Daily Archives: May 24, 2020

50-50 लाख से 10 शासकीय कॉलेजों में बनेंगे अतिरिक्त कक्ष, दुर्ग में तीन

10 Govt Colleges to get 50 lac each for infraदुर्ग। छत्तीसगढ़ शासन के उच्च शिक्षा विभाग ने इस वर्ष के बजट में अधोसंरचना विकास में कई प्रावधान किए हैं। महाविद्यालयों में अतिरिक्त कक्ष निर्माण के लिए प्रदेश के 10 महाविद्यालयों को 50-50 लाख रूपये दिए जावेंगे। इसमें दुर्ग जिले के 3 महाविद्यालय शामिल है। शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय दुर्ग, शासकीय खूबचंद बघेल महाविद्यालय भिलाई-3 एवं शासकीय स्व. चन्दूलाल चन्द्राकर महाविद्यालय पाटन शामिल है। शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. सुशील चन्द्र तिवारी ने बताया कि महाविद्यालय में छात्राओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए अतिरिक्त कक्षों की आवश्यकता थी। इसके लिए प्रस्ताव भेजा गया था। जिसे इस वर्ष के बजट में प्रावधान किया गया। शीघ्र ही लोकनिर्माण विभाग से निर्माण संबंधी कायर्वाही पूर्ण कर कार्य प्रारंभ किया जावेगा। अतिरिक्त कक्ष बन जाने से छात्राओं को सुविधा होगी।

हाइटेक से जीवित रवाना हुई थी मरीज, वीडियो व दस्तावेजी साक्ष्य मौजूद

महिला चिकित्सक के साथ बदलसूली की गई, डाक्टरों व प्रबंधन से झूमाझटकी के खिलाफ कोर्ट जाएगा अस्पताल

Hitek Super Speciality Hospitalभिलाई। हाइटेक सुपरस्पेशालिटी हॉस्पिटल पर राजनांदगांव की एक मरीज एवं उसके परिजनों द्वारा लगाए गए आरोप न केवल सिरे से निराधार हैं बल्कि मरीज की मृत्यु के लिए स्वयं परिजन ही जिम्मेदार हैं। मरीज की हालत गंभीर थी इसके बावजूद परिजनों ने उसे लामा (लेफ्ट अगेन्स्ट मेडिकल अडवाइस) ले लिया था और अस्पताल से निकालने के बाद भी जिला अस्पताल ले जाने में देर कर दी। जिला अस्पताल जाते समय भी मरीज जीवित था, इस बात के सबूत मय सीसीटीवी फुटेज अस्पताल के पास हैं।

कोरोना के बीच चुप नहीं बैठे हैं साइंस कालेज के एनएसएस वालंटियर

NSS volunteers of Science collegeदुर्ग। शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई ने महाविद्यालय के प्राचार्य, डॉ. आर.एन. सिंह की प्रेरणा से कोरोना वायरस से जागरूकता लाने हेतु गांवों, शहरों में मास्क का वितरण किया गया। एन.एस.एस. इकाई ने लोगों से कोरोना वायरस से बचने हेतु सैनिटाइजर, मास्क का उपयोग तथा सोशल डिस्टेनिंग का पालन करने की अपील की। स्वयं सेवकों ने लॉकडाउन में सरकार के विभिन्न निर्देशों का पालन करते हुए अपना बचाव हेतु घर में ही रहने का लोगों से आग्रह किया।

दुर्ग विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर 1300 वीडियो लेक्चर, प्रैक्टिकल के भी वीडियो

Video lectures available on Hemchand Yadav University Portalदुर्ग। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर स्नातक एवं स्नातकोत्तर स्तर की कला, वाणिज्य, विज्ञान एवं शिक्षा संकाय के पाठ्यक्रमों के लगभग 1300 वीडियो लेक्चर अपलोड होने के बाद अब प्रेक्टीकल कक्षाओं हेतु अगामी सत्र के लिये वीडियो अपलोड करने का कार्य आरंभ हो गया है। विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण डॉ. प्रशान्त श्रीवास्तव ने बताया कि विश्वविद्यालय कि कुलपति डॉ. अरूणा पल्टा के मार्गदर्शन में रजिस्ट्रार डॉ. सी. एल. देवांगन ने प्राध्यापकों से थ्योरी एवं प्रेक्टीकल कक्षाओं हेतु वीडियो लेक्चर बनाने की अपील की थी ।

स्वरूपानंद कालेज में कोविड-19 पर अंतर्राष्ट्रीय ऑनलाईन क्विज का आयोजन

Online Quiz on Coronaभिलाई। स्वामी श्री स्वरूपांनद सरस्वती महाविद्यालय द्वारा कोविड-19 पर अंतर्राष्ट्रीय ऑनलाइन क्विज का आयोजन किया गया जिसमें 500 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। डॉ. दीपक शर्मा सीओओ स्वामी ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जागरूकता के लिये यह प्रतियोगिता कराना सराहनीय कार्य रहा। कार्यक्रम की संयोजिक डॉ. रचना पांडे ने कहा कि कोविड-19 पेंडमिक पूरे विश्व में विकराल रूप लिया हुआ है। इस दौरान लोगों में जागरूकता लाना आवश्यक हो गया है जिससे संबंधित जानकारियां लोगों को प्राप्त हो सके एवं लोग अपने आप को सुरक्षित कर सकें।

लॉकडाउन के बीच बायजूस ने आरसीइटी कैम्पस में दिए 10 लाख के जॉब ऑफ़र

BYJU's offers 10 lac package to RCET studentsभिलाई। कोरोना लॉकडाउन से एक तरफ जहां देश का शिक्षा जगत हलाकान है वहीं रूंगटा कालेज ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (आरसीईटी) के तीन बच्चों ने ऑनलाइन कैम्पस के जरिए बायजूस कंपनी में 10 लाख के पैकेज हासिल किए हैं। ऑनलाइन चयन प्रक्रिया में संतोष रूंगटा समूह के भिलाई एवं रायपुर में संचालित महाविद्यालयों के 290 बच्चों ने तीन अलग अलग चरणों में भाग लिया था। आरसीइटी में देश की नामी कंपनी बायजूस ने डिजिटल कैंपस के माध्यम से युवाओं को भागीदारी का मौका दिया। बायजूस बच्चों को ई लर्निंग प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराती है जिससे बच्चे अपनी पढ़ाई के साथ प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर सके। उक्त कंपनी ने श्रेष्ठता साबित करने वाली इंजीनियरिंग की छात्राएं अपूर्वा श्रीवास्तव, मेघना गूदला, प्रिया सिंह को जॉब ऑफ़र किया है। ज्ञात रहे कि छह महीने के अंदर आरसीइटी कैंपस में लगभग दर्जनभर कंपनियों ने कैंपस लगाकर युवाओं को रोजगार का लगातार मौका दे चुकी है।