्टियां प्राप्त हुईं। 14 प्रदेशों से आई इन प्रविष्टियों में हिन्दी, बांगला एवं तमिल भाषा में भी प्रविष्टियां प्राप्त हुई हैं। इसमें 5 साल से लेकर 73 साल के प्रतिभागी शामिल हैं। ये रही सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतियां।Patriotic Song Competitionआंतरिक मूल्यांकन टीम ने इसकी स्क्रीनिंग की तथा 10 प्रतिशत प्रविष्टियों को निर्णायकों की टीम के सुपुर्द किया। प्रतिभागियों की संख्या और प्रस्तुतियों की उत्कृष्टता के चलते दो वर्गों में आयोजित इस स्पर्धा में विजेताओं को चार वर्गों में विभक्त किया गया। पुडुचेरी, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, गुजरात, हरियाणा, असम, पश्चिम बंगाल, ओडीशा, मध्यप्रदेश, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश एवं छत्तीसगढ़ से प्राप्त इन प्रविष्टियों का मूल्यांकन निर्णायक मंडल के जेएमसी लाइव बैण्ड के निदेशक बरुन चक्रबोर्ती एवं गौतमी चक्रबोर्ती तथा गीत वितान कलाकेन्द्र के संचालक मिथुन दास ने किया। प्रतियोगिता की अनंतिम सूची स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जारी की जा रही है।
श्रीशंकराचार्य महाविद्यालय की निदेशक सह प्राचार्य डॉ रक्षा सिंह ने कहा कि देशभर से इतनी बड़ी संख्या में आई प्रविष्टियों ने एक बार फिर साबित कर दिया कि प्रांत, भाषा, भोजन और पहनावा अलग होने के बावजूद हम सब भारतीय एक हैं। क्षेत्रीय भाषाओं की प्रविष्टियों ने हमारी भाषाई एकता को भी पुष्ट किया है। 6 साल से लेकर 73 साल की उम्र के लोगों ने जिस जज्बे के साथ इसमें प्रतिभागिता दी उसे हम सलाम करते हैं।
संडे कैम्पस के मॉडरेटर दीपक रंजन दास ने कहा कि गीतों की उत्कृष्टता ने निर्णायकों का कार्य बेहद कठिन कर दिया। आंतरिक मूल्यांकन में तीन लोगों की टीम ने 453 गीतों में से 43 प्रतिनिधि रचनाओं को अलग कर निर्णायक मंडल को भेजा। स्वतंत्रता दिवस के उपलशक्ष्य में आयोजित इस प्रतियोगिता के विजेताओं की अनंतिम सूची आज जारी की जा रही है। विजेता सूची पर अंतिम सूची के लिए उसे जूरियों को भेजा जाएगा। प्रतिनिध रचनाओं को संडे कैम्पस के यूट्यूब चैनल पर आज जारी किया जा रहा है।
हिन्दी से इतर भारतीय भाषा की श्रेणी में प्रथम स्थान वर्धमान पश्चिम बंगाल के सुमन दास, द्वितीय स्थान तमिलनाडु की टी हेमा तथा तृतीय स्थान तमिलनाडु की ही श्यामला को प्रदान किया गया। इसी तरह 10 वर्ष से कम आयु वर्ग में प्रथम स्थान महाराष्ट्र की निमिषा जैन (5 वर्ष), द्वितीय स्थान महाराष्ट्र की धृति तथा तृतीय स्थान अमरावती महाराष्ट्र के वेदांत नितिन शिरभाटे को प्रदान किया गया। इसी वर्ग में दिव्यांग बालिका ठाणे महाराष्ट्र की श्रेया राहुल को प्रदान किया गया।
11 से 18 वर्ष आयु वर्ग के प्रथम स्थान पर अरना प्रशांत गडपाइले, द्वितीय स्थान भिलाई के अर्शिल खान एवं दुर्ग की पूर्वा श्रीवास्तव को संयुक्त रूप से प्रदान किया गया। तृतीय स्थान मुरादाबाद उत्तर प्रदेश की सिमरन सैनी एवं भिलाई की भूमि परदेशी को संयुक्त रूप से प्रदान किया गया। 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में प्रथम स्थान जमशेदपुर झारखण्ड की ज्योति कुमारी चौधरी, दूसरा स्थान साइकिया असम की एलोरा गोहाई तथा तीसरा स्थान भिलाई के ज्ञान चतुर्वेदी को प्रदान किया गया।
निर्णायकों के लिए यह चयन बेहद कठिन था। अधिकांश प्रतिभागियों ने कठिन गीतों का चयन किया था। अन्य प्रशंसित प्रविष्टियों में 11-18 वर्ष आयुवर्ग में केपीएस भिलाई की छात्रा अनुपमा बैनर्जी, पुरुलिया पश्चिम बंगाल की आहेली बनर्जी, तमिलनाडु की निर्मला पर्सीलिया शामिल हैं। इसी तरह 18 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग में असम की अम्बालिका हसनू, पटना की कोमल कश्यप, नागपुर के आशीष चोपड़ा, जमशेदपुर की ज्योति कुमारी चौधरी, भिलाई की संगीता शास्त्री एवं मुम्बई के विनोद प्रसाद की बेहद सराहना की गई है। यह अनंतिम सूची है।

3 thoughts on “श्रीशंकराचार्य कालेज – संडे कैम्पस देशभक्ति गीत स्पर्धा में 453 प्रविष्टियां, ये रहे नतीजे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *