केपीएस सेवाश्रम में लगा श्रीराम का दरबार, गूंजी कबीर की संगीतमय वाणी

KPS Kutela Bhata Kabira Khada Bazar Meinभिलाई। केपीएस सेवाश्रम कुटेलाभाठा में शनिवार की शाम भक्तिमय संगीत के नाम रहा। सुमधुर स्वरलहरियों में कबीर की वाणी श्रोताओं को पुलकित करती रही और उन्हें जीवन जीने का सलीका सिखाती रही। बच्चों ने श्रीराम, लक्ष्मण, माता सीता एवं भक्त हनुमान के रूप में झांकियां प्रस्तुत की। सम्पूर्ण कार्यक्रम केपीएस के संगीत शिक्षकों ने बच्चों के सहयोग से सम्पन्न किया।Shri Ram Darbar‘कबीरा खड़ा बाजार में..’ के शीर्षक से हुए इस आयोजन में कबीर की साखियों एवं दोहों पर संगीतमय भजन की प्रस्तुति दी गई। दोहों से ही बताया गया कि सबसे ज्यादा धनवान फकीर होता है जिसकी झोली खाली रहती है। उसे न लुटने का डर है और न कुछ चोरी होने का। उसके पास सबके लिए प्रेम है। सबके लिए मीठी वाणी है। सहृदयता में वह समृद्ध है। वही सबसे ज्यादा वास्तकि धनवान और बलवान होता है।
कबीर के प्रसिद्ध दोहा ‘कबीरा खड़ा बाजार में, सबकी मांगे खैर। न काऊ से दोस्ती, न काऊ से बैर’ को दोहराते हुए बच्चों ने सहज, सरल, तनावमुक्त जीवन जीने की सलाह श्रोताओं को दी। ‘माला जपु, ना कर जपु, और मुख से कहू ना राम। राम हमारा हमें जपे है, हम पायो विश्राम कबीरा।।’ को उद्धृत करते हुए भजन के माध्यम से श्रोताओं को ईश्वर भक्ति का सच्चा मार्ग दिखाया गया।
KPS Kutela Bhata KPS Kutela Bhata Kabirदिनेश यादव, वन्दना गोखले, दुष्यंत के कुशल मार्गदर्शन एवं सान्निध्य में बच्चों ने यह कार्यक्रम प्रस्तुत किया। इन बच्चों ने पहले भी सुन्दरकाण्ड का सस्वर पाठ कर अपनी अलग पहचान बनाई थी। इस स्कूल ने एक अभियान के तहत प्लास्टिक के टिफिन बाक्सेस को अलविदा कर स्टेनलेस स्टील के टिफिन बाक्स का उपयोग प्रारंभ कर दिया था। इसके लिए स्वयं मुख्यमंत्री ने स्कूल की सराहना की थी। इस अवसर पर केपीएस ग्रुप के अधिष्ठाता मदन मोहन त्रिपाठी, श्रीमती कृष्णा त्रिपाठी, आशुतोष त्रिपाठी, प्राचार्य मानस सेन, उप प्राचार्य मृदु लाखोटिया, प्रबंधक आदित्य पाण्डेय सहित शिक्षक वृंद एवं पालकगण बड़ी संख्या में उपस्थित था। श्रोताओं ने मुक्तकंठ से प्रस्तुतियों की सराहना की।

Google GmailTwitterFacebookGoogle+WhatsAppShare

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>