विषम परिस्थितयों में शिक्षकों ने निभाई अहम भूमिका – डॉ आरएन सिंह

Republic Day celebrated in Science Collegeदुर्ग। शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग में गणतंत्र दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण किया गया। ध्वजारोहण के पश्चात् महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ आर.एन. सिंह ने शिक्षकों की प्रशंसा करते हुए कहा कि कोविड-19 के विषम परिस्थितियों में हमारे शिक्षकों ने नई तकनीकों का उपयोग करके छात्रों के ज्ञानवर्धन में अहम भूमिका निभायी है। उन्होंने कहा कि आज के इस कठिन समय में युवा पीढ़ी को सही मार्गदर्शन में शिक्षकों की अहम भूमिका है। शिक्षक ही युवा पीढ़ी को मनोविकारों से निकालकर विकास की राह पर अग्रसर कर सकते है। शिक्षा का अर्थ कक्षा में पढ़ाना या पढ़ाई हेतु नई तकनीकों का उपयोग करना ही नही अपितु नैतिक मूल्यों से युवाओं को सुसज्जित करना ही सही मायने में शिक्षा है, जो कि एक स्वस्थ्य समाज के विकास के लिए आवष्यक है। उन्होंने हर्ष व्यक्त किया कि यह महाविद्यालय राज्य में उत्कृष्ट महाविद्यालय है और इसकी प्रतिष्ठा बनाये रखने हेतु यहां के अधिकारी, कर्मचारी सत्त रूप से क्रियाशील है।
इस अवसर पर महाविद्यालय के भूतपूर्व छात्र चन्द्रहास शर्मा, केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल एनटीपीसी सीपत को गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा उत्कृष्ट सेवा पदक हेतु चयनित किये जाने एवं महाविद्यालय की श्रुति शास्त्री एन.सी.सी. कैडेट्स मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ डायरेक्ट्रेट का चयन गणतंत्र दिवस परेड 2021 के लिए गार्ड ऑफ ऑनर के परेड कमांडर के रूप में चयनित होने पर महाविद्यालय ने इन्हें बहुत-बहुत बधाई दी।
महाविद्यालय परिवार ने महाविद्यालय के भूतपूर्व छात्र शहीद थानसिंह ठाकुर एवं शहीद महेन्द्र प्रताप सिंह यादव की नक्सली मुठभेड़ में शहादत पर पुष्प अर्पित कर अपनी श्रध्दांजलि व्यक्त की। ध्वजारोहरण समारोह में सभी अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *