हाइटेक हॉस्पिटल ने पूरा किया एक साल, 12,446 हजार से अधिक मरीजों ने जताया भरोसा

554 से अधिक कोविड मरीजों का सफल इलाज,  मिली सराहना, बना नम्बर-वन छत्तीसगढ़ का कोविड अस्पताल

Hitek Super Speciality Hospital celebrates first foundation dayभिलाई। बीएसआर हाइटेक सुपरस्पेशालिटी हॉस्पिटल ने अपने संक्षिप्त सफर का पहला पड़ाव पार कर लिया है। इस अवधि में हाइटेक न केवल 12 हजार से अधिक मरीजों एवं उनके परिवारों का विश्वास जीतने में सफल रहा है बल्कि अपनी उत्कृष्ट सुविधाओं एवं समर्पित चिकित्सकीय टीम की बदौलत राज्य के श्रेष्ठ कोविड अस्पताल का खिताब भी अपने नाम किया है। हाइटेक के प्रबंध निदेशक श्री अग्रवाल ने बताया कि कोई भी बीमारी केवल रोगी को परेशान नहीं करती। पूरा परिवार साथ में परेशान होता है। इधर से उधर भागादौड़ी, दूसरे शहर में ले जाकर इलाज कराना न केवल कई समस्याएं खड़ी करता है बल्कि इलाज का खर्च भी बढ़ता चला जाता है। इसलिए हमने दुर्ग संभाग के एकमात्र सुपरस्पेशालिटी हॉस्पिटल को दोबारा शुरू करने और उसे पूरी दमदारी के साथ चलाने का निर्णय लिया। आज हाइटेक मजबूत इरादों के साथ चिकित्सा के क्षेत्र में एक बड़ा आकार लेता जा रहा है। Hitek celebrates first foundation day12 दिसम्बर 2019 को अस्पताल का विधिवत उद्घाटन किया गया। लगभग दो वर्षों से बंद पड़े इस अस्पताल ने कुछ ही महीनों में अपनी उपयोगिता साबित कर दी। सभी विभागों ने काम करना प्रारंभ कर दिया। अंचल के सभी वरिष्ठ चिकित्सक एक-एक कर जुड़ते गए। महानगरों से भी सुपरस्पेशलिस्ट पहुंचे। इस बीच कोविड ने अपने पांव पसारे तो शासन ने इसे कोविड मरीजों की चिकित्सा के लिए भी अधिकृत कर दिया। 554 से अधिक कोविड मरीजों का यहां सफलतापूर्वक इलाज किया गया। पेशेंट फीडबैक के आधार पर इसे श्रेष्ठ कोविड अस्पताल घोषित किया गया। इस अवधि में 12446 हजार मरीजों ने यहां स्वास्थ्य लाभ लिया।
श्री अग्रवाल ने बताया कि अस्पताल की प्राथमिकताएं तय हैं। हम एक ही छत के नीचे डायग्नोस्टिक के साथ-साथ सभी सुपरस्पेशालिटी सेवाएं देने का प्रयास कर रहे हैं। हमारी पहली प्राथमिकता मरीज को संतोषजनक सेवा देना और उसमें उत्तरोत्तर सुधार करना है। यह अंचल का एकमात्र अस्पताल है जहां पेशेंट फीडबैक को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाती है।
मरीजों की सेवा और मरीजों की सुरक्षा हाइटेक सुपरस्पेशालिटी हॉस्पिटल की सर्वोच्च प्राथमिकता होती है। हमारी कोशिश है कि मरीजों का हॉस्पिटल स्टे मिनिमम हो। इसके लिए आइसीयू, सीसीयू, एनआईसीयू सहित सभी वार्डों को बार-बार सैनेटाइज किया जाता है। इसके लिए हम सर्वश्रेष्ठ उत्पादों का प्रयोग करते हैं ताकि अस्पताल जनित क्रास इंफेक्शन से मरीजों एवं उनके परिजनों को बचाया जा सके।
हमने अस्पताल में इनहाउस कैन्टीन फैसिलिटी को भी अपने अधीन ही रखा है जहां उच्च गुणवत्ता के साथ पौष्टिक भोजन उपलब्ध है। यहां भी स्वच्छता की लगातार मॉनीटरिंग की जाती है। भोजन की गुणवत्ता सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी न्यूट्रशनिस्ट की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *