देवसंस्कृति कालेज ऑफ एजुकेशन में विश्व साक्षरता दिवस मनाया गया

DSCET Litery Day celebratedखपरी (दुर्ग)। देव संस्कृति कालेज ऑफ एजुकेशन एंड टेक्नोलॉजी खपरी में विश्व साक्षरता दिवस मनाया गया। कोविड-19 निर्देशों का पालन करते हुए स्टाफ ने अपने विचार व्यक्त किये। चलो पढ़ें और पढ़ाएं, निरक्षरता को जड़ से मिटाएं की उक्ति को सार्थक बनाने का संकल्प लिया गया।महाविद्यालय की निदेशक ज्योति शर्मा ने साक्षरता संकल्प दिलाया। उन्होंने कहा कि शिक्षा एक अतुलनीय गहना है जिसे हमें हमेशा धारण किए रहना चाहिए। शिक्षा के क्षेत्र में लिंग आधारित भेदभाव नहीं होना चाहिए। बेटी का पढ़ना ज्यादा जरूरी है क्योंकि महिला शिक्षित होती है तो पूरा परिवार, पूरा समाज और देश शिक्षित होता है। एक शिक्षित महिला एक बेहतर इंसान, सफल मां और एक जिम्मेदार नागरिक हो सकती है। इसका दूरगामी परिणाम अपराध मुक्त समाज के निर्माण के रूप में सामने आएगा।प्राचार्य डॉ कुबेर सिंह गुरुपंच ने कहा कि स्वच्छ एवं सुखी जीवन के लिए महिलाओं को शिक्षित करना बहुत जरूरी है। इसमें पुरुष वर्ग को भी आगे आना चाहिए और उनके आत्मसम्मान को बढ़ावा देना चाहिए। एक शिक्षित महिला को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होना चाहिए।इस अवसर पर स्टाफ सदस्य बबली रीना साहू, ममता दुबे, जयहिंद कछौरिया, ज्योति पुरोहित, रीना मानिकपुरी, कीर्ति लता सोनी, प्रीति पाण्डेय, शाहिना बेगम, चित्रलेखा रघुवंशी, वर्षा शर्मा, सरिता झा, श्वेता साव आदि ने भी अपने विचार रखे। महाविद्यालय के प्रबंधक वासुदेव प्रसाद शर्मा ने साक्षरता दिवस की बधाई प्रेषित की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *