Category Archives: articles

आईक्यूएसी ने की समीक्षा; अध्यापन गुणवत्ता पर रहेगा फोकस

दुर्ग। शासकीय डॉ. वा.वा. पाटणकर कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय की आंतरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ (आई.क्यू.ए.सी.) की बैठक विगत दिनों आयोजित की गयी। प्राचार्य डॉ. सुशील चन्द्र तिवारी की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में आई.क्यू.ए.सी. के द्वारा इस सत्र में किए गए कार्यों की समीक्षा की गयी। महाविद्यालय की आई.क्यू.ए.सी. के विशेषज्ञ सदस्यों में डॉ. प्रदीप अग्निहोत्री, रायपुर तथा डॉ. ए.एन. माखीजा, राजनांदगांव उपस्थित थे।दुर्ग। शासकीय डॉ. वा.वा. पाटणकर कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय की आंतरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ (आई.क्यू.ए.सी.) की बैठक विगत दिनों आयोजित की गयी। प्राचार्य डॉ. सुशील चन्द्र तिवारी की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में आई.क्यू.ए.सी. के द्वारा इस सत्र में किए गए कार्यों की समीक्षा की गयी। महाविद्यालय की आई.क्यू.ए.सी. के विशेषज्ञ सदस्यों में डॉ. प्रदीप अग्निहोत्री, रायपुर तथा डॉ. ए.एन. माखीजा, राजनांदगांव उपस्थित थे।

सीएसआईटी की रासेयो इकाई ने थनौद में लगाया शिविर

दुर्ग। छत्रपति शिवाजी इस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालाजी के राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के छात्र - छात्राओं के द्वारा आयुवेद ग्राम थनौद में 7 दिवसीय षिविर लगाया गया था। जिसमें छत्रपति शिवाजी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालाजी के लगभग 33 छात्रों ने शिविर में अपनी सहभागिता दी। सीएसआईटी के राष्ट्रीय सेवा योजना ईकाई के कार्यक्रम अधिकारी प्रो. प्रतिभा एस कुरूप के कुशल नेतृत्व में आयोजित यह 7 दिवसीय कार्यक्रम में एन.एस.एस के छात्र - छात्राओं ने पूरे लगन एवं उमंग के साथ अपनी कार्यकुशलता का परिचय दिया।दुर्ग। छत्रपति शिवाजी इस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालाजी के राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के छात्र – छात्राओं के द्वारा आयुवेद ग्राम थनौद में 7 दिवसीय षिविर लगाया गया था। जिसमें छत्रपति शिवाजी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालाजी के लगभग 33 छात्रों ने शिविर में अपनी सहभागिता दी। सीएसआईटी के राष्ट्रीय सेवा योजना ईकाई के कार्यक्रम अधिकारी प्रो. प्रतिभा एस कुरूप के कुशल नेतृत्व में आयोजित यह 7 दिवसीय कार्यक्रम में एन.एस.एस के छात्र – छात्राओं ने पूरे लगन एवं उमंग के साथ अपनी कार्यकुशलता का परिचय दिया।

एमजे कालेज की आफरीन और विशाल को राष्ट्रीय निबंध लेखन में पुरस्कार

भिलाई। एमजे कालेज की बी.काम भाग दो की छात्रा आफरीन बानो एवं बीकाम भाग एक के छात्र विशाल सोनी ने श्रीरामचंद्र मिशन द्वारा आयोजित राष्ट्रीय निबंध लेखन प्रतियोगिता में विशिष्ट स्थान प्राप्त किया है। दोनों ही विद्यार्थी इससे पहले भी राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में पुरस्कृत हो चुके हैं। भिलाई। एमजे कालेज की बी.काम भाग दो की छात्रा आफरीन बानो एवं बीकाम भाग एक के छात्र विशाल सोनी ने श्रीरामचंद्र मिशन द्वारा आयोजित राष्ट्रीय निबंध लेखन प्रतियोगिता में विशिष्ट स्थान प्राप्त किया है। दोनों ही विद्यार्थी इससे पहले भी राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में पुरस्कृत हो चुके हैं। 

उच्च शिक्षा की गोलमोल व्यवस्था पर हुआ मंथन

भिलाई। दुर्ग जिला भारतीय शिक्षण मण्डल द्वारा उच्च शिक्षा के क्षेत्र में आने वाली विभिन्न समस्याओं और उनके समाधान के लिए 21 फरवरी 2018 को एक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें उच्च शिक्षा के विभिन्न पहलुओं पर विचार मंथन किया गया। इस बैठक में प्रमुख रूप से नैक के द्वारा महाविद्यालय को मिलने वाले ग्रेड के विरोधाभासी मापदण्डों पर चर्चा हुई। डिग्री महाविद्यालयों, तकनीकि महाविद्यालयों और चिकित्सा महाविद्यालयों के लिए एक जैसे मापदण्ड है।भिलाई। दुर्ग जिला भारतीय शिक्षण मण्डल द्वारा उच्च शिक्षा के क्षेत्र में आने वाली विभिन्न समस्याओं और उनके समाधान के लिए 21 फरवरी 2018 को एक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें उच्च शिक्षा के विभिन्न पहलुओं पर विचार मंथन किया गया। इस बैठक में प्रमुख रूप से नैक के द्वारा महाविद्यालय को मिलने वाले ग्रेड के विरोधाभासी मापदण्डों पर चर्चा हुई। डिग्री महाविद्यालयों, तकनीकि महाविद्यालयों और चिकित्सा महाविद्यालयों के लिए एक जैसे मापदण्ड है।

संतोष रूंगटा कैम्पस में एचआर कॉन्क्लेव : छात्रों को जीएसटी अपनाने की सलाह

भिलाई। संतोष रूंगटा एजुकेशनल कैम्पस में संचालित रूंगटा कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नालॉजी (आरसीइटी) के ऑडिटोरियम में दो-दिवसीय मेगा एचआर कॉनक्लेव का आगाज हो गया। अपने की-नोट एड्रेस में टेक्निकल एजुकेशन द वे अहेड विषय पर क्विनॉक्स के सीनियर वाईस प्रेसीडेंट अरूण कुमार सिंह ने बताया कि कंपनियों में रोजगार संभावनाओं की कोई कमी नहीं है, आवश्यकता युवाओं को अपने आपको दक्ष बनाने की है। जिस तरह रॉ मटेरियल को प्रोसेस कर फैक्ट्री में फिनिश्ड प्रोडक्ट्स बनाये जाते हैं उसी प्रकार शैक्षणिक संस्थानों में भावी इंजीनियर्स को विभिन्न प्रशिक्षण प्रक्रियाओं से गुजारकर निखारा जाना चाहिये। एग्रीकल्चर तथा वॉटर कंजर्वेशन के क्षेत्र में रिसर्च तथा इनोवेशन की सदैव संभावनायें हैं। सामाजिक आवश्यकताओं के अनुरूप अपडेटेड स्किल्स सदैव उपयोगी होती हैं।भिलाई। संतोष रूंगटा एजुकेशनल कैम्पस में संचालित रूंगटा कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नालॉजी (आरसीइटी) के ऑडिटोरियम में दो-दिवसीय मेगा एचआर कॉनक्लेव का आगाज हो गया। अपने की-नोट एड्रेस में टेक्निकल एजुकेशन द वे अहेड विषय पर क्विनॉक्स के सीनियर वाईस प्रेसीडेंट अरूण कुमार सिंह ने बताया कि कंपनियों में रोजगार संभावनाओं की कोई कमी नहीं है, आवश्यकता युवाओं को अपने आपको दक्ष बनाने की है। जिस तरह रॉ मटेरियल को प्रोसेस कर फैक्ट्री में फिनिश्ड प्रोडक्ट्स बनाये जाते हैं उसी प्रकार शैक्षणिक संस्थानों में भावी इंजीनियर्स को विभिन्न प्रशिक्षण प्रक्रियाओं से गुजारकर निखारा जाना चाहिये। एग्रीकल्चर तथा वॉटर कंजर्वेशन के क्षेत्र में रिसर्च तथा इनोवेशन की सदैव संभावनायें हैं। सामाजिक आवश्यकताओं के अनुरूप अपडेटेड स्किल्स सदैव उपयोगी होती हैं।

स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में मनाया गया पुस्तक वाचन दिवस

भिलाई। विद्यार्थियों को पुस्तककालय की ओर आकर्षित करने के उद्देश्य से स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में पुस्तक वाचन दिवस का आयोजन किया गया। ग्रंथपाल श्रीमती वनिता महाले ने बताया साहित्य, अभिप्रेरक, सामान्य ज्ञान, समसमायिक घटना चक्र छ.ग. साहित्य व संस्कृति आदि से संबंधित पुस्तकों को डिसप्ले किया गया। जिससे विद्यार्थी प्राध्यापक आमंत्रित स्टेक होल्डर विषय के अतिरिक्त दूसरी पुस्तकें पढ़े व ग्रंथालय में ज्यादा समय व्यतीत करने का आदत डालें। भिलाई। विद्यार्थियों को पुस्तककालय की ओर आकर्षित करने के उद्देश्य से स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में पुस्तक वाचन दिवस का आयोजन किया गया। ग्रंथपाल श्रीमती वनिता महाले ने बताया साहित्य, अभिप्रेरक, सामान्य ज्ञान, समसमायिक घटना चक्र छ.ग. साहित्य व संस्कृति आदि से संबंधित पुस्तकों को डिसप्ले किया गया। जिससे विद्यार्थी प्राध्यापक आमंत्रित स्टेक होल्डर विषय के अतिरिक्त दूसरी पुस्तकें पढ़े व ग्रंथालय में ज्यादा समय व्यतीत करने का आदत डालें। 

डॉ संतोष राय इंस्टीट्यूट के दो बच्चों को ऑल इंडिया रैंक

भिलाई। कामर्स एजुकेशन की प्रतिष्ठित संस्था डॉ संतोष राय इंस्टीट्यूट के दो बच्चों ने ऑल इंडिया रैंक प्राप्त करने में सफलता हासिल की है। सीएस फाउंडेशन की परीक्षा में जहां मनीश्री सामल को एआईआर 23 मिला वहीं सीएमए इंटर में रमनानी एआईआर 20 झटकने में सफल रहे हैं।भिलाई। कामर्स एजुकेशन की प्रतिष्ठित संस्था डॉ संतोष राय इंस्टीट्यूट के दो बच्चों ने ऑल इंडिया रैंक प्राप्त करने में सफलता हासिल की है। सीएस फाउंडेशन की परीक्षा में जहां मनीश्री सामल को एआईआर 23 मिला वहीं सीएमए इंटर में रमनानी एआईआर 20 झटकने में सफल रहे हैं। सी.एस. फाउन्डेशन की परीक्षा में कॉमर्स के क्षेत्र में अग्रणी संस्था संतोष राय इंस्टीट्यूट की मनीश्री सामल ने देश में 23 वां स्थान बनाया। इस परीक्षा में डॉ. संतोष राय इंस्टीट्यूट का परीक्षा परिणाम 90 प्रतिशत रहा।

एमजे कालेज में ट्रांसजेंडर समानता पर कार्यशाला

भिलाई। एमजे कालेज में ट्रांसजेंडर समानता पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। छत्तीसगढ़ ट्रांसजेंडर कल्याण बोर्ड की विद्या राजपूत कार्यक्रम की मुख्य अतिथि एवं वक्ता थीं। इस अवसर पर ट्रांसजेंडर समुदाय ने कहा कि प्राचीन भारत में भले ही किन्नरों को समाज में सम्मान हासिल था किन्तु मौजूदा समाज में उनके लिए कोई जगह अब तक नहीं बन पाई है। उन्होंने कहा कि आज आजीविका का प्रश्न इस समुदाय के सामने सबसे बड़ा हो गया है और शासन को उनके लिए स्वतंत्र रोजगार के अवसर तलाशने होंगे। भिलाई। एमजे कालेज में ट्रांसजेंडर समानता पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। छत्तीसगढ़ ट्रांसजेंडर कल्याण बोर्ड की विद्या राजपूत कार्यक्रम की मुख्य अतिथि एवं वक्ता थीं। इस अवसर पर ट्रांसजेंडर समुदाय ने कहा कि प्राचीन भारत में भले ही किन्नरों को समाज में सम्मान हासिल था किन्तु मौजूदा समाज में उनके लिए कोई जगह अब तक नहीं बन पाई है। उन्होंने कहा कि आज आजीविका का प्रश्न इस समुदाय के सामने सबसे बड़ा हो गया है और शासन को उनके लिए स्वतंत्र रोजगार के अवसर तलाशने होंगे। 

भूटान नरेश के जन्मदिवस पर हुआ कर्मा नृत्य, छत्तीसगढ़ के स्काउट गाइड बने प्रेरणा

भिलाई। भूटान नरेश जिग्मे खेशर नामगेल वांगचुक के जन्मदिवस पर वहां के स्काउट एवं गाइड्स ने कर्मा नृत्य प्रस्तुत कर उन्हें अभिभूत कर दिया। इस दल को कर्मा नृत्य की प्रेरणा भारत स्काउट गाइड जम्बूरी से मिली। इस बार भूटान के स्काउट्स एवं गाइड्स भी इसमें शामिल हुए थे।भिलाई। भूटान नरेश जिग्मे खेशर नामगेल वांगचुक के जन्मदिवस पर वहां के स्काउट एवं गाइड्स ने कर्मा नृत्य प्रस्तुत कर उन्हें अभिभूत कर दिया। इस दल को कर्मा नृत्य की प्रेरणा भारत स्काउट गाइड जम्बूरी से मिली। इस बार भूटान के स्काउट्स एवं गाइड्स भी इसमें शामिल हुए थे।

विलक्षण प्रतिभा के धनी डॉ शांतिस्वरूप भटनागर

पद्मभूषण डॉ शांतिस्वरूप भटनागर बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। आज उनका जन्मदिवस है। एक प्रख्यात रसायनशास्त्री के रूप में उन्होंने समाज को अपना योगदान देने के साथ ही कविताओं के माध्यम से भी अपनी भावनाओं को अभिव्यक्ति दी। आजाद भारत में वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) की स्थापना, श्री भटनागर की अध्यक्षता में की गयी। इन्हें सी.एस.आई.आर का प्रथम महा-निदेशक बनाया गया। इन्हें शोध प्रयोगशालाओं का जनक कहा जाता है।

Dr. Shanti Swaroop Bhatnagar

पद्मभूषण डॉ शांतिस्वरूप भटनागर बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। आज उनका जन्मदिवस है। एक प्रख्यात रसायनशास्त्री के रूप में उन्होंने समाज को अपना योगदान देने के साथ ही कविताओं के माध्यम से भी अपनी भावनाओं को अभिव्यक्ति दी। आजाद भारत में वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) की स्थापना, श्री भटनागर की अध्यक्षता में की गयी। इन्हें सी.एस.आई.आर का प्रथम महा-निदेशक बनाया गया। इन्हें शोध प्रयोगशालाओं का जनक कहा जाता है।

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद बढ़ रहे दुष्कर्म के दर्ज मामले

भिलाई। बचपन बचाओ आंदोलन की याचिका के बाद सुप्रीम कोर्ट के निर्देश का परिपालन हो रहा है। इसलिए देश भर में दुष्कर्म के दर्ज मामलों में इजाफा हो रहा है। नाबालिगों को भगाकर शादी करने और घर बसाने वालों के खिलाफ भी अब दुष्कर्म के मामले दर्ज किए जा रहे हैं। ऐसे मामलों की संख्या कुल दुष्कर्म के मामलों के लगभग 30 फीसदी हैं। वर्ष 2013 में सुप्रीम कोर्ट ने बचपन बचाओ आंदोलन की याचिका पर सुनवाई करते हुए देश के सभी प्रदेशों में नाबालिगों की गुमशुदगी के मामलों में अपहरण दर्ज कर उनकी पतासाजी करने कहा था।

minor rape diplay pic

भिलाई। बचपन बचाओ आंदोलन की याचिका के बाद सुप्रीम कोर्ट के निर्देश का परिपालन हो रहा है। इसलिए देश भर में दुष्कर्म के दर्ज मामलों में इजाफा हो रहा है। नाबालिगों को भगाकर शादी करने और घर बसाने वालों के खिलाफ भी अब दुष्कर्म के मामले दर्ज किए जा रहे हैं। ऐसे मामलों की संख्या कुल दुष्कर्म के मामलों के लगभग 30 फीसदी हैं। वर्ष 2013 में सुप्रीम कोर्ट ने बचपन बचाओ आंदोलन की याचिका पर सुनवाई करते हुए देश के सभी प्रदेशों में नाबालिगों की गुमशुदगी के मामलों में अपहरण दर्ज कर उनकी पतासाजी करने कहा था। 

दंतेवाड़ा की सुदरी के लिए कोरबा से आया दुर्लभ बॉम्बे ब्लड

दंतेवाड़ा। बॉम्बे ब्लड ग्रुप का एक और मरीज दंतेवाड़ा में मिला है। 24 घंटे के भीतर कोरबा से ब्लड अरेंज किया गया। ब्लड बैंक के पैथोलाजिस्ट डॉ. दीपेंद्र भदौरिया के मुताबिक दस हजार में किसी एक में बॉम्बे ब्लड ग्रुप होता है। छग में अब तक इस ग्रुप के 9 और भारत में 178 लोग ही चिन्हित हो पाए हैं। पहली बार इस ग्रुप का मरीज वर्ष 1952 में बॉम्बे के एक हॉस्पिटल में मिला था। इसलिए इस ब्लड ग्रुप का नाम बॉम्बे रखा गया।दंतेवाड़ा। बॉम्बे ब्लड ग्रुप का एक और मरीज दंतेवाड़ा में मिला है। 24 घंटे के भीतर कोरबा से ब्लड अरेंज किया गया। ब्लड बैंक के पैथोलाजिस्ट डॉ. दीपेंद्र भदौरिया के मुताबिक दस हजार में किसी एक में बॉम्बे ब्लड ग्रुप होता है। छग में अब तक इस ग्रुप के 9 और भारत में 178 लोग ही चिन्हित हो पाए हैं। पहली बार इस ग्रुप का मरीज वर्ष 1952 में बॉम्बे के एक हॉस्पिटल में मिला था। इसलिए इस ब्लड ग्रुप का नाम बॉम्बे रखा गया। रक्त की व्यवस्था छत्तीसगढ़ ब्लड डोनर फाउंडेशन के सहयोग से किया गया। फाउंडेशन के पास इस ग्रुप के 8 डोनर हैं।

विदेशी पर्यटकों को खूब भा रहा बस्तर का टूरिस्ट विलेज कंसेप्ट

जगदलपुर। नक्सली उत्पात के चलते हाशिए पर आए बस्तर टूरिज्म को नए सिरे से जीवित कर दिखाया है एक सामान्य से किसान ने। उसने पांच गांवों को पर्यटक गांव के रूप में विकसित कर लिया है। यहां विदेशी टूरिस्ट पहुंचने लगे हैं। जगदलपुर ब्लॉक के ग्राम पराली के किसान शकील रिजवी ने यह कमाल कर दिखाया है। उन्होंने न केवल इस ब्लॉक के पांच गांवों को पर्यटन हब के रूप में विकसित कर दिया है, वरन विदेशी सैलानियों को भी यहां लाने में कामयाब हो गए हैं।जगदलपुर। नक्सली उत्पात के चलते हाशिए पर आए बस्तर टूरिज्म को नए सिरे से जीवित कर दिखाया है एक सामान्य से किसान ने। उसने पांच गांवों को पर्यटक गांव के रूप में विकसित कर लिया है। यहां विदेशी टूरिस्ट पहुंचने लगे हैं। जगदलपुर ब्लॉक के ग्राम पराली के किसान शकील रिजवी ने यह कमाल कर दिखाया है। उन्होंने न केवल इस ब्लॉक के पांच गांवों को पर्यटन हब के रूप में विकसित कर दिया है, वरन विदेशी सैलानियों को भी यहां लाने में कामयाब हो गए हैं।

यंगिस्तान ने श्री शंकराचार्य महाविद्यालय के साथ खेला सद्भावना मैच

youngistanमनीष की स्टाइलिश बैटिंग से निकले 47 रन, विकेटकीपर बनकर झटका एक विकेट, सभी विकेट गंवा कर श्रीशंकराचार्य महाविद्यालय ने 15 रनों से गंवाया मैच
भिलाई। रविवार की सर्द सुबह में आज यंगिस्तान ने श्री शंकराचार्य महाविद्यालय के फैकल्टी मेम्बर्स के साथ सद्भावना मैच खेला। यंगिस्तान ने तीन महिला खिलाड़ी श्री शंकराचार्य से लिए और  यंगिस्तान 11 के नाम से मैच जीत लिया। मनीष को ही मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय के कृष्ण जीबन मंडल को बेस्ट बैट्समैन और यंगिस्तान की श्रीमती कविता कुशवाहा को बेस्ट बोलर घोषित किया गया।

रूंगटा ग्रुप के कार्निवाल में नकास के गानों पर थिरके युवा

भिलाई। संजय रूंगटा ग्रुप में आयोजित कार्निवाल के दूसरे दिन बॉलीवुड सिंगर नकास अजीज के गानों पर कॉलेज के विद्यार्थी पूरी शाम थिरकते रहे। नकास ने अपने गानों के अलावा दूसरे गानों की भी शानदार प्रस्तुति दी। लाइव कन्सर्ट में नकास ने अपने बैंड के साथ पूरे माहौल को संगीतमय बना दिया। एक के बाद एक गानों की झड़ी से युवा मंच तक जाने, उनके साथ सेल्फी लेने, हाथ मिलाने के लिए उमड़ रहे थे।भिलाई। संजय रूंगटा ग्रुप में आयोजित कार्निवाल के दूसरे दिन बॉलीवुड सिंगर नकास अजीज के गानों पर कॉलेज के विद्यार्थी पूरी शाम थिरकते रहे। नकास ने अपने गानों के अलावा दूसरे गानों की भी शानदार प्रस्तुति दी। लाइव कन्सर्ट में नकास ने अपने बैंड के साथ पूरे माहौल को संगीतमय बना दिया। एक के बाद एक गानों की झड़ी से युवा मंच तक जाने, उनके साथ सेल्फी लेने, हाथ मिलाने के लिए उमड़ रहे थे। नकास ने युवाओं को मंच पर बुलाकर भी डांस कराया।