Tag Archives: स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय

स्वरूपानंद महाविद्यालय में विश्व जल दिवस पर पोस्टर प्रतियोगिता

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppGoogle+Share

भिलाई। विश्व जल दिवस पर स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में प्राध्यापकों ने जल संरक्षण की शपथ लेते हुए पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया। प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला ने इस अवसर पर कहा कि जल है तो कल है, यदि हम जल का सही उपयोग करें तो आने वाले समय में हमें जल की कमी नहीं होगी, पृथ्वी के सत्तर प्रतिशत हिस्से में जल है किंतु 2.5 प्रतिशत जल ही शुद्ध है, अत: हमें जल के प्रदूषण को भी रोकना होगा।  महाविद्यालय के सभी शैक्षणिक एवं अशैक्षणिक स्टॉफ को शपथ दिलाते हुये डॉ हंसा शुक्ला ने कहा कि जल संरक्षण करेंगे एवं जल को व्यर्थ होने से रोकने के लिये लोगों को प्रेरित करेंगे।भिलाई। विश्व जल दिवस पर स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में प्राध्यापकों ने जल संरक्षण की शपथ लेते हुए पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया। प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला ने इस अवसर पर कहा कि जल है तो कल है, यदि हम जल का सही उपयोग करें तो आने वाले समय में हमें जल की कमी नहीं होगी, पृथ्वी के सत्तर प्रतिशत हिस्से में जल है किंतु 2.5 प्रतिशत जल ही शुद्ध है, अत: हमें जल के प्रदूषण को भी रोकना होगा। महाविद्यालय के सभी शैक्षणिक एवं अशैक्षणिक स्टॉफ को शपथ दिलाते हुये डॉ हंसा शुक्ला ने कहा कि जल संरक्षण करेंगे एवं जल को व्यर्थ होने से रोकने के लिये लोगों को प्रेरित करेंगे।

स्वरूपानंद महाविद्यालय में गोल मेज चर्चा का आयोजन

भिलाई। विश्व उपभोक्ता दिवस पर स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय हुडको, भिलाई में जागरूक उपभोक्ता विषय पर गोल मेज चर्चा का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला ने की एवं महाविद्यालय के सभी प्राध्यापकों ने अपने विचार प्रस्तुत किये। प्राचार्या डॉ. हंसा शुक्ला ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस भागती दौड़ती जिन्दगी में हम कुछ खास बातों की तरफ ध्यान देना छोड़ देते हैं जिससे हम कहीं न कहीं अपने मूल्य और अधिकारों को पीछे छोड़ देते हैं। आज के युग में उपभोक्ता को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होने की आवश्यकता है, जिससे उपभोक्ता अपने द्वारा भुगतान की गई राशि से सही सेवा और वस्तु प्राप्त कर सके।भिलाई। विश्व उपभोक्ता दिवस पर स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय हुडको, भिलाई में जागरूक उपभोक्ता विषय पर गोल मेज चर्चा का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला ने की एवं महाविद्यालय के सभी प्राध्यापकों ने अपने विचार प्रस्तुत किये। प्राचार्या डॉ. हंसा शुक्ला ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस भागती दौड़ती जिन्दगी में हम कुछ खास बातों की तरफ ध्यान देना छोड़ देते हैं जिससे हम कहीं न कहीं अपने मूल्य और अधिकारों को पीछे छोड़ देते हैं। आज के युग में उपभोक्ता को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होने की आवश्यकता है, जिससे उपभोक्ता अपने द्वारा भुगतान की गई राशि से सही सेवा और वस्तु प्राप्त कर सके।

स्वरूपानंद महाविद्यालय में उद्यमिता पर कार्यशाला, मिले टिप्स

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में आई.क्यू.ए.सी. सेल एवं प्रबंधन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में एमडीपी के तहत 'टोटल क्वालिटी मैनेजमेंट इन एमएसएमई (माईक्रो स्मॉल मीडियम इंटरप्राइज) विषय पर पंद्रह दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें उद्यमिता से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारियां प्रदान की गईं। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राजीव एस. प्रभारी डायरेक्टर एमएसएमई भारत सरकार रायपुर, विशेष अतिथि के रूप में सीएस मूंड अतिरिक्त अध्यक्ष एमएसएमई उपस्थित हुये।भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में आई.क्यू.ए.सी. सेल एवं प्रबंधन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में एमडीपी के तहत ‘टोटल क्वालिटी मैनेजमेंट इन एमएसएमई (माईक्रो स्मॉल मीडियम इंटरप्राइज) विषय पर पंद्रह दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें उद्यमिता से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारियां प्रदान की गईं। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राजीव एस. प्रभारी डायरेक्टर एमएसएमई भारत सरकार रायपुर, विशेष अतिथि के रूप में सीएस मूंड अतिरिक्त अध्यक्ष एमएसएमई उपस्थित हुये।

स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में महिला दिवस का आयोजन

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय हुडको में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में बी.एड. विभाग एवं प्रबंधन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में निबंध एवं स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्देश्य विद्यार्थियों को महिला सशक्तिकरण के प्रति जागरूक करना था। कार्यक्रम की संयोजिका डॉ. श्रीमती वी.सुजाता प्रो. शिक्षा विभाग एवं श्रीमती आरती गुप्ता विभागाध्यक्ष प्रबंधन थीं।भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय हुडको में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में बी.एड. विभाग एवं प्रबंधन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में निबंध एवं स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्देश्य विद्यार्थियों को महिला सशक्तिकरण के प्रति जागरूक करना था। कार्यक्रम की संयोजिका डॉ. श्रीमती वी.सुजाता प्रो. शिक्षा विभाग एवं श्रीमती आरती गुप्ता विभागाध्यक्ष प्रबंधन थीं।

स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में मनाया गया पुस्तक वाचन दिवस

भिलाई। विद्यार्थियों को पुस्तककालय की ओर आकर्षित करने के उद्देश्य से स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में पुस्तक वाचन दिवस का आयोजन किया गया। ग्रंथपाल श्रीमती वनिता महाले ने बताया साहित्य, अभिप्रेरक, सामान्य ज्ञान, समसमायिक घटना चक्र छ.ग. साहित्य व संस्कृति आदि से संबंधित पुस्तकों को डिसप्ले किया गया। जिससे विद्यार्थी प्राध्यापक आमंत्रित स्टेक होल्डर विषय के अतिरिक्त दूसरी पुस्तकें पढ़े व ग्रंथालय में ज्यादा समय व्यतीत करने का आदत डालें। भिलाई। विद्यार्थियों को पुस्तककालय की ओर आकर्षित करने के उद्देश्य से स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में पुस्तक वाचन दिवस का आयोजन किया गया। ग्रंथपाल श्रीमती वनिता महाले ने बताया साहित्य, अभिप्रेरक, सामान्य ज्ञान, समसमायिक घटना चक्र छ.ग. साहित्य व संस्कृति आदि से संबंधित पुस्तकों को डिसप्ले किया गया। जिससे विद्यार्थी प्राध्यापक आमंत्रित स्टेक होल्डर विषय के अतिरिक्त दूसरी पुस्तकें पढ़े व ग्रंथालय में ज्यादा समय व्यतीत करने का आदत डालें। 

स्वरुपानंद सरस्वती महाविद्यालय ने गढ़े कई कीर्तिमान

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय ने अपनी स्थापना के 12 वर्ष पूर्ण कर लिए हैं। एक दशक से भी अधिक इस दौर में महाविद्यालय ने अपनी जगह बना ली है और कई कीर्तिमान भी स्थापित किए हैं। जारी सत्र में महाविद्यालय ने तीन राष्ट्रीय संगोष्ठी, एक राष्ट्रीय पत्र लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया। छात्र शशांक चन्द्राकर का चयन रणजीत सिंह ट्रॉफी के लिए हुआ। प्लेसमेंट कैम्प में 80 विद्यार्थियों को डिग्री से पहले नौकरी मिल गई।भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय ने अपनी स्थापना के 12 वर्ष पूर्ण कर लिए हैं। एक दशक से भी अधिक इस दौर में महाविद्यालय ने अपनी जगह बना ली है और कई कीर्तिमान भी स्थापित किए हैं। जारी सत्र में महाविद्यालय ने तीन राष्ट्रीय संगोष्ठी, एक राष्ट्रीय पत्र लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया। छात्र शशांक चन्द्राकर का चयन रणजीत सिंह ट्रॉफी के लिए हुआ। प्लेसमेंट कैम्प में 80 विद्यार्थियों को डिग्री से पहले नौकरी मिल गई।

स्वरुपानंद सरस्वती महाविद्यालय एनएसएस ने लगाया सामुदायिक शिविर

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय के एनएसएस छात्रों द्वारा सात दिवसीय सामुदायिक शिविर का आयोजन ग्राम मोहलई में किया गया। एनएसएस प्रभारी दीपक सिंह ने शिविर के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा आज के दौर में कैशलैस लेनदेन का चलन है उसका प्रशिक्षण देना, आधार कार्ड को स्मार्ट कार्ड से लिंक कराना, स्कूली छात्र-छात्राओं को कम्प्यूटर तकनीक व उसके उपयोग की जानकारी देना, स्वच्छता अभियान से ग्रामीणों को जोडऩा व भ्रूण हत्या के प्रति लोगों को सचेत करने के अतिरिक्त ग्रामवासियों को शिक्षा व स्वास्थ्य आदि के प्रति सचेत करना ही शिविर का उद्देश्य है।भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय के एनएसएस छात्रों द्वारा सात दिवसीय सामुदायिक शिविर का आयोजन ग्राम मोहलई में किया गया। एनएसएस प्रभारी दीपक सिंह ने शिविर के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा आज के दौर में कैशलैस लेनदेन का चलन है उसका प्रशिक्षण देना, आधार कार्ड को स्मार्ट कार्ड से लिंक कराना, स्कूली छात्र-छात्राओं को कम्प्यूटर तकनीक व उसके उपयोग की जानकारी देना, स्वच्छता अभियान से ग्रामीणों को जोडऩा व भ्रूण हत्या के प्रति लोगों को सचेत करने के अतिरिक्त ग्रामवासियों को शिक्षा व स्वास्थ्य आदि के प्रति सचेत करना ही शिविर का उद्देश्य है।

स्वरुपानंद सरस्वती महाविद्यालय में भौतिक शास्त्र के वर्किंग मॉडल प्रदर्शनी

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में भौतिक शास्त्र विभाग द्वारा साईंस एक्जीबिशन का आयोजन किया गया। जिसमें विद्यार्थियों ने साईंस से आधारित वर्किंग मॉडल का प्रदर्शन किया। कार्यक्रम में निर्णायक के रूप में डॉ. जगजीत कौर प्रो. भौतिक शास्त्र विश्वनाथ यादव तामस्कर महाविद्यालय, स.प्रा. डॉ. अभिषेक मिश्रा भौतिक शास्त्र विश्वनाथ यादव तामस्कर महाविद्यालय, दुर्ग थीं। कार्यक्रम की संयोजिका स.प्रा. टी बबीता एवं स.प्रा. वर्षा चक्रवर्ती थीं।भिलाई। स्वामी श्री स्वरुपानंद सरस्वती महाविद्यालय में भौतिक शास्त्र विभाग द्वारा साईंस एक्जीबिशन का आयोजन किया गया। जिसमें विद्यार्थियों ने साईंस से आधारित वर्किंग मॉडल का प्रदर्शन किया। कार्यक्रम में निर्णायक के रूप में डॉ. जगजीत कौर प्रो. भौतिक शास्त्र विश्वनाथ यादव तामस्कर महाविद्यालय, स.प्रा. डॉ. अभिषेक मिश्रा भौतिक शास्त्र विश्वनाथ यादव तामस्कर महाविद्यालय, दुर्ग थीं। कार्यक्रम की संयोजिका स.प्रा. टी बबीता एवं स.प्रा. वर्षा चक्रवर्ती थीं।

स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय के बच्चों ने किया वोटर आईडी के लिए आवेदन

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय हुडको, भिलाई में स्वीप कार्यक्रम 2017 के अंतर्गत महाविद्यालय परिसर में विद्यार्थियों के मतदाता परिचय पत्र बनवाने हेतु नगर निगम, भिलाई के सहयोग से एक दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया जिसमें युवराज साहू, कमल ठाकुर, राहुल भोसले, कैलाश निहाल के सहयोग से सौ से अधिक विद्यार्थियों को फॉर्म 6 का वितरण किया गया तथा चालिस से अधिक विद्यार्थियों ने सारी औपचारिकताओं को पूरा करके फॉर्म जमा कराया।भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय हुडको, भिलाई में स्वीप कार्यक्रम 2017 के अंतर्गत महाविद्यालय परिसर में विद्यार्थियों के मतदाता परिचय पत्र बनवाने हेतु नगर निगम, भिलाई के सहयोग से एक दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया जिसमें युवराज साहू, कमल ठाकुर, राहुल भोसले, कैलाश निहाल के सहयोग से सौ से अधिक विद्यार्थियों को फॉर्म 6 का वितरण किया गया तथा चालिस से अधिक विद्यार्थियों ने सारी औपचारिकताओं को पूरा करके फॉर्म जमा कराया।

स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में दीनदयाल पर प्रश्नोत्तरी

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपांनद सरस्वती महाविद्यालय में शिक्षा विभाग द्वारा पं. दीनदयाल उपाध्याय के सौ वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में त्वरीत प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें सभी विभागों के 113 प्रतिभागियों की सहभागिता रही। पं.दीनदयाल जी के जीवन के विभिन्न पहलुओं पर आधारित तीस बहुविकल्पीय प्रश्न दिये गये। प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला एवं शिक्षा विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. श्रीमती पूनम निकुंभ ने कार्यक्रम की सराहना करते हुये विद्यार्थियों को बधाई दी।भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में शिक्षा विभाग द्वारा पं. दीनदयाल उपाध्याय के सौ वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में त्वरीत प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें सभी विभागों के 113 प्रतिभागियों की सहभागिता रही। पं.दीनदयाल जी के जीवन के विभिन्न पहलुओं पर आधारित तीस बहुविकल्पीय प्रश्न दिये गये। प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला एवं शिक्षा विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. श्रीमती पूनम निकुंभ ने कार्यक्रम की सराहना करते हुये विद्यार्थियों को बधाई दी।

स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में दीनदयाल पर प्रश्नोत्तरी

भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपांनद सरस्वती महाविद्यालय में शिक्षा विभाग द्वारा पं. दीनदयाल उपाध्याय के सौ वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में त्वरीत प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें सभी विभागों के 113 प्रतिभागियों की सहभागिता रही। पं.दीनदयाल जी के जीवन के विभिन्न पहलुओं पर आधारित तीस बहुविकल्पीय प्रश्न दिये गये। प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला एवं शिक्षा विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. श्रीमती पूनम निकुंभ ने कार्यक्रम की सराहना करते हुये विद्यार्थियों को बधाई दी।भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में शिक्षा विभाग द्वारा पं. दीनदयाल उपाध्याय के सौ वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में त्वरीत प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें सभी विभागों के 113 प्रतिभागियों की सहभागिता रही। पं.दीनदयाल जी के जीवन के विभिन्न पहलुओं पर आधारित तीस बहुविकल्पीय प्रश्न दिये गये। प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला एवं शिक्षा विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. श्रीमती पूनम निकुंभ ने कार्यक्रम की सराहना करते हुये विद्यार्थियों को बधाई दी।

स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में महिला संगोष्ठी : छत्तीसगढ़ स्वर्ग, घूंघट-दहेज जैसी कुरीतियां नहीं

स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में महिला संगोष्ठी का आयोजन भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में महिला प्रकोष्ठ द्वारा भारतीय महिला कल और आज विषय पर एक दिवसीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की मुख्य वक्ता डॉ. प्रेरणा मल्होत्रा, रामलाल आनंद महाविद्यालय, दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली थीं। उन्होंने कहा कि यहां की महिलाएं खुशकिस्मत हैं। यहां महिला-पुरुष अनुपात बेहतर है। घूंघट और दहेज जैसी कुरीतियां नहीं हैं। स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में महिला संगोष्ठी का आयोजन : भिलाई। स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में महिला प्रकोष्ठ द्वारा भारतीय महिला कल और आज विषय पर एक दिवसीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की मुख्य वक्ता डॉ. प्रेरणा मल्होत्रा, रामलाल आनंद महाविद्यालय, दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली थीं। उन्होंने कहा कि यहां की महिलाएं खुशकिस्मत हैं। यहां महिला-पुरुष अनुपात बेहतर है। घूंघट और दहेज जैसी कुरीतियां नहीं हैं।

पोषण दिवस पर स्वरुपानंद महाविद्यालय में स्वास्थ्य शिविर

भिलाई। विश्व पोषण दिवस पर स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में आईक्यूएसी सेल द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन हर्बल इंडिया के सौजन्य से किया गया। ऐश्वर्य सिंग ठाकुर, श्रीमती लक्की विश्वकर्मा, श्रीमती संगीता मिश्रा और श्रीमती विद्या ठाकुर ने स्टाफ एवं विद्यार्थियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया।भिलाई। विश्व पोषण दिवस पर स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय में आईक्यूएसी सेल द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन हर्बल इंडिया के सौजन्य से किया गया। ऐश्वर्य सिंग ठाकुर, श्रीमती लक्की विश्वकर्मा, श्रीमती संगीता मिश्रा और श्रीमती विद्या ठाकुर ने स्टाफ एवं विद्यार्थियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। मुख्य वक्ता ऐश्वर्य सिंग ठाकुर ने बताया कि लोग गलत खान पान की वजह से ज्यादा बीमार हो रहे है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के सर्वे के अनुसार 70 प्रतिशत आबादी गलत जीवन शैली और असंतुलित भोजन के कारण बीमार हो रहे है। उन्होंने दैनिक जीवन में सही पोशण-संतुलित भोजन और व्यायाम को स्थान देने की बात कही। अध्यात्मिक, मानसिक, षारीरिक और सामाजिक स्तर पर स्वास्थ्य के विभिन्न टीप दिये।

स्वरुपानंद महाविद्यालय के 9 विद्यार्थी प्रावीण्य सूची में

भिलाई। पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, रायपुर द्वारा बीसीए, एमएससी, बीबीए आदि की प्रावीण्य सूची जारी की गई, जिसमें स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालयके 9 विद्यार्थियों ने अपना नाम दर्ज किया। एम.एस.सी. कम्प्यूटर साइंस में प्रथम आने वाली कु. पूजा शर्मा ने बताया शिक्षकों के कुशल मार्गदर्शन के कारण ही वह प्रावीण्य सूची में स्थान बना पायी। एमएससी कप्यूटर साइंस से ही शमा नूर ने तृतीय, सरिता साहू पांचवा, सोनिया खत्री ने नवां स्थान प्राप्त किया व बी.सी.ए. तृतीय वर्ष शालिनी शर्मा ने पांचवा स्थान बनाया। एमएससी माइक्रोबायोलॉजी से जुबेरिया नाज ने 6वां व सुरभी वैद्य ने 10वां स्थान प्राप्त किया। भिलाई। पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, रायपुर द्वारा बीसीए, एमएससी, बीबीए आदि की प्रावीण्य सूची जारी की गई, जिसमें स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालयके 9 विद्यार्थियों ने अपना नाम दर्ज किया। एम.एस.सी. कम्प्यूटर साइंस में प्रथम आने वाली कु. पूजा शर्मा ने बताया शिक्षकों के कुशल मार्गदर्शन के कारण ही वह प्रावीण्य सूची में स्थान बना पायी। एमएससी कप्यूटर साइंस से ही शमा नूर ने तृतीय, सरिता साहू पांचवा, सोनिया खत्री ने नवां स्थान प्राप्त किया व बी.सी.ए. तृतीय वर्ष शालिनी शर्मा ने पांचवा स्थान बनाया। एमएससी माइक्रोबायोलॉजी से जुबेरिया नाज ने 6वां व सुरभी वैद्य ने 10वां स्थान प्राप्त किया।