Category Archives: Politics

शास्त्रों के अनुसार गौहत्या का प्रायश्चित्त करेगी जोगी कांग्रेस

शास्त्रों के अनुसार गौहत्या का प्रायश्चित्त करेगी जोगी कांग्रेस जोगी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने गाय का मुखौटा लगाकर किया प्रदर्शन रायपुर। गौशालाओं में गायों की मौत के रूप में छत्तीसगढ़ में विपक्षी पार्टियों को बड़ा मुद्दा मिल गया है। इस घटना के जरिए लगातार सरकार को घेरा जा रहा है। शनिवार को अजीत जोगी की जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के कार्यकर्ताओं ने गाय बनकर प्रदर्शन किया। ये कार्यकर्ता गायों की तरह चौपाया बनकर सड़क पर चले। इन कार्यकर्ताओं ने चेहरे पर गाय का मुखौटा लगा रखा था। उन्होंने कहा कि सरकार कुछ भी कहे, जोगी कांग्रेस गौहत्या का प्रायश्चित्त शास्त्र सम्मत विधि से करेगी।जोगी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने गाय का मुखौटा लगाकर किया प्रदर्शन
रायपुर। गौशालाओं में गायों की मौत के रूप में छत्तीसगढ़ में विपक्षी पार्टियों को बड़ा मुद्दा मिल गया है। इस घटना के जरिए लगातार सरकार को घेरा जा रहा है। शनिवार को अजीत जोगी की जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के कार्यकर्ताओं ने गाय बनकर प्रदर्शन किया। ये कार्यकर्ता गायों की तरह चौपाया बनकर सड़क पर चले। इन कार्यकर्ताओं ने चेहरे पर गाय का मुखौटा लगा रखा था। उन्होंने कहा कि सरकार कुछ भी कहे, जोगी कांग्रेस गौहत्या का प्रायश्चित्त शास्त्र सम्मत विधि से करेगी।

WhatsAppTwitterGoogle GmailShare

मंत्री पाण्डेय एवं जिला कलेक्टर पर साल्हेभाट ग्राम पंचायत ने लगाया दण्ड

बिना अनुमति कालेज भवन लोकार्पण का मामला
मंत्री पाण्डेय पर साल्हेभाट ग्राम पंचायत ने लगाया दण्ड 0 बिना अनुमति कालेज भवन लोकार्पण का मामला कांकेर। एक अद्भुत मामले में ग्राम साल्हेभाट की ग्रामसभा ने उच्च शिक्षा मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय एवं जिला कलेक्टर पर मुर्गा और शराब का दण्ड लगाया है। उनपर बिना ग्राम सभा की अनुमति के महाविद्यालय के भवन का लोकार्पण करने का आरोप है। कांकेर। एक अद्भुत मामले में ग्राम साल्हेभाट की ग्रामसभा ने उच्च शिक्षा मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय एवं जिला कलेक्टर पर मुर्गा और शराब का दण्ड लगाया है। उनपर बिना ग्राम सभा की अनुमति के महाविद्यालय के भवन का लोकार्पण करने का आरोप है। यहां के लोग अपने गांव को गणराज्य कहते हैं। कानूनन पारंपरिक या रूढि़वादी गांव की श्रेणी में शामिल यहां के आदिवासी इसे गणराज्य बताते हैं। इस नाते वे बगैर ग्रामसभा की अनुमति कोई भी काम करना असंवैधानिक करार देते हैं।

पक्के किसान हैं नंद कुमार साय

nand-kumar-saiजशपुर। दो बार सांसद रहे, केन्द्रीय मंत्री का दर्जा प्राप्त राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष नंद कुमार साय पक्के किसान हैं। वे आज भी समय निकालकर अपने खेतों में लौटते हैं, हल चलाते हैं, बीज बोते हैं और फसल भी काटते हैं। उनकी कुछ तस्वीरें हाल ही में वायरल हो गईं। नंद कुमार साय 10 जून से अपने गृह गांव भगोरा पहुंचे हुए थे।

झुलसाती धूप में राशन के लिए लाइन

भिलाई। भीषण झुलसाती धूप में गरीबों को राशन दुकान में लाइन लगाना पड़ रहा है। दिन भर लाइन में लगने के बाद भी कई बार खाली हाथ लौटना पड़ रहा है। गर्मी से लोग हलाकान तो हो ही रहे हैं, राशन के चक्कर में एक दो दिन की रोजी से भी हाथ धोना पड़ रहा है। 500 से कम राशन कार्ड वाली 92 दुकानों को दूसरी दुकानों से अटैच करने से हितग्राहियों की परेशानियां बढ़ गई हैं। एक ही दुकान में 2 हजार से अधिक राशन कार्डों को स्थानांतरित कर दिया गया है। कार्ड की संख्या बढऩे से दुकानदार भी एक दिन में अधिकतम 100 लोगों को ही राशन दे रहे हैं। स्थिति यह है कि कई दुकानों पर तो हितग्राही एक सप्ताह पहले नंबर लगा रहे हैं तब जाकर उन्हें राशन मिल रहा है। बीपीएल कार्डधारियों में अधिकांश श्रमिक वर्ग के लोग हैं और उन्हें राशन के लिए अपना काम छोड़कर दिन-दिन भर दुकानों के सामने अपने नंबर का इंतजार करना पड़ रहा है।भिलाई। भीषण झुलसाती धूप में गरीबों को राशन दुकान में लाइन लगाना पड़ रहा है। दिन भर लाइन में लगने के बाद भी कई बार खाली हाथ लौटना पड़ रहा है। गर्मी से लोग हलाकान तो हो ही रहे हैं, राशन के चक्कर में एक दो दिन की रोजी से भी हाथ धोना पड़ रहा है। 500 से कम राशन कार्ड वाली 92 दुकानों को दूसरी दुकानों से अटैच करने से हितग्राहियों की परेशानियां बढ़ गई हैं। एक ही दुकान में 2 हजार से अधिक राशन कार्डों को स्थानांतरित कर दिया गया है। कार्ड की संख्या बढऩे से दुकानदार भी एक दिन में अधिकतम 100 लोगों को ही राशन दे रहे हैं। स्थिति यह है कि कई दुकानों पर तो हितग्राही एक सप्ताह पहले नंबर लगा रहे हैं तब जाकर उन्हें राशन मिल रहा है। बीपीएल कार्डधारियों में अधिकांश श्रमिक वर्ग के लोग हैं और उन्हें राशन के लिए अपना काम छोड़कर दिन-दिन भर दुकानों के सामने अपने नंबर का इंतजार करना पड़ रहा है।

रेत में मछली छिपाने से मिली निजात

सरकार ने कैतीन बाई को दिया आईस बॉक्स
दुर्ग। दुर्ग जनपद के ग्राम बासिन निवासी मछुआरा परिवार की कैतीन बाई की एक बड़ी चिंता लोक सुराज अभियान ने दूर कर दी है। गांव-गांव में मछली बेचकर गुजर-बसर करने वाली कैतीन बची हुई मछली को अब सुरक्षित तरीके से रख पाएगी। उसे आईस बॉक्स मिल गया है। दुर्ग। दुर्ग जनपद के ग्राम बासिन निवासी मछुआरा परिवार की कैतीन बाई की एक बड़ी चिंता लोक सुराज अभियान ने दूर कर दी है। गांव-गांव में मछली बेचकर गुजर-बसर करने वाली कैतीन बची हुई मछली को अब सुरक्षित तरीके से रख पाएगी। उसे आईस बॉक्स मिल गया है। लगभग चार हजार रुपए का लाल रंग का आइस बॉक्स लेकर खुशी से घर जाती हुई कैतीन कहती है कि यह छोटी सी चीज जरूर लगती है, लेकिन मेरे लिए ये बड़े काम की है। बची हुई मछली को अब सुरक्षित रखने के लिए मुझे अब उसे रेत में नहीं छिपाना होगा।

नया राशन कार्ड पाकर भीगी मंगलीन की आंखें

दुर्ग। बासीन की गरीब बुजुर्ग महिला श्रीमती मंगलीन बाई मार्केण्डेय नया राशन कार्ड बनाने को लेकर कई बार आवेदन देते रही है। लेकिन हर बार उनके हाथ निराशा लगती रही है। इस बार उन्होंने लोक सुराज अभियान के प्रथम चरण में अपने गांव में आयोजित आवेदन संकलन शिविर में 27 फरवरी को आवेदन दिया था। अधिकारियों द्वारा जांच करने पर पात्र पाया गया और उन्हें आज प्राथमिकता परिवार वाले नीले रंग का राशन कार्ड प्रदाय किया गया है। दुर्ग। बासीन की गरीब बुजुर्ग महिला श्रीमती मंगलीन बाई मार्केण्डेय नया राशन कार्ड बनाने को लेकर कई बार आवेदन देते रही है। लेकिन हर बार उनके हाथ निराशा लगती रही है। इस बार उन्होंने लोक सुराज अभियान के प्रथम चरण में अपने गांव में आयोजित आवेदन संकलन शिविर में 27 फरवरी को आवेदन दिया था। अधिकारियों द्वारा जांच करने पर पात्र पाया गया और उन्हें आज प्राथमिकता परिवार वाले नीले रंग का राशन कार्ड प्रदाय किया गया है।

समाधान शिविर में 4048 आवेदनों का निपटारा

दुर्ग। प्रदेश के साथ ही जिले में लोक सुराज अभियान का तृतीय चरण लक्ष्य समाधान को लेकर समाधान शिविर का आगाज हुआ। विकासखण्ड दुर्ग के ग्राम पंचायत बासीन में पहला समाधान शिविर में विभिन्न शिकायतों एवं मांगों से संबंधित प्राप्त 4 हजार 396 आवेदन में से 4 हजार 48 आवेदनों का समाधान किया गया। समाधान के पश्चात् शेष रहे 358 आवेदनों के समाधान के लिए समय-सीमा तय की गई है। नागरिकों के आवेदनों का समाधान होने से ना केवल उन्हें अपने विभिन्न समस्याओं से निजात मिला है।दुर्ग। प्रदेश के साथ ही जिले में लोक सुराज अभियान का तृतीय चरण लक्ष्य समाधान को लेकर समाधान शिविर का आगाज हुआ। विकासखण्ड दुर्ग के ग्राम पंचायत बासीन में पहला समाधान शिविर में विभिन्न शिकायतों एवं मांगों से संबंधित प्राप्त 4 हजार 396 आवेदन में से 4 हजार 48 आवेदनों का समाधान किया गया। समाधान के पश्चात् शेष रहे 358 आवेदनों के समाधान के लिए समय-सीमा तय की गई है। नागरिकों के आवेदनों का समाधान होने से ना केवल उन्हें अपने विभिन्न समस्याओं से निजात मिला है।

योगी ने किया जोगी का अनुकरण

Ajit Jogiरायपुर। उत्तर प्रदेश के नवनियुक्त मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी का अनुकरण किया है। उनसे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने भी ऐसा ही किया था। मंत्रियों एवं अधिकारियों की लाल-पीली बत्ती पर देश के इतिहास में सबसे पहले रोक लगाने का श्रेय अजीत जोगी को ही जाता है। लाल बत्ती जनता में समरसता के लिये बाधक है। लाल बत्ती हटाने के संदर्भ में तमिलनाडु हाईकोर्ट के तत्कालीन न्यायाधीश ने श्री जोगी के इस निर्णय की प्रशंसा की थी। तमिलनाडु में भी लाल बत्ती पर बैन लगाने एक रिट याचिका लगाई गई थी। उस रिट पर न्यायाधीश ने श्री जोगी के निर्णय को सराहते हुये लाल बत्ती पर रोक लगाने को राज्य सरकार के क्षेत्राधिकार का मुद्दा बताया था।

पानी के लिए चक्काजाम, मटकाफोड़

Raipurरायपुर। नलों के माध्यम से होने  वाले पानी की आपूर्ति मे कमी  को लेकर कांग्रेस पार्षद एवं एमआईसी सदस्य अनवर हुसैन के साथ मोवा क्षेत्र के रहवासियों ने मुख्य मार्ग पर चक्का जाम कर मटका फोड़कर जोरदार प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में शहर अध्यक्ष विकास उपाध्याय एवं महापौर प्रमोद दुबे भी शामिल हुए शहर जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विकास उपाध्याय ने राज्य सरकार पर पानी की आपूर्ति करने में भेदभाव बरतने का आरोप लगाया।

सीवेज लाइन होगी पीछे और पाइप लाइन सामने

मंत्री श्री पाण्डेय के स्वच्छता अभियान का 27वां पड़ाव
bhilaiभिलाई। बीएसपी टाउनशिप क्षेत्र में अब सीवेज और पानी पाइप की लाइनें एक साथ नहीं चलेंगी। पानी सप्लाई के लिए लाइन क्वाटर के सामने से गुजरेगी जबकि सीवेज की लाइन क्वाटरों के पीछे से गुजरेगी। इससे पाइप लाइन डैमेज होने पर भी उसमें गंदा पानी नहीं आ पाएगा। उक्त बातें आज अपने स्वच्छता अभियान के 27वें पड़ाव पर जनता को संबोधित करते हुए राजस्व एवं उच्च शिक्षा मंत्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय ने कहा। सेक्टर-1 में विजय पार्क एवं ई-रिक्शा लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भिलाई टाउनशिप लगभग 60 साल पुराना हो चुका है। जब भिलाई बना तो पेयजल वाहिनी और सिवरेज लाइन दोनों को एक दूसरे के समानान्तर क्वाटरों के पीछे डाला गया था। पाइप लाइन जर्जर हो चुके हैं। जहां कहीं पेयजल वाहिनी डैमेज होती है उसमें सिवरेज का पानी मिल जाता है और जनस्वास्थ्य खतरे में पड़ जाता है।

भाजपा नेताओं को सता रहा अनदेखी का डर

narendra modiनई दिल्ली। भाजपा के धाकड़ नेताओं को अगले दो वर्षों में होने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनावों में अनदेखी का डर सताने लगा है। उन्हें डर है कि टिकट बंटवारे में मोदी-शाह की जोड़ी उनकी भूमिका को किनारे लगाने वाली है। उत्तर प्रदेश में भारी सफलता के बाद दूसरे राज्यों में होने वाले विधानसभा और स्थानीय निकाय चुनाव में टिकट बंटवारे को लेकर वरिष्ठ और अनुभवी नेताओं की चिंता बढ़ गई है। पार्टी नेतृत्व ने उम्मीदवार की जीत की ‘क्षमता’ को परखने के लिए कड़े पैरामीटर तय किए हैं।

क्यों न रद्द की जाएं एल्डरमैन की नियुक्ति: हाईकोर्ट

aldermanजबलपुर। मध्य प्रदेश के विभिन्न नगरीय निकायों नगर निगम, नगर पालिका व नगर पंचायतों में एल्डरमैन की मनमानी तरीके से प्रावधानों के विपरीत हुई नियुक्तियां क्यों न रद्द कर दी जाएं? हाईकोर्ट ने इस सवाल के साथ राज्य शासन, मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन व भोपाल और नरसिंहपुर कलेक्टर को नोटिस जारी कर जवाब-तलब कर लिया है। इसके लिए चार सप्ताह का समय दिया गया है। सोमवार को कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश राजेन्द्र मेनन व जस्टिस श्रीमती अंजुलि पालो की युगलपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। इस दौरान याचिकाकर्ता नरसिंहपुर निवासी सामाजिक कार्यकर्ता विनायक परिहार की ओर से अधिवक्ता डॉ.सत्यम अग्रवाल ने पक्ष रखा।

मनरेगा में 4.9 करोड़ का भुगतान बकाया

Tamradhwaj Sahuदुर्ग। जिले में मनरेगा के अंतर्गत 4 करोड़ 87 लाख रुपए का भुगतान बकाया है। इनमें से एक करोड़ 14 लाख मजदूरी और 3 करोड़ 72 लाख रुपए सामग्री भुगतान शामिल है। उन्होंने बताया कि मनरेगा के अंतर्गत तालाब गहरीकरण से संबंधित पांच लाख रुपए से ज्यादा के कार्यों की मंजूरी अब जिला स्तर पर नहीं बल्कि राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी। जिला पंचायत के अधिकारियों ने जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक में उक्त जानकारी दी। वे सांसद ताम्रध्वज साहू द्वारा मनरेगा के तहत गौठान बनाए जाने के प्रस्ताव पर बोल रहे थे।

मनरेगा के अंतर्गत बनें गौठान : ताम्रध्वज साहू

स्कूल परिसर में सुरक्षित रहे एक एकड़ का खेल मैदान
Durgदुर्ग। सांसद ताम्रध्वज साहू ने कहा है गांवों में गौठान निर्माण के कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता से लिए जाने चाहिए। मनरेगा के अंतर्गत यह कार्य किया जाए। उन्होंने विशेष रूप से काली मिट्टी वाले गांवों में अनिवार्य तौर से गौठान निर्माण करने कहा है। श्री साहू ने जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक में यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि चरागाह के अभाव में बारिश के मौसम में मवेशियों को इन गोठानों में दिन भर खड़े रखा जाता है। इसलिए अच्छे मजबूत तरीके से इनका निर्माण किया जाना चाहिए।