Santosh Rungta Campus में सजा TEDxRCET का ग्लोबल मंच भिलाई। संतोष रूंगटा कैम्पस में टेडेक्स आरसीईटी का आयोजन हुआ। इस ग्लोबल मंच से अपने जीवन में बड़ी More »

भिलाई संडे TAFREE में हुई छोटी सी मुलाकात भिलाई। भिलाई इस्पात संयंत्र के सेवानिवृत्त डीजीएम और पेशे से मेकानिकल इंजीनियर दीपक ताहिल संगीत से खुशियां बांटते More »

भिलाई। शहर के युवा महापौर देवेन्द्र यादव का जन्मदिन आज भिलाई ने स्वस्फूर्त होकर मनाया। सुबह जहां संडे तफरी में कई केक कटे वहीं दोपहर More »

श्री हरिकोटा। आंध्रप्रदेश स्थित श्री हरिकोटा अत्याधुनिक स्पेस सेंटर से सिंगल रॉकेट के जरिये 104 सैटलाइट लांच करके एक तरफ जहां इसरो ने नया इतिहास More »

संडे तफरी में भी राजनीति ढूंढ रहे कुछ लोग भिलाई। ‘संडे तफरी’ की चौथी कड़ी में इस रविवार को भी सेन्ट्रल एवेन्यू पर मौज मस्ती More »

 

बच्चों ने दीये बनाकर बेचे, पैसे जमाकर वृद्धाश्रम को दिया वाटर कूलर

Students make and sell Diya on diwali to help oldage home peopleरायपुर। होली हार्ट्स स्कूल के करीब 25 बच्चों ने अपने हाथों से मिट्टी के दीये बनाए और फिर उन्हें बेचकर एकत्रित पैसों से एक वाटर कूलर खरीदकर वृद्धाश्रम को भेंट किया ताकि वहां रह रहे बुजुर्ग ठंडा पानी पी सकें। प्रिन्सी धावना, तौसीफ शरीफ, पीयूष लालवानी, नीति सोलंकी, रिजवान खान, जीत चावड़ा, निशांत पाठक, करण कुमार, मनोज अरोरा, युक्ता डागा, मुस्कान कृष्णानी, रोशनी जैन, हर्षा पंजवानी, दीक्षा प्रकाश, नंदिनी अंसाती, लावण्या बरड़िया, स्पर्श जैन, साक्षी शेर्के, शुभम जीवन, अमिताभ सिंह, ओसिमा गुप्ता, अदिति सिंह, तान्या मथानी के चेहरों पर नेक काम करने की खुशी छलक रही थी।
WhatsAppTwitterGoogle GmailShare

प्राचीन बस्तर में चलते थे गजलक्ष्मी की आकृति वाले सोने के सिक्के

Gajalaxmi Gold Coins were in use in ancient Bastarजगदलपुर। अनादि काल से लक्ष्मी का विशेष महत्व रहा है और आज भी लक्ष्मी के लिए देश में सबसे बड़ा पर्व दीपावली मनाया जाता है। भले ही आज बस्तर की गिनती पिछड़े-वनांचल के रूप में होती है लेकिन बस्तर ने वह युग भी देखा है जब यहां सोने के सिक्के चलते थे, वह भी गजलक्ष्मी की आकृति वाली। तीन स्थानों से प्राप्त ऐसे एक हजार साल पुराने 25 सिक्कों को सुरक्षा के हिसाब से जिला पुरातत्व संग्रहालय के लॉकर में रखा गया है। अब तक आठ स्थानों में हुई खुदाई से विभाग को कुल 171 स्वर्ण मुद्राएं मिली हैं। वहीं दो क्विंटल 10 किग्रा वजनी चांदी के हजारों सिक्के जिला कोषालय में जमा हैं।

पुरुषों को भी होता है ब्रेस्ट कैंसर

Even Males can get breast cancerमाना जाता है कि ब्रेस्ट कैंसर सिर्फ महिलाओं को होता है क्योंकि पुरुषों के पास ब्रेस्ट नहीं होते। लेकिन सच्चाई यह है कि पुरुषों के पास ब्रेस्ट टीशू यानी स्तन ऊतक होते हैं। इसलिए उन्हें भी ब्रेस्ट कैंसर हो सकता है। पुरुषों में ब्रेस्ट कैंसर एक दुर्लभ रोग है और यह सभी तरह के ब्रेस्ट कैंसर का सिर्फ 1 प्रतिशत है। इस बारे में पुरुषों को कुछ अजीब होने का संदेह कम ही रहता है। मर्द भी कम सतर्कता दिखाते हैं, जो उन्हें ब्रेस्ट कैंसर की आशंका से परे कर देता है और वे नियमित कराई जाने वाली जांच-पड़ताल को दरकिनार कर देते हैं। 

You Light Candles, we light faces of Orphans : RPS Students

Rungta Public School BhilaiBhilai. The prefects council of RPS had taken a giant leap towards charity work. They mobilized fund collection drive by requesting the parents of RPS to donate generously for the cause of lighting faces of orphans of the District Durg. Students from LKG to Class XI donated generously and the students representative had gone to the Shashkiya Bal Griha, an Orphanage Home at Durg. The team of RPS that visited the orphanage consisted of the Prefectorial body of the school along with few teachers and some other student volunteers from classes VI to XI. They had carried Sweets, Note Books, Pencil, Diyas, Lights, Chocolates & Carrom boards.

पोषण दिवस पर स्वरुपानंद महाविद्यालय में स्वास्थ्य शिविर

भिलाई। विश्व पोषण दिवस पर स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में आईक्यूएसी सेल द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन हर्बल इंडिया के सौजन्य से किया गया। ऐश्वर्य सिंग ठाकुर, श्रीमती लक्की विश्वकर्मा, श्रीमती संगीता मिश्रा और श्रीमती विद्या ठाकुर ने स्टाफ एवं विद्यार्थियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया।भिलाई। विश्व पोषण दिवस पर स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में आईक्यूएसी सेल द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन हर्बल इंडिया के सौजन्य से किया गया। ऐश्वर्य सिंग ठाकुर, श्रीमती लक्की विश्वकर्मा, श्रीमती संगीता मिश्रा और श्रीमती विद्या ठाकुर ने स्टाफ एवं विद्यार्थियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। मुख्य वक्ता ऐश्वर्य सिंग ठाकुर ने बताया कि लोग गलत खान पान की वजह से ज्यादा बीमार हो रहे है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के सर्वे के अनुसार 70 प्रतिशत आबादी गलत जीवन शैली और असंतुलित भोजन के कारण बीमार हो रहे है। उन्होंने दैनिक जीवन में सही पोशण-संतुलित भोजन और व्यायाम को स्थान देने की बात कही। अध्यात्मिक, मानसिक, षारीरिक और सामाजिक स्तर पर स्वास्थ्य के विभिन्न टीप दिये।

डॉ कलाम के जीवन व कृतित्व पर शंकराचार्य महाविद्यालय में कार्यक्रम

Shankaracharya-Mahavidyalayभिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय जुनवानी के सूक्ष्मजीव विज्ञान विभाग द्वारा पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन, व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर वंदना सोनी (बीएससी तृतीय वर्ष) ने पावर प्वांट के माध्यम से डॉ. कलाम के जीवन के विभिन्न पहलुओं प्रकाश डाला तथा स्वरचित कविता के द्वारा अपने विचार प्रस्तुत किए। चंद्रप्रकाश शर्मा (बीएससी प्रथम वर्ष) व ममता साहू (बीएससी प्रथम वर्ष) ने स्लोगन के माध्यम से अपने विचार प्रस्तुत किए।

सुहानी शाह ने दूसरी में पढ़ाई छोड़ी और आज कारपोरेट ट्रेनर

Suhani-Shah-Santosh-Raiभिलाई। सुहानी शाह ने दूसरी में औपचारिक शिक्षा का त्याग कर दिया और अपने पसंदीदा क्षेत्र में काम करना शुरू कर दिया। सात साल की उम्र में अपना पहला शो करने वाली सुहानी की उम्र अभी 27 साल है और उनके पीछे 20 साल का लंबा सफल करियर है। सुहानी जादू के शो करती हैं। पणजी में माइंड केयर क्लिनिक चलाती हैं। उनकी 5 से अधिक पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। वे एक सफल कारपोरेट ट्रेनर हैं। सुहानी बताती हैं कि यह जीवन हमें सफल होने के लिए मिला है। असफलता अपवाद है। जीवन बहुत सरल है। हम स्वयं इसे पेचीदा बनाते हैं और फिर इससे पैदा होने वाली उलझनों को सुलझाने में उलझ जाते हैं। हम सरल रहें। अपने काम पर फोकस करें और उसे बेहतर ढंग से करने के लिए निरंतर प्रयास करें। आप जो भी काम करते हैं, उसमें बेस्ट बनें। सफलता अपने आप आपके कदम चूमेगी।

देवी लक्ष्मी के रूप में पूजी जाती हैं मां दंतेश्वरी : 800 साल से चली आ रही है परंपरा

Danteshwari Ma is also worshippped as Godess Laxmiदंतेवाड़ा। कार्तिक अमावस्या की रात देवी लक्ष्मी की पूजा सभी घर और मंदिरों में होती है पर दंतेवाड़ा शक्तिपीठ में 9 दिन पहले ही लक्ष्मी पूजन शुरु हो जाती है। देवी दंतेश्वरी की भी लक्ष्मी के रूप में पूजा करते हैं। यह अनूठी परंपरा यहां 800 साल से चली आ रही है। दीपावली के पूर्व ही माई दंतेश्वरी के पूजा तुलसीपानी विधान से होती है। पुजारी प्रतिदिन ब्रम्हमुहूर्त में डंकनी-शंकनी में स्नान के बाद पूजा-विधान संपन्न् करते हैं। नवरात्र पर माईजी को दुर्गा के 9 रुपों में आराधना करते हैं तो धनतरेस से 9 पहले देवी लक्ष्मी स्वरूप में पूजा होता है।

तेदमंता अभियान से उखडऩे लगे हैं नक्सलियों के पांव

Naxal step out as Tedmanta gains pace in Bastarरायपुर। तेदमंता अभियान पुलिस और ग्रामीणों को पास ला रही है। पहले जहां लोग पुलिस से बातचीत नहीं करना चाहते थे, उनके साथ दिखना नहीं चाहते थे वहीं अब वे उन्हें अपनी बैठकों में बुलाने लगे हैं। तेदमंता से जुड़े गांवों में अब नक्सलियों की आमद कम हो गई है। दोरनापाल के एसडीओपी विवेक शुक्ला ने एक कला जत्था दल बनाने की योजना बनाई जिसमें एसपी और अन्य अफसरों की सहमति मिल गई।

गायत्री परिवार ने नक्सल प्रभावित सात जिलों को गोद लिया

रायपुर। गायत्री परिवार ने नक्सल प्रभावित सात जिलों को गोद लिया है। अशांत जिलों में दंडकारण्य परियोजना शुरू की जाएगी। शांति के लिए आध्यात्मिक, सामाजिक और भौतिक प्रगति करने में गायत्री परिवार विशेष योगदान देगा।रायपुर। गायत्री परिवार ने नक्सल प्रभावित सात जिलों को गोद लिया है। अशांत जिलों में दंडकारण्य परियोजना शुरू की जाएगी। शांति के लिए आध्यात्मिक, सामाजिक और भौतिक प्रगति करने में गायत्री परिवार विशेष योगदान देगा। छत्तीसगढ़ प्रवास पर आए गायत्री परिवार हरिद्वार के प्रमुख प्रणव पंड्या राजनीति, धर्म, धर्मगुरु और नक्सलवाद पर खुलकर बोले।
राजधानी में पत्रकारों से चर्चा में पंड्या ने कहा कि धर्म का राजनीति से संबंध नहीं है। धर्म की गोद में बैठना, धर्म के नाम पर वोट मांगना गलत है। धर्म तंत्र आदर्श है, लेकिन राजनीति तंत्र के आयाम ही दूसरे हैं। उन्होंने बताया कि गायत्री परिवार ने बस्तर सहित कांकेर, नारायणपुर, सुकमा, कोडागांव, बीजापुर, दंतेवाड़ा को गोद लिया है। इन जिलों के एक-एक बच्चे को गायत्री परिवार से जुड़े ढाई हजार राइस मिलर गोद लेंगे। दंडकारण्य परियोजना का संभागीय मुख्यालय फरसगांव के मसोरा गांव में होगा ।

डॉ संतोष राय ने बदली भिलाई की सोच : रवि

Dr Santosh Rai Institute भिलाई। भिलाई इस्पात संयंत्र के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एम रवि कुमार ने कहा कि डॉ संतोष राय ने भिलाई की सोच को बदल कर रख दिया। आधुनिक भारत के इस औद्योगिक तीर्थ के अधिकांश होनहार बच्चे गणित और विज्ञान ही पढऩा चाहते थे। डॉ संतोष राय ने अपने अथक प्रयासों से इसे बदल दिया और कॉमर्स को एक उम्दा और संभावनाओं से भरे विषय के रूप में स्थापित किया। उन्होंने डॉ संतोष राय को ट्रेंड सेटर की संज्ञा भी दी।

कल्याण कालेज में पेड़ों की कटाई, साइकल स्टैंड ढहाया

NSUIभिलाई। कल्याण महाविद्यालय में नए भवन के लिए पेड़ों की अंधाधुंध कटाई और शासकीय मद से बने सायकल स्टैंड को ध्वस्त करने के विरोध में एनएसयूआई ने राज्य के उच्च शिक्षा मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय को ज्ञापन सौंपा। श्री पाण्डेय यहां छात्र संघ के शपथ ग्रहण कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। कल्याण कालेज की एनएसयूआई टीम द्वारा कल्याण कालेज के संगठन अध्यक्ष आकाश कनोजिया के नेतृत्व एवम महाविद्यालय के सचिव अतुल श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में मंत्री जो को ज्ञापन सौपा गया। एनएसयूआई ने मंत्री से शासकीय धन की बर्बादी और पर्यावरण कानून के तहत संबंधित लोगों पर कार्रवाई की मांग की है।

आरूषि मैं शर्मिन्दा हूँ, हो सके तो माफ कर देना

Aarushi Talwar Murder Caseआरूषि मैं नहीं जानता तुम्हें किसने मारा। इतना कह सकता हूँ कि मृत्यु के बाद तुम्हारा चीर हरण हुआ। खोजी पुलिस, सीबीआई और पत्रकार ढूंढ-ढूंढ कर रसीले समाचार लाते रहे और लोग चटखारे ले लेकर पढ़ते रहे। मैं शर्मिन्दा हूँ कि मैं भी इसी सिस्टम का एक हिस्सा हूँ। तुम्हारी मृत्यु की सजा तुम्हारे माता पिता को भी मिल चुकी है। ऐसी भयानक सजा दुनिया की कोई भी अदालत किसी को नहीं दे सकती। आईएसआईएस भी नहीं।

25 की सिग्मा का 22.5 साल का थिएटर करियर

Sigma-Upadhyay-Sets भिलाई। मशहूर थिएटर आर्टिस्ट विभाष एवं अनिता उपाध्याय की बेटी सिग्मा अभी सिर्फ 25 साल की है पर थिएटर का उसका अनुभव 22.5 का हो गया है। सिग्मा 22 अक्टूबर की शाम एसएनजी विद्याभवन में 7 स्टेप्स अराउंड द फायर (अग्नि के सात फेरे) का मंचन करने जा रही हैं। इस अंतरराष्ट्रीय प्ले का अनुवाद, परिकल्पना एवं निर्देशन सिग्मा ने ही किया है। इस आयोजन से पहले हमने सिग्मा से मिलने का विचार किया। सिग्मा इन दिनों अपने प्ले के प्रॉप्स एवं सेट्स की तैयारी में जुटी हैं। उन्होंने बताया कि इस प्ले का मंचन एक बड़ी चुनौती है। प्ले का इससे पहले ऑकलैंड, कनाडा और दक्षिण भारत के विश्वविद्यालय में मंचन हो चुका है। इस नाटक को वे अपने इनटर्नशिप प्रोजेक्ट के तहत कर रही हैं। 

ओट्स (Oats) के पकौड़े होते हैं स्वादिष्ट

Oats Pakodaओट्स (Oats) हेल्दी है यह तो सभी जानते हैं और इस हेल्दी इंग्रीडिएंट से आपने अब तक कई टेस्टी डिशेज बनायी और खायी होगी। अब बनाइये ओट्स के पकौड़े। बेसन, चावल का आटा और ओट्स को मिलाकर तैयार होने वाला यह पकौड़ा बेहद आसानी से तैयार हो जाता है। चावल का आटा आधा कप, प्याज 2 (बारीक कटा), धनिया पत्ता मुट्ठीभर (बारीक कटा), हरी मिर्च 6, अदरक 1 इंच, करी पत्ता मुट्ठीभर, लहसुन 7 कलियां, मक्खन 2 चम्मच, नमक चुटकी भर, तेल 1 कप.