Category Archives: Health

हाइटेक से जीवित रवाना हुई थी मरीज, वीडियो व दस्तावेजी साक्ष्य मौजूद

महिला चिकित्सक के साथ बदलसूली की गई, डाक्टरों व प्रबंधन से झूमाझटकी के खिलाफ कोर्ट जाएगा अस्पताल

Hitek Super Speciality Hospitalभिलाई। हाइटेक सुपरस्पेशालिटी हॉस्पिटल पर राजनांदगांव की एक मरीज एवं उसके परिजनों द्वारा लगाए गए आरोप न केवल सिरे से निराधार हैं बल्कि मरीज की मृत्यु के लिए स्वयं परिजन ही जिम्मेदार हैं। मरीज की हालत गंभीर थी इसके बावजूद परिजनों ने उसे लामा (लेफ्ट अगेन्स्ट मेडिकल अडवाइस) ले लिया था और अस्पताल से निकालने के बाद भी जिला अस्पताल ले जाने में देर कर दी। जिला अस्पताल जाते समय भी मरीज जीवित था, इस बात के सबूत मय सीसीटीवी फुटेज अस्पताल के पास हैं।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

रूंगटा डेन्टल कॉलेज में दन्त चिकित्सीय सेवाएं आरंभ

Rungta Dental College भिलाई। दंत चिकित्सा के क्षेत्र में अपनी विश्वसनीय सेवाए देने में अग्रणी संजय रूंगटा ग्रुप आॅफ इन्स्टीट्यूशन द्वारा संचालित रूंगटा डेन्टल कॉलेज ने क्षेत्र के मरीजों के लिए अपनी सेवाएं पुन: आरंभ कर दी हैं। ज्ञात हों कि कोविड 19 संक्रमण को देखते हुए शहर के सभी दंत चिकित्सालाओं में पिछलें दो माह से चिकित्सा सेवाए निलंबित हैं। उपरोक्त विषय में उचित एवं जरुरी जानकारियां माजूद हैं तथा संक्रमण से बचने हेतु बचाव के संसाधन भी उपयुक्त मात्रा में बाजार में उपलब्ध हो चुकी है।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

बच्ची की अंतड़ियों तक पहुंच गया था कांच, स्पर्श में बची जान

Sparsh Hospitalभिलाई। राजनांदगाव की एक छह वर्षीय बच्ची की जान बचाने में स्पर्श मल्टीस्पेशालिटी हॉस्पिटल को सफलता मिली है। बच्ची कांच पर गिर पड़ी थी। कांच उसके पेट को चीरता हुआ अंतड़ियों तक पहुंच गया था। राजनांदगांव मेडिकल कालेज से उसे हायर सेन्टर के लिए रिफर कर दिया गया था। स्पर्श मल्टीस्पेशालिटी हॉस्पिटल में उसकी सर्जरी कर दी गई। घटना ग्राम पिनकापार की है। 

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

शंकराचार्य महाविद्यालय की एनसीसी इकाई को कोविड-19 रोकने का प्रशिक्षण

NCC COVID-19 at SSMV Bhilaiभिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय जुनवानी भिलाई की राष्ट्रीय केडेट कोर (एनसीसी) इकाई के 21 कैडेट्स को कोविड-19 से फैली महामारी से बचाव का प्रशिक्षण दिया गया। बताया गया कि यह एक ऐसी महामारी है जिससे बचाव करके ही इसकी रोकथाम की जा सकती है। इसमें एनसीसी कैडेट्स की बड़ी भूमिका हो सकती है। स्वास्थ्य विभाग की अंकिता सिंह ने वीडियो की सहायता से कोविड-19 के बारे में विस्तार से जानकारी दी और महामारी को फैलने से रोकने के उपायों की चर्चा की।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

स्पाइन टीबी से लाचार हो गया था किसान, स्पर्श में हुआ सफल इलाज

Spine TB patient operated successfully in Sparshभिलाई। स्पर्श मल्टीस्पेशालिटी हॉस्पिटल के विशेषज्ञों ने स्पाइन टीबी से पीड़ित एक किसान का सफल इलाज करने में सफलता प्राप्त की है। किसान की रीढ़ की हड्डी में क्षय रोग के कारण विकृति आ गई थी जिसकी वजह से रीढ़ मुड़ रही थी और रोगी के लिए खड़ा होना तक मुश्किल हो गया था। सर्जरी के बाद अब वह बिना किसी सहारे के चल फिर रहा है। उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

कोरोना : माँ शारदा ट्रस्ट ने पुलिस कर्मियों को दिए एक हजार मास्क

Sharda Samarthya Trust provides 1000 masks to policemenभिलाई। अपनी सामाजिक जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए माँ शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल ट्रस्ट ने बिना किसी खास सुरक्षा उपकरण के कोरोना वायरस से जनता की सुरक्षा में लगे पुलिस कर्मियों को एक हजार फेस मास्क प्रदान किए। ट्रस्ट के सदस्य दिहाड़ी मजदूरों एवं निराश्रितों को राशन भी उपलब्ध करा रहा है। ट्रस्ट के सदस्यों का कहना है कि यह समर्थ लोगों की जिम्मेदारी है कि इस विषम घड़ी में अपने देश के काम आएं।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

कोरोना लॉकडाउन : हाईटेक हॉस्पिटल ने शुरू की ई-ओपीडी, मिलेगी कंसल्टेंसी

Hitek Superspeciality Hospitalभिलाई। हाईटेक सुपरस्पेशालिटी हॉस्पिटल ने कोरोना लॉकडाउन को देखते हुए मरीजों को ई-ओपीडी की सुविधा उपलब्ध कराई है। इसके लिए मरीज या उसके परिजन को अस्पताल की वेबसाइट पर लॉगइन करना होगा। लॉग इन करते ही अस्पताल की तरफ से मरीज को एक लिंक भेजा जाएगा। इस पर क्लिक करते ही मरीज की वांछित चिकित्सक से वीडियो पर बात हो सकेगी। मरीजों को हाईटेकहॉस्पिटल्स.कॉम पर लॉग इन करने के बाद ईकंसल्टेशन के लिंक पर जाना होगा। ई-ओपीडी में किस चिकित्सक से बात करनी है यह तय किया जा सकेगा। सुपरस्पेशलिस्ट चिकित्सकों की कंसल्टेंसी बेहद मामूली फीस पर उपलब्ध होगी। इसके लिए भुगतान की सुविधा भी ऑनलाइन होगी।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

हाइटेक सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल में आधी रात को सर्जरी कर बचाई जच्चा बच्चा की जान

Hitek Hospital saves life भिलाई। हाईटेक सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल में आधी रात को सर्जरी कर एक जच्चा बच्चा की जान बचा ली गई। दोनों फिलहाल स्वस्थ हैं और स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं। डॉ श्रेया तिवारी ने बताया कि मरीज को जब लाया गया था तब दोनों गंभीर अवस्था में थे। एमनियोटिक थैली को फटे 12 घंटे हो चुके थे और शिशु प्रसव पथ में फंसा हुआ था। हमने तत्काल एलएससीएस का फैसला किया और शिशु को निकाल लिया। डॉ श्रेया ने बताया कि 25 वर्षीय तारा को गुरुवार को ही प्रसव पीड़ा उठी और थैली फटकर पानी बह गया। इसके बाद उसे इस अस्पताल से उस अस्पताल ले जाया गया पर कहीं भी उसका इलाज नहीं हो पाया। कोरोना लॉकडाउन के कारण अधिकांश अस्पताल न्यूनतम स्टाफ पर चल रहे हैं।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

कोरोना से बचाव : एमजे फार्मेसी कालेज ने बनाया हर्बल सेनेटाइजर

Herbal Sanatizer by MJ College of Pharmacyभिलाई। एमजे कालेज ऑफ़ फार्मेसी के डिपार्टमेन्ट ऑफ़ फार्मास्यूटिकल केमिस्ट्री, फार्मास्यूटिक्स एवं फार्माकॉग्नोसी ने हर्बल सेनेटाइजर बनाया है। इसका उपयोग किसी भी प्रकार के दुष्प्रभाव से मुक्त है। यह हाथों को मुलायम बनाए रखने में भी सहायक है। उक्त जानकारी महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ टी कुमार ने दी। कोरोना वायरस के फैलाव के बीच सेनेटाइजर की किल्लत को देखते हुए महाविद्यालय की डायरेक्टर श्रीलेखा विरुलकर ने इसके लिए प्रेरित किया था। डॉ कुमार ने बताया कि सेनेटाइजर को कीटाणुनाशक होने के साथ साथ यूजर फ्रेंडली बनाने को उन्होंने प्राथमिकता दी।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

कोरोना वायरस से निपटने एमजे कालेज में हुआ हवन, डाली गई विशेष समिधा

Hawan against COVID-20 Pandemic at MJ Collegeभिलाई। कोरोना वायरस समेत वातावरण से विषैले कीटाणुओं को नष्ट करने के लिए एमजे कालेज में आज विशेष हवन कराया गया। हवन कुण्ड में विशेष समिधा डालकर स्वास्थ्य की सुरक्षा करने एवं विषैले कीटाणुओं का नाश करने की प्रार्थना की। महाविद्यालय की निदेशक श्रीलेखा विरुलकर के दिशा निर्देशन में आयोजित इस कार्यक्रम में महाविद्यालय परिवार के सदस्यों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।हवन कान्हा जी महाराज ने संपन्न कराया। इस अवसर पर महामृत्यंजय मंत्र का जाप करते हुए हवन कुण्ड में समिधाएं अर्पित की गईं। हनुमान चालीसा का भी जाप किया गया।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare