दिल्ली में सेल चेयरमैन से मिले विधायक देवेंद्र विभिन्न विषयों पर की चर्चा

Mayor Devendra Meets SAIL Chairmanभिलाई। महापौर एवं भिलाई नगर विधायक देवेन्द्र यादव ने नई दिल्ली में सेल चेयरमैन अनिल कुमार चौधरी से मुलाकात की। उन्होंने विभिन्न विषयों पर चर्चा करते हुए संयंत्र कर्मियों, सेवानिवृत्त कार्मिकों एवं इस्पात नगरी के निवासियों के हित में अनेक मांगों का उल्लेख किया। उन्होंने सेल चेयरमैन को मांग पत्र सौंपते हुए विभिन्न समस्याओं को जल्द से जल्द सुलझाए जाने की मांग भी रखी। सेल चेयरमैन ने आश्वस्त किया कि वे जल्द ही पहल करेंगे।महापौर व विधायक द्वारा रखी मांगों में सेल, भिलाई इस्पात द्वारा लीज पर आंबटित भूमि के लीज नवीनीकरण की नियम व शर्तों में किये गये संशोधन, छत्तीसगढ़ राज्य शासन के नीतियों एवं नियमों के विपरीत होने से उत्पन्न विवाद का निराकरण करने के लिए उचित कार्यवाही किये जाने हेतु की गई। महापौर ने बताया कि टाउनशीप के विभिन्न सेक्टरों में स्थित मार्केट के दुकानदारों ने मुझे अभ्यावेदन दिया गया है। जिसमें उन्होंने राज्य शासन की ओर से उचित कार्यवाही किये जाने का निवेदन किया है।
मेयर ने मांग की है कि टाउनशीप में स्थित मार्केट में दुकान हेतु लॉग लीज पर आंबटित भूमि के लीज नवीनीकरण की राशि के रूप में अविधिक तरीके से की जा रही मांग को तत्काल रोकें। सेल अपने कर्मचारियों एवं भूतपूर्व कर्मचारियों के लिए सेल स्कीम फार हाउसिंग टू एम्पलाई 2002 के छठवें चरण की लांग लीज योजना प्रांरभ की जाए।
महापौर देवेंद्र यादव ने भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा विद्युत नियामक आयोग से लायसेंस प्राप्त कर संपूर्ण भिलाई टाउनिशप (हुडको को छोड़कर) में प्रदाय किये जा रहे विद्युत प्रवाह को छ.ग. विद्युत वितरण कंपनी को हस्तांतरित करने की मांग की। मेयर ने यह भी मांग की है कि भिलाई इस्पात संयंत्र के अधिकार एवं स्वामित्व के खुर्सीपार एवं केंप एरिया के आवास की लाइसेंस के आधार पर नगर पालिक निगम भिलाई को हस्तांतरित किया जाए।
मेयर श्री यादव ने चेयरमेन से मांग की है कि बीएसपी के स्वामित्व की दक्षिण पूर्वी रेल्वे लाईन के उत्तर में स्थित समस्त 793.52 भूमि एवं भवन को नगर पालिक निगम भिलाई में हस्तांतरित किया जाएगा। यदि सेल भिलाई इस्पात संयंत्र खुर्सीपार, केंप सेक्टर एवं उससे लगी खुली भूमि को राज्य शासन के माध्यम से नगर पालिका निगम भिलाई को हस्तांतरित कर दे तो उक्त संपूर्ण क्षेत्र के विकास का कार्य नगर पालिक निगम करेगी तथा सभी नागरिक सुविधाओं को भी आवाश्यक सुधार कर देखरेख करेगी, जो कि नगर निगम का कर्तव्य भी है, तथा इस हस्तांतरण से सेल भिलाई इस्पात संयंत्र को प्रति वर्ष होने वाले खर्च से भी मुक्ति मिल जायेगी।
मेयर देवेंद्र यादव ने आगे चेयर मेन से मांग की कि सेल भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा भिलाई टाउनिशप में स्थित पं. जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय एवं अनुसंधान केन्द्र सेक्टर 9 भिलाई का संचालन एवं प्रबंधन राज्य शासन के सहयोग से किये जाने सैद्धांतिक सहमति प्रदान किया जाए।
आगे मेयर ने भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा भिलाई टाउनशिप में स्थित अस्पताल एवं स्वास्थ्य केन्द्र जिन्हे संयंत्र प्रबंधन द्वारा बंद कर दिया गया है, उसे राज्य शासन या नगर पालिक निगम भिलाई द्वारा संचालित करने की सहमति देने की मांग की। श्री यादव ने कहा कि नगर पालिक निगम भिलाई राज्य शासन के माध्यम से इन भवनों में चिकित्सालय का संचालन करना चाहती है, जिसमें होने वाले व्यय एवं मानव संसाधन राज्य शासन द्वारा वहन किया जाएगा। जिससे भिलाई संयंत्र के कर्मचारी व अन्य नागरिकों को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध होगी, तथा बीएसपी के भवनों की देखरेख व संधारण भी होगा।
भिलाई टाउनिशप के झुग्गी झोपड़ी में निवासरत परिवारों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत भवन निर्माण हेतु 10 एकड़ भूमि उपलब्ध कराने की भी मांग रखी गई है। महापौर श्री यादव ने चर्चा में अपनी मांग रखी है कि बीएसपी द्वारा निर्मित टाउनिशप के झुग्गी झोपड़ी में हजारों परिवार निवासरत है। प्रधानमंत्री जी की योजना अंतर्गत सभी परिवारों को पक्के मकान का लाभ मिल सकता है। बीएसपी को नगर निगम भिलाई द्वारा कई बार पत्र के माध्यम से भूमि की मांग की गई है। कलेक्टर दुर्ग की मध्यस्थता में हुई बैठक में भी 10 एकड़ भूमि उपलब्ध कराने सहमति प्राप्त हुई। इससे गरीबो को मकान मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *