भिलाई। सेन्ट्रल एवेन्यू पर धूम मचाने वाली ‘तफरीह’ एक बार फिर प्रारंभ होने जा रही है। महापौर एवं विधायक देवेन्द्र यादव की यह महत्वाकांक्षी योजना More »

भिलाई। इंदु आईटी स्कूल में प्री-प्राइमरी विंग के नर्सरी से केजी-2 तक के नन्हे-मुन्ने बच्चों द्वारा श्रीकृष्ण जन्माष्टमी बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। More »

भिलाई। केपीएस के प्रज्ञोत्सव-2019 में आज शास्त्रीय नृत्यांगनाओं ने पौराणिक कथाओं को बेहद खूबसूरती के साथ मंच पर उतारा। भरतनाट्यम एवं कूचिपुड़ी कलाकारों ने महाभारत, More »

भिलाई। कृष्णा पब्लिक स्कूल कुटेलाभाटा ने 73वां स्वतंत्रता दिवस खुले, स्वच्छंद आकाश में ध्वजारोहण करते हर्षोल्लास के साथ मनाया। इस समारोह में स्कूल की बैण्ड More »

भिलाई। संजय रूंगटा ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूशंस द्वारा संचालित रूंगटा पब्लिक स्कूल में 15 अगस्त को स्कूल प्रांगण में कक्षा नसर्री से पहली तक के बच्चों द्वारा More »

 

स्वरूपानंद महाविद्यालय के माइक्रोबॉयो स्टूडेन्ट्स ने किया बॉयोटेक लैब का भ्रमण

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपांनद सरस्वती महाविद्यालय के माइक्रोबॉयोलॉजी विभाग के बीएससी और एमएससी के छात्र-छात्राओं ने ‘यश बॉयोटेक लैब’, रायपुर का एक दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण किया। छात्रों ने वहां विभिन्न पौधों की टिशु कल्चर तकनीक के बारे में जानकारी हासिल की। यश लैब के मैनेजर चितरंजन सिंग ने छात्रों को टिशु कल्चर की विभिन्न तकनीकों के बारे में जानकारी दी और छोटी-छोटी गलतियों पर ध्यान देने के बारे में बताया। छात्रों ने वहां ‘एक्सप्लांट’ चयन करने के बारे में जाना कैसे विभिन्न मीडिया बनाया जाता है। उसे कैसे निर्णमीकृत किया जाता है और उसमें एक्सलांट को इनॉक्युलेशन देखा।भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपांनद सरस्वती महाविद्यालय के माइक्रोबॉयोलॉजी विभाग के बीएससी और एमएससी के छात्र-छात्राओं ने ‘यश बॉयोटेक लैब’, रायपुर का एक दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण किया। छात्रों ने वहां विभिन्न पौधों की टिशु कल्चर तकनीक के बारे में जानकारी हासिल की। यश लैब के मैनेजर चितरंजन सिंग ने छात्रों को टिशु कल्चर की विभिन्न तकनीकों के बारे में जानकारी दी और छोटी-छोटी गलतियों पर ध्यान देने के बारे में बताया। छात्रों ने वहां ‘एक्सप्लांट’ चयन करने के बारे में जाना कैसे विभिन्न मीडिया बनाया जाता है। उसे कैसे निर्णमीकृत किया जाता है और उसमें एक्सलांट को इनॉक्युलेशन देखा।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

संतोष राय इंस्टीट्यूट का नि:शुल्क कैरियर काउंसिलिंग एवं पुरस्कार वितरण आज

Dr Santosh Rai Scholarshipभिलाई। कॉमर्स के क्षेत्र में अग्रणी संस्था डॉ. संतोष राय इंस्टीट्यूट द्वारा 1 दिसम्बर को डीएसआर स्कॉलरशिप टेस्ट का आयोजन किया गया था जिसमें दुर्ग-भिलाई तथा अन्य शहरों के बच्चों ने हिस्सा लिया। उक्त परीक्षा का परिणाम एवं पुरस्कार वितरण के साथ ही कैरियर काउंसिलिंग का आयोजन होटल सेन्ट्रल पार्क में रविवार 8 दिसम्बर को किया गया है। साथ ही कक्षा 10वीं के सभी छात्र-छात्राओं तथा उनके अभिभावकों के लिये नि:शुल्क सेमीनार का भी आयोजन किया गया हैं।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

सफलता के लिए सपने देखना और जमकर मेहनत करना जरूरी : श्रीलेखा

Dream big and work hard to achieve successभिलाई। एमजे ग्रुप ऑफ़ एजुकेशन की डायरेक्टर श्रीलेखा विरुलकर ने आज कहा कि सफलता के लिए न केवल सपने देखना जरूरी है बल्कि उन्हें सच करने के लिए डटकर मेहनत करना भी जरूरी है। उन्होंने बताया कि एक साधारण शुरुआत से लेकर आज वे जिस मुकाम पर हैं, उसके पीछे दृढ़ इच्छा शक्ति एवं अथक मेहनत का एक लंबा सिलसिला है। श्रीमती विरुलकर यहां टीचिंग फॉर एम्पावरमेंट एंड मॉरल्स सोसायटी द्वारा इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ इंस्पिरेशन एकोनोमी के सहयोग से आयोजित सेमिनार को संबोधित कर रही थीं।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

  नक्सल प्रभावित बस्तर के ‘हिड़मा’ ने शुरू किया ब्लॉग – हिड़मा की दुनिया

A POTA Cabin student of Bastar Hidma starts bloggingभिलाई। नक्सल ग्रस्त इलाके के पोटाकेबिन का एक बालक ब्लॉगिंग की दुनिया में एक नया नाम है। एक तरफ जहां बस्तर का नाम लेते ही कुछ पर्यटन स्थलों के साथ नक्सल समस्या की तस्वीर उभरती है वहीं इस बालक ने अपना नजरिया अपने ब्लाग के जरिये सामने रखा है। सुकमा के नज़दीक पोटा केबिन का स्कूली छात्र हिड़मा अपने इलाके को, अपने नज़रिए को कविताओं और छोटी कहानियों के ज़रिए प्रस्तुत कर रहा है। इस बालक की जानकारी थियेटर अर्टिस्ट सिग्मा उपाध्याय ने शेयर की है। प्रस्तुत है यह आलेख खुद सिग्मा की जुबानी।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

साइंस कालेज में एनसीसी ने व्यक्तिगत स्वच्छता पर किया जागरूक

NCC cadets spread awareness on personal hygieneदुर्ग। 37 छत्तीसगढ़ बटालियन के निर्देशन में आज शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय की एनसीसी इकाई ने स्वच्छता पखवाड़े के तहत व्यक्तिगत स्वच्छता पर जागरूकता अभियान चलाया। कैडेट्स के साथ ही अन्य विद्यार्थियों को व्यक्तिगत स्वच्छता की बिन्दुवार जानकारी देते हुए बताया गया कि फौज में भी निरोग रहने के लिए व्यक्तिगत स्वच्छता को काफी महत्व दिया जाता है।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare