Category Archives: Bollywood

छत्तीसगढ़ में अभिनेत्री कंगना की मौजूदगी में शुरू हुआ मोबाइल तिहार

CG Sanchar Krantiरायपुर। मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने सोमवार को राजधानी के इंडोर स्टेडियम में आयोजित एक रंगारंग समारोह में प्रदेश व्यापी मोबाइल तिहार का शुभारंभ किया। इस आयोजन के लिए मुंबई से फिल्म अभिनेत्री कंगना राणावत को खासतौर पर आमंत्रित किया गया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के 50 लाख हाथों में अब स्मार्ट फोन होगा। इसके बाद छत्तीसगढ़ अब स्मार्ट छत्तीसगढ़ के नाम से जाना जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार की संचार क्रांति योजना का सबसे बड़ा फायदा ग्रामीण जनता को मिलेगा। 4जी का वह स्मार्ट फोन जो मुख्यमंत्री और मंत्रियों के पास है, वह अब गांव के मजदूरों के हाथों में भी रहेगा।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

छत्तीसगढ से चुनेंगे फ्यूचर सुपर स्टार और देंगे बॉलीवुड फिल्म में मौका

Bollywood Director Rohit Choudharyभिलाई। बॉलीवुड के प्रोग्राम फ्यूचर सुपर स्टार छत्तीसगढ टेलेन्ट शो 2018 का आयोजन ओलंपिक आॅफिसर श्रीमती गुरमीत धनई के मुख्य आतिथ्य में आगमी 17 जुलाई को प्रात: 9 बजे से शाम 7 बजे तक शंकराचार्य टेक्निकल कैम्पस एस-1 जुनवानी में किया जाएगा। जिसमें एक्टिंग, डासिंग, सिंगिग एवं मॉडलिग का आडिशन होगा। सभी विधाओं से पूरे छत्तीसगढ़ से 3-3, कुल 12 प्रतिभागियों का चयन किया जाएगा। इनके लिए कैश अवार्ड अथवा बॉलीवुड फिल्म में काम करने का अवसर उपलब्ध होगा।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

बांध लेती है समीर के वायलिन की तान, बना चुके हैं विश्व कीर्तिमान

Sameer Karmakar Violinभिलाई। वायलिन का करूण स्वर वैसे ही लोगों को बांध लेता है। उसपर यदि साज को भिलाई के समीर कर्मकार ने छेड़ा है तो संगीत में रुचि नहीं रखने वाले भी खिंचे चले आते हैं। कुछ ऐसा ही जादू इस्पात नगरी के इस होनहार वायलिन वादक का। छत्तीसगढ़ के विभिन्न शहरों के अलावा देश विदेश के स्तरीय कार्यक्रमों में अपनी प्रतिभा का जादू बिखेर चुके समीर कर्मकार के नाम सबसे लंबी अवधि तक वायलिन बजाने का विश्व रिकार्ड भी है।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

माँ बनकर सास ने बढ़ाया हौसला, तब जाकर खुली ऐक्टिंग की राह

Chanchal Sahu Atrangiभिलाई। एक प्रतिष्ठित संरक्षणवादी परिवार की बहू बनने के बाद कभी सोचा नहीं था कि मंच पर या रुपहले पर्दे का सफर पूरा होगा। पर सासू माँ ने मां की तरह न केवल प्यार और दुलार दिया बल्कि अपनी बहू के सपनों को साकार करने में भी जुट गर्इं। यह कहना है कि अभिनेत्री चंचल साहू का। वे कहती हैं कि सास के प्रोत्साहन एवं पति की सहमति से ही वे इस क्षेत्र में आई हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

अंकुश देवांगन बना रहे अनोखी फिल्म, जिस देश में होगी, बन जाएगी वहीं की कहानी

भिलाई। अंकुश देवांगन यूनीवर्सल फिल्म स्टूडियो मरोदा सेक्टर में मल्टीनेशनल फिल्म पर एक दिवसीय परिचर्चा का आयोजन किया गया, जिसके मुख्य अतिथि पूर्व संसदीय सचिव व विधायक विजय बघेल थे। परिचर्चा में स्क्रीप्ट राईटर लिम्का एवं गोल्डन बुक आॅफ द वर्ल्ड रिकार्ड पुरस्कृत कलाकार अंकुष देवांगन, आर्ट एंड साइंस डायरेक्टर सुप्रसिद्ध माडर्न आर्ट चित्रकार डी.एस. विद्यार्थी, रुआबांधा पार्षद व रंगकर्मी-राजेन्द्र रजक, प्रसिद्ध समाजसेवी-रमेश भारती, प्रवीण कालमेघ, संयोजिका-रुपा साहू, अंतर्राष्ट्रीय थिएटर आर्टिस्ट-अनीता जैन, शिक्षाविद-प्रेमचंद साहू, धीरज कुमार, जीवन लाल साहू, निर्माता-पूर्णानंद देवांगन ने अपने विचार रखे।भिलाई। अंकुश देवांगन यूनीवर्सल फिल्म स्टूडियो मरोदा सेक्टर में मल्टीनेशनल फिल्म पर एक दिवसीय परिचर्चा का आयोजन किया गया, जिसके मुख्य अतिथि पूर्व संसदीय सचिव व विधायक विजय बघेल थे। परिचर्चा में स्क्रीप्ट राईटर लिम्का एवं गोल्डन बुक आॅफ द वर्ल्ड रिकार्ड पुरस्कृत कलाकार अंकुष देवांगन, आर्ट एंड साइंस डायरेक्टर सुप्रसिद्ध माडर्न आर्ट चित्रकार डी.एस. विद्यार्थी, रुआबांधा पार्षद व रंगकर्मी-राजेन्द्र रजक, प्रसिद्ध समाजसेवी-रमेश भारती, प्रवीण कालमेघ, संयोजिका-रुपा साहू, अंतर्राष्ट्रीय थिएटर आर्टिस्ट-अनीता जैन, शिक्षाविद-प्रेमचंद साहू, धीरज कुमार, जीवन लाल साहू, निर्माता-पूर्णानंद देवांगन ने अपने विचार रखे।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

शूटिंग में बाल-बाल बचे योगेश अग्रवाल, वरना लग जाती सचमुच की फांसी

रुद्री। एक फिल्म की शूटिंग के दौरान नामचीन अभिनेता योगेश अग्रवाल को सचमुच की फांसी लग जाती पर वे बाल-बाल बच गए। फिल्म के एक सीन में किसान बने योगेश अपनी पत्नी के साथ पेड़ से फांसी लगाते हैं। एकाएक उन्हें सपोर्ट करने वाला हार्नेस खुल जाता है और एक झटके के साथ उन्हें फांसी लग जाती है। वे किसी तरह फांसी वाली साड़ी का सपोर्ट लेने की कोशिश करते हैं। इस बीच स्पॉट बायज, लाइट्स मैन और सहयोगी कलाकार तत्काल उन्हें थाम लेते हैं।रुद्री। एक फिल्म की शूटिंग के दौरान नामचीन अभिनेता योगेश अग्रवाल को सचमुच की फांसी लग जाती पर वे बाल-बाल बच गए। फिल्म के एक सीन में किसान बने योगेश अपनी पत्नी के साथ पेड़ से फांसी लगाते हैं। एकाएक उन्हें सपोर्ट करने वाला हार्नेस खुल जाता है और एक झटके के साथ उन्हें फांसी लग जाती है। वे किसी तरह फांसी वाली साड़ी का सपोर्ट लेने की कोशिश करते हैं। इस बीच स्पॉट बायज, लाइट्स मैन और सहयोगी कलाकार तत्काल उन्हें थाम लेते हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

किसानों की लाचारी पर फिल्म ‘अतरंगी’ की शूटिंग शुरू

रुद्री। किसानों की लाचारी और बच्चों के भोलेपन पर बन रही फिल्म ‘अतरंगी’ की शूटिंग शुक्रवार 1 जून को शुरू हो गई। इस फिल्म में रायपुर के मंजे हुए कलाकार योगेश अग्रवाल एवं भिलाई की चंचल साहू मुख्य भूमिकाओं में हैं। फिल्म का निर्देशन पवन गुप्ता कर रहे हैं। फिल्म में भिलाई के लगभग एक दर्जन बच्चे भी काम कर रहे हैं।रुद्री। किसानों की लाचारी और बच्चों के भोलेपन पर बन रही फिल्म ‘अतरंगी’ की शूटिंग शुक्रवार 1 जून को शुरू हो गई। इस फिल्म में रायपुर के मंजे हुए कलाकार योगेश अग्रवाल एवं भिलाई की चंचल साहू मुख्य भूमिकाओं में हैं। फिल्म का निर्देशन पवन गुप्ता कर रहे हैं। फिल्म में भिलाई के लगभग एक दर्जन बच्चे भी काम कर रहे हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

भिलाई के राजू हिरवानी ने मुंबई में बनाया मुकाम, लेकर आ रहे खुद का टीवी चैनल

भिलाई। भिलाई में पढ़े-बढ़े राजू हिरवानी 20 साल के संघर्ष के बाद मुंबई में जम गए हैं। वे इन दिनों सीरियल महफिले उमराव जान के एक शेड्यूल की शूटिंग के सिलसिले में भिलाई आए हुए हैं। उनका इरादा भिलाई में एक इंस्टीट्यूट खोलने का इरादा है जहां फिल्म मेकिंग से संबंधित अनेक विधाओं का प्रशिक्षण मिले। राजू हिरवानी (ताकेशचंद साहू) पी-3 मोशन्स पिक्चर्स प्राइवेट लि. के फाउंडर-डायरेक्टर हैं। भिलाई विद्यालय से 1996 में पास आउट राजू हिरवानी ने 20 साल पहले मुंबई की ओर रुख किया।भिलाई। भिलाई में पढ़े-बढ़े राजू हिरवानी 20 साल के संघर्ष के बाद मुंबई में जम गए हैं। वे इन दिनों सीरियल महफिले उमराव जान के एक शेड्यूल की शूटिंग के सिलसिले में भिलाई आए हुए हैं। उनका इरादा भिलाई में एक इंस्टीट्यूट खोलने का इरादा है जहां फिल्म मेकिंग से संबंधित अनेक विधाओं का प्रशिक्षण मिले। राजू हिरवानी (ताकेशचंद साहू) पी-3 मोशन्स पिक्चर्स प्राइवेट लि. के फाउंडर-डायरेक्टर हैं। भिलाई विद्यालय से 1996 में पास आउट राजू हिरवानी ने 20 साल पहले मुंबई की ओर रुख किया।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

‘स्वयंसिद्धा’ की सखियां सीख रहीं मंच की बारीकियां

भिलाई। लब्धप्रतिष्ठ संस्था ‘स्वयंसिद्धा’ की सखियां इन दिनों रंगमंच की बारीकियां सीख रही हैं। रंगमंच के नियम जीवन को भी प्रभावित करते हैं। रंगमंच पर आप अपने प्रत्येक साथी को बराबर का मौका देना सीखते हैं, सहयोग, समर्पण, परस्पर सम्मान और धैर्य जैसे गुणों को निखारते हैं। इन्हें थिएटर निर्देशक शिवदास घोड़के प्रशिक्षण दे रहे हैं। स्वयंसिद्धा विवाहित महिलाओं की एक ऐसी संस्था है जो परिवार की जिम्मेदारियों का निर्वहन करने के बाद थोड़ा वक्त अपने लिए निकालकर स्वयं को तलाशती हैं। गीत-संगीत, नृत्य-नृत्यनायिका और नाटकों के जरिए समाज को संदेश देती हैं। स्वयंसिद्धा अभियान की सूत्रधार सोनाली चक्रवर्ती का मानना है कि इससे महिलाओं में आत्मसम्मान और आत्मविश्वास का विकास होता है जिससे परिवार को भी ऊर्जा मिलती है। भिलाई। लब्धप्रतिष्ठ संस्था ‘स्वयंसिद्धा’ की सखियां इन दिनों रंगमंच की बारीकियां सीख रही हैं। रंगमंच के नियम जीवन को भी प्रभावित करते हैं। रंगमंच पर आप अपने प्रत्येक साथी को बराबर का मौका देना सीखते हैं, सहयोग, समर्पण, परस्पर सम्मान और धैर्य जैसे गुणों को निखारते हैं। इन्हें थिएटर निर्देशक शिवदास घोड़के प्रशिक्षण दे रहे हैं। स्वयंसिद्धा विवाहित महिलाओं की एक ऐसी संस्था है जो परिवार की जिम्मेदारियों का निर्वहन करने के बाद थोड़ा वक्त अपने लिए निकालकर स्वयं को तलाशती हैं। गीत-संगीत, नृत्य-नृत्यनायिका और नाटकों के जरिए समाज को संदेश देती हैं। स्वयंसिद्धा अभियान की सूत्रधार सोनाली चक्रवर्ती का मानना है कि इससे महिलाओं में आत्मसम्मान और आत्मविश्वास का विकास होता है जिससे परिवार को भी ऊर्जा मिलती है। 

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

‘मिल गइली चंदनिया’ में चमत्कृत करते हैं भिलाई के कलाकार

भिलाई। छत्तीसगढ़ में बनी भोजपुरी फिल्म ‘मिल गइली चंदनिया’ का कथानक और चरित्र चमत्कृत करते हैं। कलाकारों के संघर्ष पर बनी इस फिल्म में स्वस्थ हास्य का पुट इसे रोचक बनाता है। संकटकाल में फिल्म के हीरो आकाश ‘चंदनिया’ का स्वांग भरते हैं। इस रोल में आकाश ऐसे फिट हुए हैं कि उनपर मुखिया का बेटा तो क्या, दर्शक भी लट्टू हो जाते हैं। अभिनेता, निर्माता एवं निर्देशक संतोष जैन के ईरा फिल्मस के बैनर तले बनी इस फिल्म में अधिकांश कलाकार भिलाई के हैं।भिलाई। छत्तीसगढ़ में बनी भोजपुरी फिल्म ‘मिल गइली चंदनिया’ का कथानक और चरित्र चमत्कृत करते हैं। कलाकारों के संघर्ष पर बनी इस फिल्म में स्वस्थ हास्य का पुट इसे रोचक बनाता है। संकटकाल में फिल्म के हीरो आकाश ‘चंदनिया’ का स्वांग भरते हैं। इस रोल में आकाश ऐसे फिट हुए हैं कि उनपर मुखिया का बेटा तो क्या, दर्शक भी लट्टू हो जाते हैं। अभिनेता, निर्माता एवं निर्देशक संतोष जैन के ईरा फिल्मस के बैनर तले बनी इस फिल्म में अधिकांश कलाकार भिलाई के हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

भानुप्रतापपुर के हर्षद चोपड़ा ‘बेपनाह’ के हीरो, जेनिफर विगेंट के साथ बनी जोड़ी

रायपुर/कांकेर। भानुप्रतापपुर के पास ग्राम पंचायत संबलपुर में पले बढ़े युवा हर्षद चोपड़ा ने माया नगरी मुंबई में बतौर अभिनेता अपने पैर जमा लिए हैं। हर्षद एक टीवी चैनल में शुरू होने जा रहे सीरियल 'बेपनाह' में हीरो के रूप में नजर आएंगे। इसका प्रसारण 19 मार्च से शुरू होगा। मूल रूप से संबलपुर के रहने वाले हर्षद ने यहीं कक्षा 3 तक स्कूली पढ़ाई की और फिर गोंदिया व मुंबई में शिक्षा ली। हर्षद के पिता प्रकाश चोपड़ा और मां चंदा देवी चोपड़ा ने बताया कि हर्षद को बचपन से ही अभिनय का काफी शौक था। बतौर मॉडल शुरूआत करने के बाद उन्होंने मुंबई में टीवी शोज में काम करना शुरू किया और अब अपनी एक अलग पहचान बना ली है।कांकेर। भानुप्रतापपुर के पास ग्राम पंचायत संबलपुर में पले बढ़े युवा हर्षद चोपड़ा ने माया नगरी मुंबई में बतौर अभिनेता अपने पैर जमा लिए हैं। हर्षद एक टीवी चैनल में शुरू होने जा रहे सीरियल ‘बेपनाह’ में हीरो के रूप में नजर आएंगे। इसका प्रसारण 19 मार्च से शुरू होगा। मूल रूप से संबलपुर के रहने वाले हर्षद ने यहीं कक्षा 3 तक स्कूली पढ़ाई की और फिर गोंदिया व मुंबई में शिक्षा ली। हर्षद के पिता प्रकाश चोपड़ा और मां चंदा देवी चोपड़ा ने बताया कि हर्षद को बचपन से ही अभिनय का काफी शौक था। बतौर मॉडल शुरूआत करने के बाद उन्होंने मुंबई में टीवी शोज में काम करना शुरू किया और अब अपनी एक अलग पहचान बना ली है।
Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

रूंगटा ग्रुप के कार्निवाल में नकास के गानों पर थिरके युवा

भिलाई। संजय रूंगटा ग्रुप में आयोजित कार्निवाल के दूसरे दिन बॉलीवुड सिंगर नकास अजीज के गानों पर कॉलेज के विद्यार्थी पूरी शाम थिरकते रहे। नकास ने अपने गानों के अलावा दूसरे गानों की भी शानदार प्रस्तुति दी। लाइव कन्सर्ट में नकास ने अपने बैंड के साथ पूरे माहौल को संगीतमय बना दिया। एक के बाद एक गानों की झड़ी से युवा मंच तक जाने, उनके साथ सेल्फी लेने, हाथ मिलाने के लिए उमड़ रहे थे।भिलाई। संजय रूंगटा ग्रुप में आयोजित कार्निवाल के दूसरे दिन बॉलीवुड सिंगर नकास अजीज के गानों पर कॉलेज के विद्यार्थी पूरी शाम थिरकते रहे। नकास ने अपने गानों के अलावा दूसरे गानों की भी शानदार प्रस्तुति दी। लाइव कन्सर्ट में नकास ने अपने बैंड के साथ पूरे माहौल को संगीतमय बना दिया। एक के बाद एक गानों की झड़ी से युवा मंच तक जाने, उनके साथ सेल्फी लेने, हाथ मिलाने के लिए उमड़ रहे थे। नकास ने युवाओं को मंच पर बुलाकर भी डांस कराया।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

तो दीपिका पादुकोण करती शहर, शरीर व दिमाग की सफाई

बॉलिवुड की पद्मावती इन दिनों अपनी रिलीज़ फिल्म पद्मावत के प्रमोशन में जुटी हैं, इसी दौरान एक बातचीत के दौरान दीपिका पादुकोण ने कहा कि यदि उन्हें सारी जिंदगी सिर्फ एक ही काम करने को मिले तो वह साफ-सफाई का काम करना पसंद करेंगी। दीपिका कहती हैं, 'जिंदगी में अगर मुझे सिर्फ एक ही काम करने को मिलता तो मैं हर समय दिल से साफ-सफाई का काम करती, मुझे क्लीन करने का काम अच्छा लगता है फिर चाहे वह कोई गंदगी हो, शहर, देश, दिल और दिमाग की सफाई, मैं सफाई पसंद हूं, मुझे सफाई करना अच्छा लगता है।'बॉलिवुड की पद्मावती इन दिनों अपनी रिलीज़ फिल्म पद्मावत के प्रमोशन में जुटी हैं, इसी दौरान एक बातचीत के दौरान दीपिका पादुकोण ने कहा कि यदि उन्हें सारी जिंदगी सिर्फ एक ही काम करने को मिले तो वह साफ-सफाई का काम करना पसंद करेंगी। दीपिका कहती हैं, ‘जिंदगी में अगर मुझे सिर्फ एक ही काम करने को मिलता तो मैं हर समय दिल से साफ-सफाई का काम करती, मुझे क्लीन करने का काम अच्छा लगता है फिर चाहे वह कोई गंदगी हो, शहर, देश, दिल और दिमाग की सफाई, मैं सफाई पसंद हूं, मुझे सफाई करना अच्छा लगता है।’

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

‘सुई धागा’ के सेट से लीक हुआ अनुष्का का फर्स्ट लुक

भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली से शानदार तरीके से हुई शादी के बाद अब ऐक्ट्रेस अनुष्का शर्मा अपने फिल्म प्रोजेक्ट्स को लेकर फिलहाल काफी बिजी चल रही हैं। जहां इस समय उनकी शाहरुख खान व कटरीना कैफ स्टारर फिल्म 'जीरो' की शूटिंग लगभग खत्म हुई है, वहीं अब वह अपनी अपकमिंग फिल्म 'सुई धागा' को लेकर खासी व्यस्त हो गई हैं।भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली से शानदार तरीके से हुई शादी के बाद अब ऐक्ट्रेस अनुष्का शर्मा अपने फिल्म प्रोजेक्ट्स को लेकर फिलहाल काफी बिजी चल रही हैं। जहां इस समय उनकी शाहरुख खान व कटरीना कैफ स्टारर फिल्म ‘जीरो’ की शूटिंग लगभग खत्म हुई है, वहीं अब वह अपनी अपकमिंग फिल्म ‘सुई धागा’ को लेकर खासी व्यस्त हो गई हैं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

अंगूरी भाभी ने जीता बिग बॉस सीजन 11, मिली 44 लाख रुपए प्राइज़ मनी

मुंबई। छोटे पर्दे की अंगूरी भाभी यानि शिल्पा शिंदे ने ‘बिग बॉस 11′ शो जीत लिया है। रविवार को हुए भव्य ग्रैंड फ़िनाले में होस्ट सलमान ख़ान के साथ अक्षय कुमार ने विनर के नाम का एलान किया। टीवी की बहू हिना ख़ान ने कड़ी टक्कर दी, मगर रनर-अप रहीं। शिल्पा ने सबसे ज़्यादा वोट हासिल किये हैं। शो में अक्षय कुमार अपनी फ़िल्म पैड मैन को लेकर पहुंचे और सलमान के साथ मिलकर जमकर मस्ती की। दूसरे प्रतिभागी जहां ग्रुप बनाकर खेले, वहीं बिग बॉस में शिल्पा अधिकांश अकेले खेलीं।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare