Daily Archives: September 20, 2020

लॉकडाउन खत्म होने के बाद जमा करा सकते हैं उत्तरपुस्तिका – कुलपति

Answer sheets to be submitted after lockdown endsदुर्ग। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय ने सभी परीक्षार्थियों को आश्वस्त किया है कि उनकी उत्तर पुस्तिकाएं लॉकडाउन खत्म होने के बाद जमा कराई जा सकती हैं। विश्वविद्यालय इसके लिए विशेष अनुमित भी प्रदान करेगा तथा सभी प्रकार का रचनात्मक सहयोग प्रदान करेगा। कुलपति डॉ अरूणा पल्टा ने कहा कि जिन स्नातकोत्तर विद्यार्थियों के परीक्षा समाप्त हो गई है वे भी लॉकडाउन अवधि में घरों में ही रहें तथा अपनी उत्तर पुस्तिकाएं लॉकडाउन समाप्ति अर्थात 30 सितंबर के पश्चात् स्पीडपोस्ट द्वारा संबंधित परीक्षा केन्द्रों में जमा करा सकते है। 

कंपोस्ट टंकियों में छोड़ा आईसेनिया पटेरिया केंचुआ, नेहरू नगर में वर्मी कंपोस्ट बनना शुरू

Eisenia fetida earthworms released in vermicompost tanksभिलाई। नरवा, गरवा, घुरवा, बारी एवं गोधन न्याय योजना के अंतर्गत नगर निगम के शहरी गौठान और एसएलआरएम सेंटर के समीप में बनाई गई वर्मी कम्पोस्ट टंकियों में केचुए डालकर कंपोस्ट बनाने की प्रकिया शुरू कर दी गई है। निगम ने शहरी गौठान कोसानगर की 10 टंकियों में गोबर और ऑस्ट्रेलिया नस्ल की आईसेनिया पटेरिया (Eisenia fetida) केंचुआ डालने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी है।

ओजोन दिवस पर स्वरूपानंद महाविद्यालय में पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन

Poster competion on Ozone Dayभिलाई। स्वामी श्री स्वरुपानंद सरस्वती महाविद्यालय में विश्व ओजोन दिवस के उपलक्ष्य में विद्यार्थियों को ओजोन परत के महत्व से परिचित कराने के लिए अन्तर्महाविद्यालयीन ई-पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। विभिन्न महाविद्यालयों से 75 प्रविष्टियां प्राप्त हुईं। प्राचार्य डॉ हंसा शुक्ला ने विद्यार्थियों को बधाई दी व कहा विद्यार्थियों की सहभागिता उनकी सजगता का प्रतीक है। आने वाली पीढ़ी के लिये ओजोन परत सुरक्षित रहेगा व सीधे पड़ने वाली पैराबैगनी किरणें नुकसान नहीं पहुंचा पायेगी।

निदान-1100 – भिलाई निगम ने 13126 शिकायतों का समय-सीमा में किया निराकरण

Bhilai Nagar Nigam Quick Responseभिलाई। निगम प्रशासन ने निदान-1100 में शहर से ऑनलाइन दर्ज सड़क, बिजली, पानी, साफ-सफाई सहित अन्य समस्याओं का समय-सीमा में निराकरण कर नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग की ग्रेडिंग में ए ग्रेड हासिल कर रही है। निगम प्रशासन ने निदान-1100 में ऑनलाइन शिकायत प्राप्त होने के बाद न केवल निर्धारित समय सीमा में निराकरण किया, बल्कि निराकरण के बाद शिकायतकर्ता के फोन नंबर पर संपर्क कर फीडबैक लेने का कार्य भी किया है।