Children’s Book day Chandamama

Children's Book Day

भिलाई। 2 अप्रैल को आज पूरा विश्व बाल साहित्य दिवस मना रहा है। बाल-साहित्य् लेखन की परंपरा अत्यं2त प्राचीन है। नारायण पंडित ने पंचतंत्र नामक पुस्ताक में कहानियों में पशु-पक्षियों को माध्यतम बनाकर बच्चों को शिक्षा प्रदान की। कहानियों को सुनना तो बच्चों की सबसे प्या-री आदत है। कहानियों के माध्यबम से ही हम बच्चोंप को शिक्षा प्रदान करते हैं।

Full size460 × 300

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *