Category Archives: Health

पुरुषों को भी होता है ब्रेस्ट कैंसर

Even Males can get breast cancerमाना जाता है कि ब्रेस्ट कैंसर सिर्फ महिलाओं को होता है क्योंकि पुरुषों के पास ब्रेस्ट नहीं होते। लेकिन सच्चाई यह है कि पुरुषों के पास ब्रेस्ट टीशू यानी स्तन ऊतक होते हैं। इसलिए उन्हें भी ब्रेस्ट कैंसर हो सकता है। पुरुषों में ब्रेस्ट कैंसर एक दुर्लभ रोग है और यह सभी तरह के ब्रेस्ट कैंसर का सिर्फ 1 प्रतिशत है। इस बारे में पुरुषों को कुछ अजीब होने का संदेह कम ही रहता है। मर्द भी कम सतर्कता दिखाते हैं, जो उन्हें ब्रेस्ट कैंसर की आशंका से परे कर देता है और वे नियमित कराई जाने वाली जांच-पड़ताल को दरकिनार कर देते हैं। 

WhatsAppTwitterGoogle GmailShare

जेएलएन हॉस्पिटल में मानसिक स्वास्थ्य दिवस का आयोजन

Mental Health Day at JLN-RC Bhilaiभिलाई। भिलाई इस्पात संयंत्र के जवाहरलाल नेहरु चिकित्सालय एवं अनुसंधान केन्द्र में विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। आम नागरिकों में मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से आयोजित इस कार्यक्रम में निदेशक प्रभारी (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएँ) डॉ के एन ठाकुर, निदेशकगण डॉ एस के ईस्सर, डॉ ए एच खान एवं डॉ ए के गर्ग उपस्थित थे।

कैंसर की गांठ की पहचान हुई कुछ और आसान

भिलाई। कैंसर की गांठ की पहचान कुछ और आसान हो गई है। सायटोलॉजी की नई तकनीकों से प्रारंभ में ही 95 से 98 प्रतिशत तक बीमारी की सही जानकारी हो जाती है। जेएलएन चिकित्सालय एवं अनुसंधान केन्द्र में सॉयटोलॉजी अपडेट रे अवसर पर सीनियर कंसल्टेंट डॉ राजू भैसारे ने यह जानकारी दी। डॉ भैसारे ने सॉयटोलॉजी जाँच चिकित्सा विज्ञान के क्षेत्र में इस तकनीक की विशेषताओं पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि इस तकनीक से किसी भी प्रकार के कैंसर, नॉन-कैंसर, टीबी इन्फेक्शन और अन्य विभिन्न बीमारियों की जानकारी अत्यंत सरलतापूर्वक मिल जाती है।भिलाई। कैंसर की गांठ की पहचान कुछ और आसान हो गई है। सायटोलॉजी की नई तकनीकों से प्रारंभ में ही 95 से 98 प्रतिशत तक बीमारी की सही जानकारी हो जाती है। जेएलएन चिकित्सालय एवं अनुसंधान केन्द्र में सॉयटोलॉजी अपडेट रे अवसर पर सीनियर कंसल्टेंट डॉ राजू भैसारे ने यह जानकारी दी। डॉ भैसारे ने सॉयटोलॉजी जाँच चिकित्सा विज्ञान के क्षेत्र में इस तकनीक की विशेषताओं पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि इस तकनीक से किसी भी प्रकार के कैंसर, नॉन-कैंसर, टीबी इन्फेक्शन और अन्य विभिन्न बीमारियों की जानकारी अत्यंत सरलतापूर्वक मिल जाती है।

मॉरफीन मिल जाए तो बच जाए 2.5 करोड़ लोगों की जान

morphin could save 2.5 crore livesपैरिस। मॉरफीन मिल जाए तो बच जाए 2.5 करोड़ लोगों की जान। हर साल करीब 2.5 करोड़ लोग भीषण दर्द की वजह से मर जा रहे हैं। मरने वाले हर 10 लोगों में एक बच्चा शामिल है। शुक्रवार को शोधकर्ताओं ने एक रिसर्च में ये बात कही है। लॉन्सेट मेडिकल जर्नल में प्रकाशित इस रिपोर्ट में ‘ग्लोबल पेन क्राइसिस’ की ओर संकेत किया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक यह आंकड़ा विश्व भर में होने वाली मौतों का तकरीबन आधा है।

संगीत न बजे तो जिम जा सकती हैं मुस्लिम महिलाएं: उलेमा

Muslim women can gymसहारनपुर। मुस्लिम महिलाएं जिम जा सकती हैं या नहीं? देवबंदी उलेमा ने इस मसले पर अपनी राय रखी है। देवबंदी उलेमा मुफ्ती मेहंदी हसन ऐनी कहा कि जिम जाने वाली मुस्लिम महिलाओं को देखना चाहिए कि वहां बेपर्दगी तो नहीं हो रही है। जिम में गाने वगैरह तो नहीं चलते, या सुने जाते। ट्रेनर वहां औरतें हैं या नहीं। मदरसा जामिया हुसैनिया के मुफ्ती तारिक कासमी ने कहा कि औरतें अपने शरीर को फिट रखने के लिए जिम जाती हैं तो इस्लाम के अंदर इसकी गुंजाइश हो सकती है। हालांकि उन्होंने इसके लिए कुछ शर्तों की बात करते हुए कहा कि वहां दूसरे मर्द न आते हों और गाना-बजाना न होता हो और बाकायदा पर्दे का माकुल इतंजाम हो। यह भी कहा कि औरतों का शरीर एक-दूसरे के सामने खुला न हो।

Eat a Mediterranean diet to lower your Breast Cancer risk by 68%

Eat a Mediterranean diet to lower your Breast Cancer risk by 68%

October is Breast Cancer Awareness Month.

Even the healthiest of us can have breast cancer due to several factors. But there are ways to prevent it too and one of them is following a Mediterranean diet. According to a study published in the journal JAMA Internal Medicine, this diet can lower your risk of breast cancer by a whopping 68%. BSR Cancer Hospital, adjacent to Apollo BSR hospital Junwani road is celebrating Breast Cancer Awareness Month. 

डायबीटीज के मरीजों को जरूर खानी चाहिए हरी मिर्च

डायबीटीज के मरीजों को हरी मिर्च जरूर खानी चाहिए। ये ब्लड शुगर लेवल बैलेंस रखती हैं। अगर आपको हरी मिर्च इसके तीखेपन के लिए पसंद है तो अब ये आपको और ज्यादा पसंद आने लगेगी। ये मिर्च इम्यूनिटी और ओवरऑल फिटनेस के लिए अच्छी है। मिर्च में मौजूद कैप्सेसिन नाक में रक्त संचार को आसान करता है जिससे सर्दी और साइनस जैसी समस्याओं से राहत मिलती है। मिर्च खाने पर हीट निकलती है जो कि प्रभावशाली दर्दनिवारक के रूप में काम करती है।डायबीटीज के मरीजों को जरूर खानी चाहिए हरी मिर्च । ये ब्लड शुगर लेवल बैलेंस रखती हैं। अगर आपको हरी मिर्च इसके तीखेपन के लिए पसंद है तो अब ये आपको और ज्यादा पसंद आने लगेगी। ये मिर्च इम्यूनिटी और ओवरऑल फिटनेस के लिए अच्छी है। मिर्च में मौजूद कैप्सेसिन नाक में रक्त संचार को आसान करता है जिससे सर्दी और साइनस जैसी समस्याओं से राहत मिलती है। मिर्च खाने पर हीट निकलती है जो कि प्रभावशाली दर्दनिवारक के रूप में काम करती है। 

मां ने सब्जियां बेचकर अपने बेटों को बना दिया डाक्टर

Mother sells vegetables to make sons doctorधमतरी। मतरी की मंगलीन बाई ने खुद कभी स्कूल का मुंह नहीं देखा। लेकिन, सब्जी बेचकर, कड़ी मेहनत और लगन से मंगलीन ने अपने दो बेटों को बना दिया डॉक्टर । मंगलीन आज भी सब्जी बेचती है। वे कहती हैं, काम में शर्म कैसा। आखिर इसी से बेटों को डाक्टर बना पाई। मंगलीन आज भी सब्जी बेचती है। वे कहती हैं, काम में शर्म कैसा। आखिर इसी से बेटों को डाक्टर बना पाई। मंगलीन शादी के बाद खपरैल मकान में रहने के लिए आई। तीन बेटों और तीन बेटियों को जन्म दिया। पति की कमाई कम पड़ी तो वह सब्जी बेचने लगीं। फिर रेग पर जमीन लेकर सब्जी उगाने लगीं। सब्जी बेचने के लिए सिर पर सब्जी का टोकरा लेकर बाजार जातीं। बेटा संतोष और सुखनंदन मन लगाकर पढ़ते रहे। इम्तहान देते रहे, अव्वल आते रहे।

कैंसर नहीं, कुपोषण, डायबिटीज और दिल की बीमारी से त्रस्त है भारत

46% in India face malnutritionनई दिल्ली। देश में सबसे ज्यादा लोग विभिन्न प्रकार के पौष्टिक तत्व जैसे प्रोटीन, विटमिन, आयरन की कमी और टीबी के रोग से पीडि़त हैं। 46 फीसदी आबादी किसी न किसी प्रकार के कुपोषण का शिकार है जबकि 39 फीसदी आबादी तपेदिक (टीबी) से परेशान है। बीते दशक में कुपोषण 8 फीसदी बढ़ा है।

Heart Problem : बहुत कम सोते हैं दिल्ली के 71 फीसदी लोग, इसलिए है दिल बीमार

नई दिल्ली। दिल्ली के 71 प्रतिशत लोग बहुत कम सोकर अपना काम चलाते हैं। उन्हें ऑफिस के साथ ही घर में भी तनाव महसूस होता है। 79 प्रतिशत लोगों का मानना है कि उन्हें अधिक समय तक काम करना पड़ता है और यह वजह उनके हृदय को स्वस्थ रखने में सबसे बड़ी रुकावट है। नई दिल्ली। दिल्ली के 71 प्रतिशत लोग बहुत कम सोकर अपना काम चलाते हैं। उन्हें ऑफिस के साथ ही घर में भी तनाव महसूस होता है। 79 प्रतिशत लोगों का मानना है कि उन्हें अधिक समय तक काम करना पड़ता है और यह वजह उनके हृदय को स्वस्थ रखने में सबसे बड़ी रुकावट है। बुधवार को सफोला लाइफ अध्ययन 2017 पेश किया गया जिसमें यह पता लगाया है कि लोग क्यों अपने दिल के स्वास्थ्य में सुधार के लिए कोशिश नहीं कर पा रहे, जबकि उन्हें इसके खतरों के बारे में अच्छी तरह से जानकारी है।

पानी से मिले साफ, निखरी और बेदाग त्वचा

पानी से मिले साफ, निखरी और बेदाग त्वचा सुबह उठने के बाद भले ही आप चाय या कॉफी न पीजीए लेकिन खाली पेट पानी जरूर पीजीए। खाली पेट पानी पीना स्किन के लिए फायदेमंद होता है।सुबह उठने के बाद भले ही आप चाय या कॉफी न पीजीए लेकिन खाली पेट पानी जरूर पीजीए। खाली पेट पानी पीना स्किन के लिए फायदेमंद होता है। चेहरे की दो बार क्लिनसिंग जरूरी है। पहले ऑयल क्लिंजर से चेहरा साफ करके हल्के गर्म पानी से धो लें, जिससे मेकअप अच्छे से साफ हो जाए। दूसरी बार रेगुलर क्लिंजर से चेहरा साफ करें।

World Heart Day : 8.33 फीसदी कम की जा सकती है हृदय रोगियों की संख्या : डॉ रत्नानी

हृदय रोग से मौत का खतरा कम करती है कसरत, पर रखें टारगेट हार्टबीट रेट का ख्याल

Dr Dilip Ratnani, Interventional Cardiologist

भिलाई। यदि सप्ताह में 5 दिन प्रतिदिन आधे घंटे के हिसाब से कसरत करें तो हृदय रोगों (Heart Attack) की संभावना को काफी हद तक कम कर सकते हैं। हृदयाघात से दुनिया भर में होने वाली प्रति 100 मौतों में से कम से कम 8 लोगों को बचाया जा सकता है। यह कहना है प्रसिद्ध इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजिस्ट Dr Dilip Ratnani का। 1.3 लाख लोगों पर किए गए एक शोध से यह बात सामने आई है।

गर्भवती होने से बचाएगा इंजेक्शन, तीन माह में सिर्फ एक

Pregnancy, Antaraरायगढ़। महिलाएं अक्सर न चाहते हुए गर्भवती हो जाती हैं या इससे बचाव के लिए वह हर दिन पिल्स खाती है जिसका साइड इफेक्ट होता है। दवा समय पर नहीं लेने से गर्भ ठहरने का भी डर होता है। अनचाहे गर्भ से बचने के लिए अब अंतरा नाम का टीका आ गया है। अंतरा इंजेक्शन को फिलहाल ट्रायल पर इस्तेमाल किए जाने की योजना बनाई गई है।

AIIMS के डॉक्टर ने तैयार किया जेब में रखने वाला वेंटिलेटर

pocket ventillatorनई दिल्ली। दुनिया का सबसे सस्ता और छोटा पोर्टेबल वेंटिलेटर (pocket ventillator) मंगलवार को एम्स में लॉन्च हुआ। ए सेट रोबॉटिक्स के हेड और युवा साइंटिस्ट दिवाकर वैश्य ने अपने दम पर स्वदेशी पोर्टेबल वेंटिलेटर तैयार किया है। मोबाइल ऐप से चलने वाले इस वेंटिलेटर की सबसे बड़ी खूबी यह है कि इसे जेब में रखा जा सकता है। ऑक्सिजन सिलिंडर के बिना काम करने वाला यह दुनिया का पहला वेंटिलेटर है। एम्स में चल रहे किफायती मेडिकल तकनीक सम्मेलन के दूसरे दिन इसे प्रदर्शित किया गया। इसके पेटेंट के लिए भी आवेदन कर दिया गया है। इसकी कीमत सिर्फ 15,000 से 20,000 रुपये होगी।

Is your 7yr old daughter menstruating?

Early puberty could be symptomatic of a tumour.
Is your 7yr old daughter menstruating?CHENNAI: Until a few years ago, the expected age for a girl to attain puberty was between 12-16 years, but today girls as young as eight reach puberty. While initially doctors considered such cases unusual, these days they’re beginning to accept this as the norm, attributing the reasons to lifestyle and environmental changes. Yet there are some doctors who urge parents to get their young daughters tested because signs of puberty at a very early age could be symptom for a tumour.