मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना ने बदली तस्वीर, मोहल्ले में हो रहा इलाज

People benefit immensely from Mukhyamantri Slum Swasthya Yojana MMUsभिलाई। व्यस्तता एवं अन्य कारणों से जो लोग अस्पताल नहीं जा पाते थे, अब वे भी स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ ले रहे हैं। मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना के तहत चल रही मोबाइल मेडिकल यूनिट (एमएमयू) उनके घर के पास तक पहुंच रही है जहां उन्होंने डाक्टर की सलाह और दवाइयां भी मुफ्त प्राप्त हो रही हैं। एमएमयू में ब्लड प्रेशर, शुगर आदि की जांच भी हो रही है। बदन दर्द, बुखार, उल्टी दस्त, सर्दी खांसी, सभी मर्जों का घर पहुंच इलाज हो रहा है।पावर हाउस निवासी बबीता चेकअप कराने मोबाइल मेडिकल यूनिट पहुंची थी। उन्होंने बताया कि एमएमयू के लैब में थायराइड, बीपी, शुगर एवं हिमोग्लोबिन का टेस्ट कराया है। वहीं गुरिंदर कौर ने बताया कि एमएमयू से उन्हें बहुत फायदा हुआ है। बीपी और शुगर का फ्री में टेस्ट हो रहा है। इसी तरह मनजीत कौर ने बताया कि पैसों के अभाव में टेस्ट नहीं हो पा रहा था। पता चला कि मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना की शिविर मोहल्ले में ही लग रही है। मुफ्त में चेकअप हो रहा है। उन्होंने मुफ्त में जांच कराया और रिपोर्ट प्राप्त की।
संगीता जैन ने कहा कि यह एक अच्छी योजना है। मोहल्ले में ही उन्होंने अपना इलाज कराया। दवाइयां मुफ्त में प्राप्त हुई है। सरकार की इस योजना से वे खुश हैं। योजना से लोगों की परेशानियां कम हुई हैं।
अब्दुल निशान ने बताया कि अस्पतालों में खर्च बहुत आता है, भीड़-भाड़ भी रहती है। मोहल्ले में ही मोबाइल मेडिकल यूनिट की एंबुलेंस आई तो वहीं जांच करवाकर दवा ले ली।
खिलेश्वरी सिन्हा गर्भवती है। उसे जैसे ही एमएमयू की जानकारी मिली तो उन्होंने कामकाज के बीच थोड़ा वक्त निकाला और वहां पहुंच गई। दिक्कतों के कारण वो अस्पताल जाने को टाल रही थीं पर मोहल्ले में लगे शिविर ने उनका काम आसान कर दिया। अच्छे से जांच भी हुई और दवा भी मिल गई। गर्भवतियों के लिए यह बहुत अच्छी योजना है।
छत्तीसगढ़ शासन द्वारा जन-जन के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने स्लम स्वास्थ्य योजना की शुरूआत की गई है। महापौर एवं भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव तथा निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी के निर्देशन में योजना का बेहतर क्रियान्वयन नगर पालिक निगम, भिलाई के क्षेत्रों में किया जा रहा है। मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना के तहत मोबाइल मेडिकल यूनिट के माध्यम से लग रहे स्वास्थ्य शिविर में आए हुए व्यक्तियों/मरीजों ने स्वास्थ्य परीक्षण एवं इलाज उपरांत अपने अनुभवों को साझा किया। अनुभवी डॉक्टरों की टीम प्रतिदिन सुबह रूट चार्ट अनुसार गली-मोहल्लों में मोबाइल मेडिकल यूनिट लेकर पहुंच रही है, जहां लोग सर्दी, खांसी, बुखार, मलेरिया जैसी सामान्य बीमारियों के उपचार कराने के साथ ही बीपी, शूगर, पेशाब, हिमोग्लोबिन जैसी आवश्यक जांच की निःशुल्क सुविधा का भी लाभ उठा रहे हैं।
दाई दीदी क्लीनिक में गर्भवती महिलाओं एवं कुपोषित बच्चों की संपूर्ण जांच की जा रही है! छत्तीसगढ़ शासन की मंशा अनुसार स्लम क्षेत्रों में नागरिकों/श्रमिकों को समुचित स्वास्थ्य सेवाये उनके निवास के समीप उपलब्ध कराने योजना की शुरुआत की गई है। निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी लगातार स्वास्थ्य शिविर स्थलों का निरीक्षण कर रहे हैं! दाई-दीदी क्लीनिक में महिला डाक्टर, महिला स्टाफ द्वारा जांच की सुविधा। स्वास्थ्य शिविर में संगठित एवं असंगठित भवन व अन्य संनिर्माण कर्मकारो का पंजीयन कराने सुविधा। मरीजों की जांच पश्चात आवश्यकता होने पर निःशुल्क दवाई वितरण। निःशुल्क जांच, पैथोलॉजी टेस्ट में हीमोग्लोबीन, शुगर, पेशाब व बीपी जैसे अन्य की निःशुल्क जांच। अनुभवी व प्रशिक्षित चिकित्सकों की टीम द्वारा इलाज की सुविधा उपलब्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *