हेमचंद विश्वविद्यालय में नामांकन एवं प्रवेश हेतु आवेदन की तिथि बढ़ाई गई

Dates for Admission and enrollment extendedदुर्ग। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, दुर्ग ने विद्यार्थियों के नामांकन की तिथि 15 जनवरी 2021 तथा स्नातकोत्तर एवं सेमेस्टर कक्षाओं में प्रवेश हेतु आवेदन की तिथि 31 दिसंबर 2020 तक वृद्धि कर दी है। यह जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय के कुलसचिव, डॉ सी.एल. देवांगन ने बताया कि कोरोना संक्रमण काल में आवागमन की कमी तथा ग्रामीण अंचलों में नेटवर्क की समस्या के कारण अनेक विद्यार्थी नामांकन तथा स्नातकोत्तर एवं सेमेस्टर कक्षाओं में प्रवेश हेतु ऑनलाइन आवेदन जमा नहीं कर पाये थे। इसी प्रकार विश्वविद्यालय द्वारा रोके गये नतीजों के निराकरण के पश्चात् भी अनेक विद्यार्थियों ने विश्वविद्यालय की कुलपति, डॉ अरूणा पल्टा से नामांकन एवं स्नातकोत्तर एवं सेमेस्टर कक्षाओं में प्रवेश की तिथि में वृद्धि हेतु आवेदन किया था। इस बार सहानुभूतिपूर्वक संज्ञान लेते हुए कुलपति, डॉ अरूणा पल्टा ने उच्च शिक्षा विभाग, छत्तीसगढ़ शासन को विद्यार्थियों की समस्या को ध्यान में रखते हुए उपरोक्त दोनों कार्यों हेतु तिथि में वृद्धि की अनुशंसा की थी। इस पर उच्च शिक्षा विभाग द्वारा स्वीकृति मिलने के पश्चात् दुर्ग विश्वविद्यालय ने 31 दिसंबर 2020 तक स्नातकोत्तर एवं सेमेस्टर कक्षाओं (जैसे एम.ए., एम.कॉम., एमएचएससी, पीजीडीसीए, बी.लिब, एम.लिब., एल.एल.बी., बीपीएड, पीजीडिप्लोमा इन योगा एवं फिलॉसफी) में ऑनलाईन प्रवेश आवेदन की तिथि में वृद्धि कर दी है।
कुलपति, डॉ पल्टा ने बताया कि नामांकन एवं स्नातकोत्तर एवं सेमेस्टर कक्षाओं में ऑनलाईन प्रवेश की 31 दिसंबर 2020 अंतिम तिथि है। इस तिथि के पश्चात् किसी भी परिस्थिति में तिथि में वृद्धि नहीं की जावेगी। यदि कोई भी छात्र-छात्राएं निर्धारित तिथि तक ऑनलाईन आवेदन नहीं करते है तो वे स्वयं जिम्मेदार होंगे। डॉ पल्टा ने बताया कि स्नातकोत्तर एवं सेमेस्टर कक्षाओं में प्रवेश उन्हीं महाविद्यालयों में मिलेगा जहां स्थान रिक्त है। जिन महाविद्यालयों में पूरे स्थानों पर प्रवेश हो चुका है, उन महाविद्यालयों का पोर्टल नहीं खोला जायेगा।
विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ प्रशांत श्रीवास्तव ने जानकारी दी कि हाल ही में सम्पन्न विशेष परीक्षा 2020 की उत्तरपुस्तिकाएं विभिन्न जिलों के अग्रणी महाविद्यालयों तथा दुर्ग विश्वविद्यालय परिसर में जमा हो चुके हैं। तथा इन उत्तरपुस्तिकाओं का शीघ्र मूल्यांकन कर परिणाम घोषित करने का प्रयास विश्वविद्यालय प्रशासन कर रहा है। इसी प्रकार पीएचडी कर रहे शोधार्थियों हेतु आयोजित होने वाली शोध उपाधि समिति की बैठक जनवरी माह के द्वितीय सप्ताह से विश्वविद्यालय परिसर स्थित टैगोर हाॅल में होगी। समस्त शोधार्थी इस बैठक से पूर्व अपने-अपने शोध केन्द्रों पर आयोजित होने वाली डीआरसी कमेटी की बैठक में अपनी सिनाफ्सिस पूर्ण रूप से तैयार कर लेवें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *