कार्य के प्रति समर्पित रहेंगे तो इधर उधर नहीं जाएगा ध्यान : श्रीलेखा

एमजे स्कूल में शिक्षक दिवस पर निदेशक ने दी आगे बढ़ने की सीख
Teachers Day MJ Schoolभिलाई। शिक्षक दिवस के अवसर पर एमजे स्कूल में पूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वेपल्ली राधाकृष्णन को याद किया गया। इस अवसर पर एमजे समूह की निदेशक श्रीलेखा विरुलकर ने शिक्षकों से अपने कार्य के प्रति समर्पित रहने का आह्वान करते हुए कहा कि नकारात्मकता को अपने आस-पास फटकने से रोकने का यह सर्वोत्तम तरीका है। नकारात्मक बातें आपकी ऊर्जा को नष्ट करती हैं और इससे समय का अपव्यय भी होता है।अमेरिका के कारपोरेट कल्चर का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि वहां किसका कितना वेतन है, इसकी जानकारी न तो कोई शेयर करता है और न ही जानने की कोशिश करता है। लोग अपने कार्य के प्रति फोकस्ड रहकर अपनी क्षमताओं को बढ़ाते चले जाते हैं और उनकी तरक्की होती चली जाती है। यदि भारत में भी लोग इसी तरह काम करने लगें और अपनी सोच को सकारात्मक बनाए रखें तो इसका लाभ उन्हें अपने करियर में मिलना तय है।
एमजे स्कूल की हेड मिस्ट्रेस मुनमुन चटर्जी ने स्वागत भाषण दिया। इस अवसर पर एमजे कालेज के प्राचार्य डॉ अनिल चौबे, शिक्षा विभाग की अध्यक्ष डॉ श्वेता भाटिया, आईक्यूएसी प्रभारी अर्चना त्रिपाठी का सम्मान भी किया गया। महाविद्यालय परिवार की ओर से एमजे स्कूल की प्रभारी मुनमुन चटर्जी, शमानूर अहमद, हरमन रंधावा, नीलोफर खान, अमित मेसेकर एवं अन्य का अभिनन्दन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *