एनसीसी काडर परेड में वेपन ट्रेनिंग एवं मैप रीडिंग का प्रशिक्षण

Map reading and Prismatic Compass usage दुर्ग। 37 छत्तीसगढ़ एनसीसी बटालियन दुर्ग के द्वितीय वर्ष के सीनियर विंग के छात्र एवं छात्रा केडेट्स के लिए तीन दिवसीय (डे केयर) काडर परेड के दूसरे दिन 2 मार्च को वेपन ट्रेनिंग के अंतर्गत एलएमजी, एसएलआर तथा मैप रीडिंग स्किल के तहत कम्पास का उपयोग करना सिखाया गया। कैडेट्स ने टारगेट पर निशाना लगाने का अभ्यास भी किया। शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग के प्रांगण में चल रहे इस काडर परेड शिविर का मुख्य उद्देष्य द्वितीय वर्ष के छात्र एवं छात्रा केडेटों को एन.सी.सी. के अधीन संचालित होने वाली नियमित गतिविधियों का आवश्यक प्रशिक्षण प्रदान करना था। Weapon training to girl cadets at Cadre Paradeवेपन ट्रेनिंग के अंतर्गत सेना में उपयोग आने वाले लाईट मशीन गन एवं सेल्फ लोडिंग रायफल के संचालन एवं टारगेट पर निशाना लगाने का प्रशिक्षण दिया गया। जंगलों में और सूनसान इलाकों में जवानों को मैप रीडिंग की जानकारी होनी चाहिए। इसी उद्देश्य से केडे्टों को मैप रीडिंग का प्रशिक्षण प्रदान किया गया, जिसमें नक्शे की सहायता से उत्तर दिशा ज्ञात करना तथा प्रिजमैटिक कम्पास की सहायता से स्वयं के स्थान की पहचान करने का प्रशिक्षण प्रदान किया गया।
ये प्रशिक्षण सूबेदार झाबरमल, सूबेदार मुकेश कुमार, नायब सूबेदार प्रदीप टोप्पो, हवलदार मिथुन ने प्रदान किया गया। शिविर के दूसरे दिन बटालियन कमांडर कर्नल हेमंत दुबे एवं प्रशासनिक अधिकारी लेफ्टिनेंट आर.सेतु माधवन परेड में उपस्थित होकर स्वयं छात्रों को प्रशिक्षण प्रदान किया। बी प्रमाण पत्र परीक्षा हेतु आवश्यक विषय से संबंधित जानकारी उपलब्ध करायी। साथ ही महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ आर.एन. सिंह से औपचारिक मुलाकात की, जिसमें दुर्ग बटालियन में एन.सी.सी. केडेटों के सेना में भर्ती को प्रोत्साहन देने पर सारगर्भित चर्चा की गई एवं एस.एस.बी. एवं एन.सी.सी. सीधी भर्ती हेतु कैडेटों को भविष्य में सेना में भर्ती प्रदान करने हेतु आवश्यक सभी मदद प्रदान करने की सहमति प्रदान की ताकि छत्तीसगढ़ के युवा अधिक से अधिक सेना में उच्च पदों पर भर्ती हो सके।
इस तीन दिवसीय काडर परेड में साइंस कालेज के सीनियर विंग के कुल 37 छात्र-छात्रा, कल्याण महाविद्यालय के 14 छात्र, सेठ आर.सी.एस. महाविद्यालय दुर्ग के 15 छात्र, स्वामी स्वारूपानंद महाविद्यालय, हुडको भिलाई के 7 छात्र कैडेट शामिल है। एन.सी.सी. अधिकारी क्रमशः मेजर ओ.पी. गुप्ता, मेजर सपना शर्मा सारस्वत, लेफ्टिनेंट निलेश तिवारी, लेफ्टिनेंट हरीश कश्यप, केयर टेकर दीपक सिंग, सूबेदार मेजर दुर्गा बहादुर थापा शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *