Category Archives: Crime/Legal

तेदमंता अभियान से उखडऩे लगे हैं नक्सलियों के पांव

Naxal step out as Tedmanta gains pace in Bastarरायपुर। तेदमंता अभियान पुलिस और ग्रामीणों को पास ला रही है। पहले जहां लोग पुलिस से बातचीत नहीं करना चाहते थे, उनके साथ दिखना नहीं चाहते थे वहीं अब वे उन्हें अपनी बैठकों में बुलाने लगे हैं। तेदमंता से जुड़े गांवों में अब नक्सलियों की आमद कम हो गई है। दोरनापाल के एसडीओपी विवेक शुक्ला ने एक कला जत्था दल बनाने की योजना बनाई जिसमें एसपी और अन्य अफसरों की सहमति मिल गई।

WhatsAppTwitterGoogle GmailShare

कल्याण कालेज में पेड़ों की कटाई, साइकल स्टैंड ढहाया

NSUIभिलाई। कल्याण महाविद्यालय में नए भवन के लिए पेड़ों की अंधाधुंध कटाई और शासकीय मद से बने सायकल स्टैंड को ध्वस्त करने के विरोध में एनएसयूआई ने राज्य के उच्च शिक्षा मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय को ज्ञापन सौंपा। श्री पाण्डेय यहां छात्र संघ के शपथ ग्रहण कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। कल्याण कालेज की एनएसयूआई टीम द्वारा कल्याण कालेज के संगठन अध्यक्ष आकाश कनोजिया के नेतृत्व एवम महाविद्यालय के सचिव अतुल श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में मंत्री जो को ज्ञापन सौपा गया। एनएसयूआई ने मंत्री से शासकीय धन की बर्बादी और पर्यावरण कानून के तहत संबंधित लोगों पर कार्रवाई की मांग की है।

आरूषि मैं शर्मिन्दा हूँ, हो सके तो माफ कर देना

Aarushi Talwar Murder Caseआरूषि मैं नहीं जानता तुम्हें किसने मारा। इतना कह सकता हूँ कि मृत्यु के बाद तुम्हारा चीर हरण हुआ। खोजी पुलिस, सीबीआई और पत्रकार ढूंढ-ढूंढ कर रसीले समाचार लाते रहे और लोग चटखारे ले लेकर पढ़ते रहे। मैं शर्मिन्दा हूँ कि मैं भी इसी सिस्टम का एक हिस्सा हूँ। तुम्हारी मृत्यु की सजा तुम्हारे माता पिता को भी मिल चुकी है। ऐसी भयानक सजा दुनिया की कोई भी अदालत किसी को नहीं दे सकती। आईएसआईएस भी नहीं।

नाबालिग पत्नी से सेक्स भी रेप : सुप्रीम कोर्ट

sex with minor bride is rape says supreme courtनई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने नाबालिग पत्नी से शारीरिक संबंध को रेप माना है। सुप्रीम कोर्ट ने आईपीसी की धारा 375-2 को असंवैधानिक बताया है, जिसके मुताबिक 15 से 18 साल की बीवी से उसका पति संबंध बनाता है तो उसे दुष्कर्म नहीं माना जाएगा। फैसले के मुताबिक यदि नाबालिग पत्नी एक साल के भीतर शिकायत करती है तो पति पर रेप का मुकदमा चलेगा।

मुंबई हाई कोर्ट में पहली बार हुई Sign Language से सुनवाई

Mumbai High Court hears convicts in sign languageमुंबई। मुंबई हाई कोर्ट ने हत्या के आरोपी मूक-बधिर से उनका पक्ष जानने के लिए सांकेतिक भाषा का इस्तेमाल किया। कोर्ट में ऐसा पहली बार देखने को मिला और यह सुनवाई इस लिहाज से अहम है। 2 मूक बधिर मुंबई 2013 नलिनी मर्डर केस के मुख्य आरोपी हैं। जज के सामने मूक-बधिर आरोपियों का पक्ष रखने के लिए उनके माता-पिता को बुलाया गया।

स्वरुपानंद महाविद्यालय में छात्रपरिषद का गठन

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में वाणिज्य, गणित एवं कम्प्यूटर परिषद् का गठन किया गया। साथ ही साईबर क्राईम एवं स्नातक के बाद सरकारी नौकरी के संभावना विषय पर अतिथि व्याख्यान का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ पुलिस के साईबर क्राईम इंचार्ज संकल्प रायभिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में वाणिज्य, गणित एवं कम्प्यूटर परिषद् का गठन किया गया। साथ ही साईबर क्राईम एवं स्नातक के बाद सरकारी नौकरी के संभावना विषय पर अतिथि व्याख्यान का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ पुलिस के साईबर क्राईम इंचार्ज संकल्प राय एवं विशिष्ट अतिथि 4 डी के निदेशक बालाकुमारन एवं सदस्य श्रेयस थे। अध्यक्षता प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला ने की। 

ट्रेन में लूटपाट कर रहे बदमाशों को ताइक्वांडो छात्राओं ने खदेड़ा

Brave girls fight train robbersविदिशा। राष्ट्रीय ताइक्वांडो प्रतियोगिता में भाग लेने बैंगलुरू जा रही केन्द्रीय विद्यालय की छात्राओं और शिक्षिकाओं के साथ रविवार की रात वाराणसी-मैसूर एक्सप्रेस में अज्ञात बदमाशों ने मारपीट कर लूटपाट की। हंगामे की आवाज सुनकर अन्य बोगियों की बहुत सी छात्राएं भी आ गई और उन्होंने बदमाशों पर हल्ला बोल दिया। इस दौरान लड़कियों ने अपने जान की परवाह न करते हुए दो बदमाशों को धर दबोचा। स्कूल स्टाफ ने घटना के तुरंत बाद रेल मंत्रालय को ट्वीट कर घटना की जानकारी दी। लेकिन उन्हें चार घंटे बाद रिस्पांस मिल पाया। इस ट्रेन में भोपाल और वाराणसी रीजन की 200 छात्राएं सफर कर रहीं थीं।

मैं भी हुई थी यौन शोषण का शिकार: पूनम महाजन

Poonam Mahajan speaks on sex abuseमुंबई। उत्तर मुंबई से बीजेपी सांसद और दिवंगत बीजेपी नेता प्रमोद महाजन की बेटी पूनम महाजन ने अहमदाबाद में भारतीय प्रबंधन संस्थान के छात्रों को संबोधित करते हुए अपने साथ हुए यौन शोषण का खुलासा किया। उन्होंने कहा कि एक समय वे वर्ली से वर्सोवा तक ट्रेन में सफर करती थी। तब उन्हें भी लोगों ने गलत नजर से देखा, गलत तरीके से छुआ। उन्होंने कहा कि हर भारतीय महिला पर कभी न कभी छींटाकशी की गई है या उसे गलत तरीके से छुआ गया है।

अस्पताल में भर्ती बीमार पत्नी की हत्या कर फांसी पर झूल गया पति

Husband kills hospitalized wife and hangs himselfबिलासपुर। शहर के एक अस्पताल में बीमार पत्नी से विवाद के बाद पति ने उसकी हत्या कर दी और खुद भी अस्पताल में ही फांसी पर झूल गया। हैरानी की बात ये है कि कि इतनी बढ़ी वारदात होने के बाद भी अस्पताल प्रबंधन और स्टॉफ को इस बारे में पता नहीं चला। मिली जानकारी के मुताबिक बिलासपुर के सीपत थाना क्षेत्र के पोड़ी ग्राम की महिला लता मानिकपुरी को हाल ही में अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

बेटे ने मांगे पैसे तो 3 लाख रुपए की सुपारी देकर उसे मरवा दिया

Father gets son killed for 3 lacsकोरबा। दादी को मुआवजे में एसईसीएल से 28 लाख रुपए मिले थे। पोते ने उसमें अपना जायज हिस्सा मांगा। पर दूसरी पत्नी बना चुके बाप को यह बात रास नहीं आई। उसने तीन लाख रुपए की सुपारी देकर अपने पुत्र का कत्ल अपनी आंखों के सामने करवा दिया। घटना कोरबा के भिलाई बाजार क्षेत्र का है। 

बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) की अस्मिता का सवाल

BHU-attrocity_1बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की सरगर्मियों के बीच बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) की एक छात्रा के साथ छेडख़ानी होती है। छात्रा वार्डन से शिकायत करती है। वार्डन उलटे उसी को धमकाने लगता है। मामला विश्वविद्यालय के कुलपति के पास ले जाने की कोशिश होती है तो वे समय ही नहीं देते। अब छात्र समुदाय मामले को सड़क पर लेकर आता है तो उनपर पुलिस छोड़ दी जाती है। वही पुलिस जिनपर छात्राओं की एक रिपोर्ट पर छेडख़ानों की क्लास लगाने की जिम्मेदारी है। प्रशासनिक हेकड़ी का इससे बेहतर उदारण और क्या हो सकता है।

एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड को न करें ओवरटेक

एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड को न करें ओवरटेक भिलाई। ट्रैफिक वार्डन सी दिनकर ने छात्र समुदाय से आग्रह किया कि वे कभी भी ऑनड्यूटी एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड या शव वाहन को ओवरटेक करने की कोशिश न करें। ये आवश्यक सेवाओं में लगे होते हैं तथा इन्हें सड़क पर पहले चलने का अधिकार प्राप्त है। हमें इनका मार्ग अवरुद्ध नहीं करना चाहिए बल्कि उन्हें पहले निकल जाने के लिए जगह देनी चाहिए।भिलाई। ट्रैफिक वार्डन सी दिनकर ने छात्र समुदाय से आग्रह किया कि वे कभी भी ऑनड्यूटी एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड या शव वाहन को ओवरटेक करने की कोशिश न करें। ये आवश्यक सेवाओं में लगे होते हैं तथा इन्हें सड़क पर पहले चलने का अधिकार प्राप्त है। हमें इनका मार्ग अवरुद्ध नहीं करना चाहिए बल्कि उन्हें पहले निकल जाने के लिए जगह देनी चाहिए। 

पुलिस की शहादत का आंकड़ा सेना से भी बड़ा : शशिमोहन

पुलिस की शहादत का आंकड़ा सेना से भी बड़ा : शशिमोहन भिलाई। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर शशिमोहन सिंह ने कहा है कि आंतरिक सुरक्षा में जुटी पुलिस की शहादत का आंकड़ा सीमा की सुरक्षा कर रहे सैनिकों से भी बड़ा है। यदि थ्रिल चाहिए तो आर्मी ज्वाइन करें। इसके लिए नशे का सहारा न लें। अच्छा भविष्य चाहते हैं तो टाइम मैनेजमेंट सीखें।भिलाई। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर शशिमोहन सिंह ने कहा है कि आंतरिक सुरक्षा में जुटी पुलिस की शहादत का आंकड़ा सीमा की सुरक्षा कर रहे सैनिकों से भी बड़ा है। यदि थ्रिल चाहिए तो आर्मी ज्वाइन करें। इसके लिए नशे का सहारा न लें। अच्छा भविष्य चाहते हैं तो टाइम मैनेजमेंट सीखें। श्री सिंह यहां श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में विविधा द्वारा आयोजित महिला सुरक्षा कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा किपुलिस को लेकर कुछ भ्रांतिया हैं। पुलिस हमेशा समाज के साथ है। यदि पुलिस चालान के लिए रोकती है तो हमें उसे सहयोग करना चाहिए। यदि आप अपने वाहन पर नम्बर सही ढंग से नहीं लिखवाते है इसका अर्थ है कि आपके मन में कानून के प्रति सम्मान नहीं है।

किसी को दिखी बिल्ली तो किसी को बछिया और कट गई चोटी

किसी को दिखी बिल्ली तो किसी को बछिया और कट गई चोटी ग्वालियर। किसी को बिल्ली दिखी तो किसी को गाय की बछिया और 9 घंटे में 3 महिलाओं की चोटी कट गई। घटना ग्वालियर के महलगांव, सिरोल व मोहना इलाके की है।ग्वालियर। किसी को बिल्ली दिखी तो किसी को गाय की बछिया और 9 घंटे में 3 महिलाओं की चोटी कट गई। घटना ग्वालियर के महलगांव, सिरोल व मोहना इलाके की है। चोटी कटने की घटना के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है। जिनके घर वारदात हुई है वहां लोगों की भीड़ लगी है। जिनमें से दो महिलाएं तो घटना के बाद से 4 से 5 घंटे तक बेहोश रहीं। घटना की सूचना क्षेत्रीय लोगों ने पुलिस को दी। लेकिन किसी भी स्पॉट पर पुलिस नहीं पहुंची। चोटी किसने काटी और इसके पीछे कौन है यह अभी तक पता नहीं चल सका है।

हाईकोर्ट ने संसदीय सचिवों के काम करने पर लगाई रोक

बिलासपुर/रायपुर। हाईकोर्ट ने प्रदेश के संसदीय सचिवों के काम करने पर आगामी आदेश तक रोक लगा दी है। मामले में अंतिम सुनवाई 23 अगस्त को होगी। राज्य शासन ने प्रदेश में 11 संसदीय सचिव नियुक्त कर इन्हें राज्य मंत्री का दर्ज दिया है। संसदीय सचिवों को शासकीय वाहन, निज सचिव, अतिरिक्त वेतन व भत्ते देने का प्रावधान है।बिलासपुर/रायपुर। हाईकोर्ट ने प्रदेश के संसदीय सचिवों के काम करने पर आगामी आदेश तक रोक लगा दी है। मामले में अंतिम सुनवाई 23 अगस्त को होगी। राज्य शासन ने प्रदेश में 11 संसदीय सचिव नियुक्त कर इन्हें राज्य मंत्री का दर्ज दिया है। संसदीय सचिवों को शासकीय वाहन, निज सचिव, अतिरिक्त वेतन व भत्ते देने का प्रावधान है। इस नियुक्ति के खिलाफ पूर्व विधायक मोहम्मद अकबर और राकेश चौबे ने हाईकोर्ट में अलग-अलग याचिका दाखिल की। याचिका में कहा गया कि छत्तीसगढ़ छोटा राज्य है। यहां 90 विधायक हैं। विधायकों की संख्या के आधार पर ही मंत्री रखने का प्रावधान है। ऐसे में संसदीय सचिव नियुक्त करने का कोई औचित्य नहीं है।