कोरोना संकट में किसानों का सहारा बनी राजीव गांधी किसान न्याय योजना

Rajeev Gandhi Kisan Nyay Yojanaबेमेतरा। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत बेमेतरा जिले के ग्राम सिंगदेही के किसान चंदूलाल को द्वितीय किस्त कि राशि 10572.98 मिलने पर उसने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रति आभार जताया। चंदूलाल ने बताया कि वह वर्ष 2019-20 में सेवा सहकारी समिति सरदा के अंतर्गत धान उर्पाजन केन्द्र सरदा 58.80 क्विंटल धान बेचा था। अब राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत 106722.00 रूपये कि सहायता राशि चार किस्तों में किसान को मिलेगी। जिसके द्वितीय किस्त कि राशि 20 अगस्त को 10572.98 रूपए उनके बैंक खाते में आ गया है। उन्होने बताया कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत प्राप्त सहायता राशि चालू खरीफ सीजन में खेती-किसानी की तैयारी करने में मददगार होगी। उक्त सहायता राशि से बेहतर तरीके से खेती-किसानी करेगी। खाद, बीज आदि की व्यवस्था करने में आसानी होगी। उन्होने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि छत्तीसगढ शासन ने किसानों कि समस्याओं को समझा और लाकॅडाउन की इस कठिन परिस्थिति में राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत आर्थिक मदद दी। उन्होन खुशी जाहिर करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने किसानों कि समस्याओं को समझा और राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत लाकॅडाउन के कठिन समय से गुजर रहे किसानों के खातों में धान उपार्जन की राशि अंतरित की गई। राज्य सरकार की राजीव गांधी किसान न्याय योजना लॉकडाउन के समय बेमेतरा जिले के लघु-सीमांत किसानों को आर्थिक सबल दे रही है। जिले के साजा विकासखण्ड ग्राम मोहतरा के किसान श्री पवन कुमार को इस योजना के तहत उनके खाते में 10 हजार आठ सौ की राशि जमा हुई है। ग्राम बासीन किसान श्री बाबूलाल को इस योजना के तहत उनके खाते में 8 हजार चार सौ रू. जमा हुई है। बेमेतरा विकासखण्ड ग्राम कंतेली के किसान महावीर वर्मा को इस योजना के तहत उनके खाते में 9 हजार चार सौ रू. जमा हुई है। नवागढ़ विकासखण्ड ग्राम अंधियारखोर के किसान श्री रमेश साहू को इस योजना के तहत उनके खाते में 6 हजार एक सौ रू. जमा हुई है। विकासखण्ड बेरला ग्राम सिंगदेही के किसान श्री हिरावन साहू को इस योजना के तहत 17 हजार एक सौ रू. जमा हुई है। इन सभी किसानों ने छ.ग. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को धन्यवाद देते हुए कहा की लॉकडाउन के इस संकट के घड़ी में प्रदेश सरकार ने सही समय पर बैंक खाते में पैसे दिये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *