नए नाम के साथ दिसम्बर से फिर शुरू होगी ‘तफरीह’; महापौर ने बुलाई बैठक

TAFREE The Health Carnival to be resumed from December

भिलाई। सेन्ट्रल एवेन्यू पर धूम मचाने वाली ‘तफरीह’ एक बार फिर प्रारंभ होने जा रही है। महापौर एवं विधायक देवेन्द्र यादव की यह महत्वाकांक्षी योजना उस समय खूब लोकप्रिय हुई थी और लोग यहां खेल-कूद, कसरत, गीत संगीत से लेकर लोगों से मिलने जुलने का खूब लुत्फ उठाया करते थे। श्री यादव ने आज इस सिलसिले में बैठक कर इसे दिसम्बर में फिर से प्रारंभ करने का प्रस्ताव दिया जिसे सभी ने खुशी से स्वीकार किया। अपने नए संस्करण में इसे ‘तफरी द हेल्थ कार्निवाल’ का नाम दिया गया है।Bhilai TAFREE Bhilai-Durgइस अनूठे कार्यक्रम की भिलाई ही नहीं बल्कि देशभर में प्रशंसा हुई थी, यहां तक की इस कार्यक्रम की तारिफ करते हुए विदेशियों ने अपने देश में भी तफरीह की शुरूआत की है। इसे और बेहतर बनाने महापौर देवेन्द्र यादव ने आज बैठक लेकर तैयारियों का जायजा लिया।
तफरीह के मंच से खेल कूद, साईक्लीनिंग, योगा, रनिंग में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया जाएगा। तफरीह टीम के मुताबिक इस बार तफरीह में ऐसा माहौल होगा कि शहर के नागरिक परिवार सहित शामिल हो सकेंगे। छत्तीसगढ़ी संस्कृति को बढ़ावा देने के साथ ही स्थानीय कलाकारों को मंच दिया जाएगा।
हंसी मजाक और खेल के माध्यम से दौड़, साइक्लिंग, योगा, जूंबा के जरिए स्वास्थ्य दूरूस्त करने तफरीह के एक बेहतर माध्यम है। पिछली बार इस साप्तिाहिक कार्यक्रम को लेकर शहर के युवाओं को नागरिकों में जबरदस्त उत्साह नजर आया। लोग बड़ी संख्या में सुबह सुबह सेन्ट्रल एवेन्यू में परिवार व दोस्तो के साथ पहुंचकर स्वास्थ्य जांच, जीमिंग संगीत की धुनों के साथ व्यायाम करते थे।
बैठक में कार्यक्रम के आयोजकों ने बताया कि इस बार नाम को थोड़ा परिर्वतन करते हुए ‘तफरी द हेल्थ कार्निवाल’ नाम दिया गया है। दिसंबर के पहले सप्ताह में तफरीह फिर से शुरू हो जाएगी। इसके लिए प्रचार प्रसार सामग्री, खेल कूद से संबंधित तैयारियां अंतिम चरणों में है। ‘तफरी द हेल्थ कानिर्वाल’ में हेल्थ केम्प, रनिंग, जूडो- कराटे, योगा, स्केटिंग, झूला हूप, जूंबा, साईक्लिंग, जीमिंग सहित विभिन्न खेल आयोजन होंगे। इस बार तफरीह में छत्तीसगढ़ी संस्कृति को बढ़ावा देने तथा स्थानीय कलाकारों को भी आगे बढ़ाने मंच दिया जाना है जिस पर तैयारी चल रही है।

Google GmailTwitterFacebookWhatsAppShare

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>