Tag Archives: कोविड-19

महात्मा गांधी की जीवनशैली से दे सकते हैं कोविड को मात – डॉ सिंह

Political Science Webinarदुर्ग। कोविड-19 जनित समस्याएं एवं गांधी दृष्टि विषय पर शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय के राजनीति विज्ञान विभाग एवं आईक्यूएसी के संयुक्त तत्वावधान में एक दिवसीय राष्ट्रीय वेब संगोष्ठी आयोजित की गयी। वेब संगोष्ठी में डॉ सतीष राय पूर्व विभागाध्यक्ष एवं निदेषक नेहरू शोधपीठ महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ एवं राष्ट्रीय संयोजक राजीव गांधी स्टडी सर्किल तथा डॉ बी. एम. शर्मा पूर्व कुलपति कोटा विश्वविद्यालय तथा पूर्व अध्यक्ष राजस्थान लोक सेवा आयोग मुख्य वक्ता थे।

उच्च शिक्षा में परिवर्तन को प्राध्यापक एवं विधार्थी दोनों स्वीकारें- ताम्रध्वज साहू

Faculty development programme at durg universityदुर्ग। वर्तमान कोविड-19 की संकट की घड़ी में उच्च शिक्षा में हो रहें विभिन्न परिवर्तनों करे प्राध्यापकों एवं विधार्थियों एवं दोनो स्वीकारना चाहिए। पुरानी तथा नई पीढ़ी दोनो को चुनौतियों को अवसर में बदलने का हुनर सीखना होगा। ये उदगार छ.ग. प्रदेश के गृह जेल लोक निर्माण, विधि एवं विधायी कार्य मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने आज व्यक्त किये। श्री साहू आज हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, दुर्ग तथा शास. विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर, स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित ऑनलाईन फैक्लटी डेवलेपमेंट प्रोग्राम के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे।

प्राध्यापक कोरोना काल में आए परिवर्तन को स्वीकारें – उच्च शिक्षा मंत्री पटेल

दुर्ग विश्वविद्यालय एवं साइंस कॉलेज का संयुक्त 10 दिवसीय फेकल्टी डेव्हलपमेंट प्रोग्राम प्रारंभ

Faculty Development program on online educationदुर्ग। वर्तमान कोविड-19 काल में परंपरागत कक्षाओं के स्थान पर ऑनलाईन शिक्षण व्यवस्था आवश्यक है। सभी प्राध्यापकों को उच्च शिक्षा के क्षेत्र में हो रहे रचनात्मक परिवर्तन को स्वीकार करना चाहिए। ये उद्गार छत्तीसगढ़ शासन के उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने आज हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, दुर्ग एवं साइंस कॉलेज दुर्ग द्वारा संयुक्त रूप से 10 दिवसीय ऑनलाईन फेकल्टी डेव्हलपमेंट प्रोग्राम के उद्घाटन अवसर पर व्यक्त किये।

एमजे स्कूल में अंतरराष्ट्रीय प्री-स्कूल सुविधा, अगले सत्र से नियमित स्कूल

MJ School to start operations from next educational sessionभिलाई। एमजे स्कूल अंतरराष्ट्रीय प्री-स्कूल के मापदण्डों के साथ भारतीय परम्पराओं का अनूठा मिश्रण होगा। स्कूल के लिए देश-विदेश के एक्सपर्ट्स के सहयोग से पूरा करिकुलम तैयार किया गया है। स्कूल को प्रारंभ करने की पूरी तैयारी हो चुकी थी पर कोविड-19 के चलते अब नियमित स्कूल आगामी शिक्षा सत्र 2021-22 से ही प्रारंभ हो पाएगा। यह जानकारी एमजे स्कूल की निदेशक एवं ईसीए की स्थायी सदस्य श्रीलेखा विरुलकर ने पत्रकारवार्ता में दी। शाला के प्रथम सत्र में प्रवेश लेने वाले बच्चों से एडमिशन फीस नहीं लिया जाएगा।

विषय पर पकड़ से आता है आत्मविश्वास, यही सफलता का मूलमंत्र : अभिषेक

Grasp on subject boosts confidence Dr Abhishek Vermaदुर्ग। आत्मविश्वास ही सफलता का मूलमंत्र है। कोविड-19 की इस संकट की घड़ी में हमें स्वयं पर भरोसा रखते हुए चुनौतियों का सामना करना है। ये उद्गार प्रसिद्ध काऊसलर, मास्टर ट्रेनर एवं मेंटर महाराष्ट्र के अभिषेक वर्मा ने आज व्यक्त किये। श्री वर्मा हेमचंद यादव विश्वविद्यालय द्वारा पी.एच.डी शोध विद्यार्थियों तथा स्नातकोत्तर विद्यार्थियों हेतु आयोजित व्यक्तित्व विकास तथा इंटरव्यू स्क्ल्सि पर आयोजित ऑनलाईन आमंत्रित व्याख्यान दे रहे थे। श्री वर्मा ने बताया कि किसी भी साक्षात्कार में विद्यार्थियों की शैक्षणिक उत्कृष्ठता के साथ-साथ उनका आत्मविश्वास, बातचीत करने का तरीका, विशेषज्ञों के साथ संवाद भाषा का प्रयोग तथा समसामयिक विषयों पर आपका ज्ञान एवं दृष्टिकोण सफलता के मूलमंत्र होते है।

एमजे कालेज में ऑनलाइन योग दिवस, होगा प्रशिक्षण का एमओयू

World Yoga Day at MJ Collegeभिलाई। एमजे कालेज में छठे विश्व योग दिवस पर ऑनलाइन योग का आयोजन किया जा रहा है। प्रतिवर्ष होने वाला यह आयोजन इस वर्ष कोविड-19 एवं सोशल डिस्टेंसिंग के कारण नए फार्मेट में होगा। इस वर्ष योग का प्रशिक्षण राजयोगी मेडिटेशन स्पिरिचुअल वेलफेयर ट्रस्ट द्वारा दिया जाएगा। एमजे कालेज इसी दिन ट्रस्ट के साथ सतत् योग प्रशिक्षण के लिए एमओयू भी करेगा। योगाभ्यास एक दिन पूर्व शनिवार 20 जून को प्रातः 9 बजे प्रारंभ होगा।

 

जगद्गुरू शंकराचार्य कालेज ऑफ एजुकेशन में कोविड-19 पर राष्ट्रीय वेबीनार

Shankaracharya College of Nursing Webinarभिलाई। जगदगुरू शंकराचार्य कॉलेज ऑफ एजुकेशन आमदी नगर में – कोविड-19 चुनौतियां और सामना करने की रणनीति- पर एक दिवसीय राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन किया गया। गंगाजली एजुकेशन सोसायटी के चेयरमैन आईपी मिश्रा, सीओओ डॉ दीपक शर्मा की प्रेरणा से आयोजित इस कार्यक्रम में कोरोना से बचाव के उपायों पर चर्चा की गई। जैसा कि विदित है, इस वैश्विक महामारी के समय हर व्यक्ति किसी न किसी समस्या से जूझ रहा है। कोरोना वायरस की अभी तक कोई दवा नहीं आई है। स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि सावधानी और जागरूकता से ही इससे बचा जा सकता है।  

श्री शंकराचार्य महाविद्यालय में ई-पोस्टर एवं ई-विडियो प्रतियोगिता का आयोजन

Environment Day Poster Competitionnभिलाई। श्री शंकराचार्य महाविद्यालय जूनवानी के इको क्लब (पल्लवन) द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय ई-पोस्टर एवं ई-वीडियो प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसका शीर्षक बायोडायवसिर्टी लॉस एंड कोविड-19 रखा गया। प्रतियोगिता में 115 प्रतिभागियों ने भाग लिया। इस शीर्षक के जरिए यह संदेश दिया जा रहा है कि कोविड-19 महामारी मानव समाज के सभी क्षेत्रों को प्रभावित कर रहा है। अत: हमारा यह कर्तव्य है कि हम दुनिया की जैव विविधता और इसकी रक्षा करने की हमारी क्षमता को कैसे बढ़ाएं। इस प्रतियोगिता में विभिन्न राज्यों के विद्याथिर्यों ने अपनी भागीदारी दर्ज की।

हेमचंद यादव विश्वविद्यालय में कालेजों एवं प्राध्यापकों के लिए ऑनलाईन प्रतियोगिता

Online competition for Professors and collegesदुर्ग। कोविड-19 के कारण लॉकडाउन की अवधि तथा सामाजिक, आर्थिक, मानसिक परिस्थितियों में परिवर्तन की वजह से हम सभी प्रभावित हो रहे हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, प्रशासन ने कुलपति के निर्देशानुसार निम्नलिखित स्पर्धाएं आयोजित करने का निर्णय किया है। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, दुर्ग के अंतर्गत आने वाले समस्त महाविद्यालयों एवं वहां कार्यरत नियमित प्राध्यापकों/सहायक प्राध्यापकों/परिनियम 28 के अंतर्गत सहा. प्राध्यापक स्पर्धा से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकरी प्राप्त करने हेतु दुर्ग विश्वविद्यालय के वेबसाइट dsw@durguniversity.ac.in अथवा दुर्ग विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता, छात्र कल्याण डॉ. प्रशान्त श्रीवास्तव से मो. नं. 9827178920 पर संपर्क किया जा सकता है। स्पर्धा का विषय कोविड-19 और समाज अथवा कोविड-19 और उच्च शिक्षा अथवा पाठ्यक्रम से संबंधित किसी विषय पर आधारित हो सकता है।

मां शारदा चैरिटेबल ट्रस्ट की कोरोना चित्रकारी प्रतियोगिता के परिणाम

MSSCT Drawing Competitionभिलाई। कोविड-19 महामारी पर जागरूकता लाने के लिए मां शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा तीन स्तरों पर एक चित्रकारी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। स्कूल स्तर पर पहली से पांचवी तक के विद्यार्थियों, कक्षा छठवीं से बारहवीं तक एवं महाविद्यालयीन विद्यार्थियों को शामिल किया गया। प्रतियोगिता में 108 छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया। स्कूल स्तर पर कक्षा पहली से पाँचवीं तक के विद्यार्थियों के वर्ग में प्रथम पुरस्कार डीपीएस दुर्ग की अंशिका दानी, द्वितीय पुरस्कार डीपीएस रिसाली के अयान फारूकी तथा तीसरा पुरस्कार ओम गुरुकुल रायपुर की नीतू खुटे को प्रदान किया गया।