Category Archives: Events

चित्रगुप्त मंदिर में कोविड प्रोटोकॉल के तहत मनाया गया भाईदूज पर्व

Bhai dooj celebrated in Chitragupta Mandir Samiti Bhilaiभिलाई। भाईदूज के अवसर पर चित्रगुप्त मंदिर समिति में संक्षिप्त सा कार्यक्रम सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। कोविड प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए इस कार्यक्रम में पदाधिकारी एवं वरिष्ठ सदस्य ही सम्मिलित हुए। समिति की अध्यक्ष उषा श्रीवास्तव की अध्यक्षता में आयोजित इस कार्यक्रम में कंचन सक्सेना, नेहा श्रीवास्तव, माया श्रीवास्तव, एसी सिपाहा, दीपक सिन्हा प्रजेश श्रीवास्तव, जीसी वर्मा, आरबी श्रीवास्तव, अभय श्रीवास्तव, भुवन श्रीवास्तव, विनय सक्सेना, दिलीप प्रसाद, सुभाष श्रीवास्तव, शैलेन्द्र श्रीवास्तव, संजय श्रीवास्तव आदि उपस्थित हुए। भगवान चित्रगुप्त की पूजा अर्चना प्रसाद टीका लगाकर भाईदूज का कार्यक्रम सम्पन्न किया गया।

डॉल्फिन म्यूजिकल ग्रुप ने दीपावली पूर्व संगीत संध्या में बांधा समा

Bollywood Nostalgic 90sभिलाई। डॉल्फिन म्यूजिकल ग्रुप ने दीपावली की अगुवाई में संगीत संध्या से समा बांध दिया। स्पर्श मल्टीस्पेशालिटी हॉस्पिटल के प्रायोजकत्व में आयोजित कोविड लॉकडाउन श्रृंखला की यह संभवतः अंतिम कड़ी थी। यह कार्यक्रम 90 के दशक के बॉलीवुड फिल्मी गीतों को समर्पित था। रविवार शाम आयोजित इस कार्यक्रम में शहर के मशहूर साजिन्दों एवं गायकों ने अपनी प्रस्तुतियां ऑनलाइन देकर श्रोताओं को भावविभोर कर दिया। सुप्रसिद्ध भजन गायक प्रभंजय चतुर्वेदी कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि थे। उन्होंने गजलों की खूबसूरत प्रस्तुतियां भी दीं।

मां शारदा सामर्थ्य ट्रस्ट ने जरूरतमंदों को बांटी दीपावली पूजन की सामग्री

MSSCT gives Diwali gifts to the needyभिलाई। मां शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल ट्रस्ट ने आज जरूरतमंद लोगों को दीपावली पूजन की सामग्री का वितरण किया। बड़ी संख्या में स्त्री-पुरुष एवं बच्चों ने इसका लाभ लिया। नेहरू नगर स्थित ‘लिबास’ कार्यालय में आयोजित इस कार्यक्रम में लाई-बताशा, मिट्टी के दीये, और मिष्ठान्न का एक पैकेट प्रदान किया गया। इस कार्यक्र्म में रमेश पटेल, श्रीलेखा विरुलकर, अमित श्रीवास्तव, फजल फारूकी ने इसमें अंशदान किया। संस्था के डॉ संतोष राय ने बताया कि कार्यक्रम को सफल बनाने में संस्था के स्वयंसेवक प्रीति, पारस, किशन, यामिनी, विनम्र, काजल, अविनाश, अपूर्वा, साबिया, अक्षर, अनुष्का आदि ने योगदान किया।

कोरोनाकाल में स्पर्श वे डॉल्फिन ने किया छत्तीसगढ़ी लोकगीतों का कार्यक्रम

Sparsh Musical Nightभिलाई। डॉल्फिन म्यूजिकल ग्रुप एवं स्पर्श मल्टीस्पेशालिटी हॉस्पिटल ने आज छत्तीसगढ़ी लोकगीतों पर एक खूबसूरत कार्यक्रम प्रस्तुत किया। सांसद विजय बघेल ने अपनी शुभकामनाएं देकर कार्यक्रम का आगाज किया। विख्यात पंडवानी गायिका पद्मविभूषण तीजन बाई, इन्दिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ की कुलपति एवं प्रसिद्ध लोकगायिका पद्मश्री ममता चंद्राकर, पद्मश्री अनुज शर्मा, काव्यात्मक रूप से पद्मश्री डॉ सुरेन्द्र दुबे, पद्मश्री शमशाद बेगम, पद्मश्री फुलबासन यादव, प्रसिद्ध मूर्तिकार पद्मश्री जेएम नेलसन ने इस कार्यक्रम की मुक्तकंठ से सराहना की।

नांदघाट के गांव बन गए थे टापू, बचाव दल ने ऐसे निकाला बाहर

Nandghat Bemetara Floodबेमेतरा। तहसील नवागढ़ जिला बेमेतरा अतंर्गत 26 अगस्त एवं 27 अगस्त 2020 को अधिक वर्षा होने के कारण जिला बेमेतरा के अंतर्गत आने वाले शिवनाथ, खारून ,हाफ नदी एवं छुहीया नाला, घोटूनाला में जल स्तर बढ़ने के कारण तहसील नवागढ़ के उप तहसील नांदघाट अंतर्गत आने वाले ग्राम करमसेन, नादघाट, तरपोंगी, काॅपा में जल भराव, मार्ग अवरूद्ध होने से टापू जेसे स्थिति निर्मित हो गई थी। जिसके परिपेक्ष में जिला प्रशासन द्वारा तत्परता से कार्यवाही करते हुए रेस्क्यू आपरेशन (बचाव अभियान) प्लान किया गया। जिसमे 4 नाव का उपयोग कर कुल 211 व्यक्तियों को सुरक्षित स्थानो में लाया गया।

बांस से बने कलात्मक जेवरों से आई महिलाओं के जीवन में खुशहाली    

धमतरी। बांस से तो हम सभी परिचित हैं। बांस से बनी सजावटी वस्तुओं के बारे में भी हम सभी जानते हैं पर बांस से जेवर बनाए जा सकते हैं, इसपर अपनी आंखों से देखे बिना यकीन करना मुश्किल होगा। छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले की महिलाएं बांस से जेवर बनाने का प्रशिक्षण प्राप्त कर रही हैं। साथ ही इन गहनों की बिक्री ब़ढ़ाने के लिए सोशल मीडिया का भी उपयोग किया जा रहा है। लोग इन्हें अपने उपयोग के लिए तो खरीद ही रहे हैं, विभिन्न अवसरों पर उपहार देने के लिए भी इनका चलन बढ़ रहा है।

न तो श्रीकृष्ण रणछोड़ थे न ही नारद जी चुगलखोर : पं. मदनमोहन त्रिपाठी

Pt Madan Mohan Tripathy speaks on Bhagwat Geeta

भिलाई। ‘न तो श्रीकृष्ण रणछोड़ थे न ही नारद जी चुगलखोर। दोनों की प्रत्येक क्रिया के पीछे गहरी सोच हुआ करती थी। श्रीकृष्ण ने कालयवन को अपने पीछे लगाकर जहां मौत के मुंह तक पहुंचाया वहीं नारदजी ने सूचनाओं का सही व्यक्ति तक प्रेषण कर स्थान-काल-परिस्थितियां निर्मित कीं।’ उक्त बातें आज पं. मदन मोहन त्रिपाठी ने केपीएस कुटेलाभाटा में श्रीमदभागवत के दौरान विभिन्न घटनाओं की व्याख्या करते हुए प्रसंगवश कहीं। केपीएस समूह के चेयरमैन पं. त्रिपाठी ने आज के प्रवचन की शुरुआत जरासंध के बार-बार मथुरा पर आक्रमण की घटनाओं से की।

नए नाम के साथ दिसम्बर से फिर शुरू होगी ‘तफरीह’; महापौर ने बुलाई बैठक

TAFREE The Health Carnival to be resumed from December

भिलाई। सेन्ट्रल एवेन्यू पर धूम मचाने वाली ‘तफरीह’ एक बार फिर प्रारंभ होने जा रही है। महापौर एवं विधायक देवेन्द्र यादव की यह महत्वाकांक्षी योजना उस समय खूब लोकप्रिय हुई थी और लोग यहां खेल-कूद, कसरत, गीत संगीत से लेकर लोगों से मिलने जुलने का खूब लुत्फ उठाया करते थे। श्री यादव ने आज इस सिलसिले में बैठक कर इसे दिसम्बर में फिर से प्रारंभ करने का प्रस्ताव दिया जिसे सभी ने खुशी से स्वीकार किया। अपने नए संस्करण में इसे ‘तफरी द हेल्थ कार्निवाल’ का नाम दिया गया है।

इंदु आईटी स्कूल में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का भव्य आयोजन

भिलाई। इंदु आईटी स्कूल में प्री-प्राइमरी विंग के नर्सरी से केजी-2 तक के नन्हे-मुन्ने बच्चों द्वारा श्रीकृष्ण जन्माष्टमी बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस मौके पर बच्चे श्रीकृष्ण व राधा की वेशभूषा में कृष्ण की बाल-लीलाओ की मन-मोहिनी छटा बिखेरी तथा अपनी अदाओ से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। बच्चों के लिए श्रीकृष्ण की झाँकियां, श्रीकृष्ण पर बनी मूवी, डाँस, गीत व रोलप्ले के साथ-साथ दही हाँडी का भी आयोजन किया गया।

भिलाई। इंदु आईटी स्कूल में प्री-प्राइमरी विंग के नर्सरी से केजी-2 तक के नन्हे-मुन्ने बच्चों द्वारा श्रीकृष्ण जन्माष्टमी बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस मौके पर बच्चे श्रीकृष्ण व राधा की वेशभूषा में कृष्ण की बाल-लीलाओ की मन-मोहिनी छटा बिखेरी तथा अपनी अदाओ से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। बच्चों के लिए श्रीकृष्ण की झाँकियां, श्रीकृष्ण पर बनी मूवी, डाँस, गीत व रोलप्ले के साथ-साथ दही हाँडी का भी आयोजन किया गया।

केपीएस के प्रज्ञोत्सव-2019 में नृत्यांगनाओं ने पौराणिक कथाओं को मंच पर उतारा

भिलाई। केपीएस के प्रज्ञोत्सव-2019 में आज शास्त्रीय नृत्यांगनाओं ने पौराणिक कथाओं को बेहद खूबसूरती के साथ मंच पर उतारा। भरतनाट्यम एवं कूचिपुड़ी कलाकारों ने महाभारत, श्रीकृष्ण एवं शिव-शक्ति के प्रसंगों को प्रस्तुत किया। शास्त्रीय नृत्यों की आज कुल 40 प्रस्तुतियां हुर्इं जिनमें से 26 नृत्य प्रतियोगिता का हिस्सा थे। नृत्यांगनाओं ने आदि शक्ति देवी दुर्गा के विभिन्न रूपों की भावपूर्ण प्रस्तुतियां दीं। इसके साथ ही शिव तथा श्रीकृष्ण के विभिन्न भावों को प्रस्तुत किया।

भिलाई। केपीएस के प्रज्ञोत्सव-2019 में आज शास्त्रीय नृत्यांगनाओं ने पौराणिक कथाओं को बेहद खूबसूरती के साथ मंच पर उतारा। भरतनाट्यम एवं कूचिपुड़ी कलाकारों ने महाभारत, श्रीकृष्ण एवं शिव-शक्ति के प्रसंगों को प्रस्तुत किया। शास्त्रीय नृत्यों की आज कुल 40 प्रस्तुतियां हुर्इं जिनमें से 26 नृत्य प्रतियोगिता का हिस्सा थे। नृत्यांगनाओं ने आदि शक्ति देवी दुर्गा के विभिन्न रूपों की भावपूर्ण प्रस्तुतियां दीं। इसके साथ ही शिव तथा श्रीकृष्ण के विभिन्न भावों को प्रस्तुत किया।