अंतरराष्ट्रीय व्यंग्य संकलन में छत्तीसगढ़ से गुलबीर, विनोद सहित कई

Collection of Satire from across the worldभिलाई। सदी के सर्वश्रेष्ठ व्यंग्य संचयन में छत्तीसगढ़ से 12 रचनाकारों को शामिल किया गया है। इनमें गुलबीर सिंह भाटिया, विनोद साव, सुशील यादव, के.पी. सक्सेना ‘दूसरे’, भरत चंदानी, मिर्ज़ा हफीज़ बेग, रतन जैसवानी, अख्तर अली, कुबेर, राजशेखर चौबे, वीरेन्द्र सरल और सौरभ जैन शामिल हैं। संकलन में 251 रचनाओं को शामिल किया गया है। यह संचयन व्यंग्यकार डॉ लालित्य ललित व डॉ राजेश कुमार ने किया है। इंडिया नेटबुक्स के निदेशक डॉ संजीव कुमार ने बताया कि मॉरीशस स्थित विश्व हिंदी सचिवालय ने विश्व को पाँच हिस्सों में बाँटकर अंतरराष्ट्रीय व्यंग्य लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया। श्रेष्ठ रचनाकारों का चयन किया गया। चयनित रचनाकारों में कुसुम नैपसिक (अमेरिका), मधु कुमारी चौरसिया (युनाइटेड किंगडम), वीणा सिन्हा (नेपाल), चांदनी रामधनी ‘लवना’ (मॉरीशस), राकेश शर्मा (भारत) आस्था नवल (अमेरिका), धर्मपाल महेंद्र जैन (कनाडा), रोहित कुमार ‘हैप्पी’ (न्यू ज़ीलैंड), रीता कौशल (ऑस्ट्रेलिया) शामिल हैं। इनके अलावा तेजेन्द्र शर्मा (युनाइटेड किंगडम), प्रीता व्यास (न्यूज़ीलैंड), स्नेहा देव (दुबई), शैलजा सक्सेना, समीर लाल ‘समीर’, हरि कादियानी (कनाडा) और हरिहर झा (ऑस्ट्रेलिया) की रचनाओं को भी संचयन में शामिल किया गया है। मध्य प्रदेश से सर्वाधिक 66, उत्तर प्रदेश से 39, नई दिल्ली से 31, राजस्थान से 32, महाराष्ट्र से 18, छत्तीसगढ़ से 12, हिमाचल प्रदेश से 9, बिहार से 6, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक व उत्तराखंड से प्रत्येक से 4, चंडीगढ़ से 3, पंजाब, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना से प्रत्येक से 2 और तमिलनाडु, गोवा और जम्मू व काश्मीर से एक-एक रचनाकार ने प्रतिभागिता दी। संचयन का प्रकाशन जल्द ही किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *