हेमचंद यादव विश्वविद्यालय में दीपावली मिलन का रंगारंग समारोह

Deepawali Milan at Hemchand Yadav Universityदुर्ग। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग में दीपावली मिलन का रंगारंग समारोह आयोजित किया गया। कोविड-19 प्रोटोकाल अर्थात मास्क पहनने, दो गज की सोशल डिस्टेंसिंग तथा सेनेटाइजर के लगातार प्रयोग का पालन करते हुए विश्वविद्यालय के सभागार में इस दीवाली मिलन समारोह के दौरान विश्वविद्यालय की कुलपति, डॉ अरूणा पल्टा, कुलसचिव, डॉ सी. एल. देवांगन सहित विश्वविद्यालय के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी शामिल थे। कार्यक्रम के आरंभ में कुलपति, डॉ पल्टा ने माता लक्ष्मी की मूर्ति के आगे दीप प्रज्जवलन कर दीपावली मिलन समारोह की शुरूवात की। उन्होंने कहा कि हमें सदैव अपने कर्तव्य का बोध होना चाहिए। सभी लोग विश्वविद्यालय की उन्नति में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें। डॉ पल्टा ने कहा कि मिलन समारोह से सामाजिक एकता को बल मिलता है। विभिन्न धर्म, सम्प्रदाय आदि के अधिकारी कर्मचारी एक साथ एक ही छत के नीचे बैठकर किसी कार्यक्रम में शामिल होते हैं तो इससे सम्प्रदायिक सौहाद्र को बढ़ावा मिलता है। डॉ पल्टा ने घोषणा की कि विश्वविद्यालय में कार्यरत समस्त दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को श्रम विभाग छत्तीसगढ़ शासन के नियमानुसार प्रतिमाह वेतन का भुगतान किया जायेगा।
विश्वविद्यालय की वित्त अधिकारी श्रीमती ज्योत्सना शर्मा तथा सहायक कुलसचिव, हिमांशु शेखर मंडावी ने दीपावली मिलन समारोह की प्रासंगिकता एवं उसके महत्व पर विस्तार से प्रकाश डाला। दीपों से सुसज्जित विश्वविद्यालय के हॉल में विश्वविद्यालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। चंद्रिका साहू ने छत्तीसगढ़ का राज्य गीत प्रस्तुत किया। वित्त अधिकारी ज्योत्सना शर्मा ने स्वरचित कविता की प्रस्तुति दी। सपना सिन्हा के छत्तीसगढ़ी गीत की सभी ने प्रशंसा की। अधिकारियों की ओर से कुलसचिव, डॉ सी. एल. देवांगन तथा अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ प्रशांत श्रीवास्तव ने रोचक संस्मरण सुनायें। उपकुलसचिव, भूपेन्द्र कुलदीप ने किशोर कुमार का एक गीत प्रस्तुत किया। उपकुलसचिव डॉ राजमणि पटेल ने छोटी सी कथा के माध्यम से जीवन में आने वाले उतार-चढ़ाव का सामना करने का संदेश दिया। सहा. कुलसचिव, एआर चौरे एवं स्पोर्ट्स डायरेक्टर, डॉ एलपी वर्मा एवं सहा. कुलसचिव डॉ सुमीत अग्रवाल ने दीपावली मिलन समारोह को अत्यंत सुखद बताते हुए आयोजन हेतु वित्त विभाग एवं कुलपति को धन्यवाद दिया। कर्मचारियों द्वारा प्रस्तुत की गई उल्लेखनीय कविता, गीत तथा छत्तीसगढ़ी भाषा में शुभकामना संदेश प्रस्तुत करने वाले में नीलम श्रीवास्तव, किरण कोसरे, मंजुषा तिरपुड़े, युगल किशोर मंडावी, मनप्रीत कौर आदि शामिल थे। कार्यक्रम के अंत में धन्यवाद ज्ञापन वित्त श्रीमती ज्योत्सना शर्मा ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *